Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शनिवार, 18 मई 2019

प्रेगनेंसी में गन्ने का जूस पीना लाभदायक या नुकसानदायक



नमस्कार दोस्तों आज के इस POST में हम चर्चा करने वाले हैं कि प्रेग्नेंट महिलाओं को गन्ने का जूस पीना चाहिए कि नहीं पीना चाहिए इस संदर्भ में हम आपको बताएंगे कि गन्ने के अंदर कौन कौन से पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं साथ ही साथ चर्चा करेंगे कि
गन्ने के जूस पीने से क्या-क्या फायदा होता है
किस अवस्था में नुकसान हो सकता है
और कब कब गन्ने का जूस नहीं पीना चाहिए 

You May Also Like : स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने के लिए ट्राई करें ये 3 घरेलू नुस्खे
इन सब बातों को जानकर आप बड़ी आसानी से इस बात का आइडिया लगा सकते हैं कि गन्ने के जूस को आपको पीना है या नहीं पीना है।
दोस्तों गन्ने का जूस बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट होता है ज्यादातर महिलाओं का प्रेग्नेंसी के समय हारमोंस परिवर्तन होने की वजह से मुंह का स्वाद खराब रहता है ऐसे में गन्ने के जूस का स्वादिष्ट स्वाद महिलाओं को काफी पसंद आ सकता है।

उत्तर भारत में गन्ने का गन्ने की पैदावार बहुत बड़ी मात्रा में होती है और उत्तर भारत के अंदर गन्ने का जूस बहुतायत में पाया भी जाता है ऐसे में गर्भवती महिला के लिए यह जूस कितना फायदेमंद है इस पर चर्चा कर लेते हैं।

गन्ने का रस पौष्टिक हैं व यह किफ़ायती भी हैं और इसमें आवश्यक पौष्टिक तत्व जैसे कि विटामिन ए, बी1, बी2, बी 3, बी5, बी6, सी, एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन और फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है। प्रत्येक 100 मिलीलीटर गन्ने के रस में निम्न मात्रा में पौष्टिक तत्व व्याप्त होते हैं:
ऊर्जा - 39 कैलोरी
कार्बोहाइड्रेट - 9 ग्राम
वसा - 0 ग्राम
प्रोटीन - 0 ग्राम
कैल्शियम - 10 ग्राम


एनर्जी का भंडार
गन्ने का जूस बहुत ज्यादा एनर्जीटिक होता है अगर इसका प्रयोग महिला प्रेग्नेंसी के समय करती है तो उसे तुरंत एनर्जी मिलती है थकावट महसूस नहीं होती है तरोताजा की बनी रहती है।

You May Also Like : स्तनपान कराने से माँ को होने वाले लाभ
You May Also Like : स्तनपान से शिशु को होने वाले लाभ - Breast Feeding BenefitsBaby Care



बच्चे के लिए लाभदायक
गन्ने के जूस में मौजूद कैल्शियम बच्चे के मस्तिष्क और हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है।

पानी की कमी को दूर करें
गन्ने का जूस महिला को पानी की कमी दूर करने में मदद करता है कभी कभी महिलाओं को प्रेग्नेंसी के समय अधिक पानी पीने की इच्छा नहीं होती है ऐसे में स्वादिष्ट गन्ने का जूस पानी की कमी को दूर करने में मदद करता है शरीर को हाइड्रेट रखता है
ganne ka juice

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन
गर्भावस्था के दौरान जलन और सूजन को कम करने के लिए गन्ने का रस, नींबू पानी, नारियल पानी के साथ पीने से बहुत फ़ायदा होता है और यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन से राहत मिलती है।

मॉर्निंग सिकनेस
महिलाओं को मॉर्निंग सिकनेस की समस्या प्रेगनेंसी के शुरू के 3 महीनों में काफी ज्यादा देखने में आती है ऐसे में अगर महिला गन्ने के जूस का सेवन रोजाना करती है तो उसे इस समस्या से आराम मिलता है क्योंकि गन्ने का जूस काफी ऊर्जावान होता है बस गन्ने के जूस में थोड़ा सा अदरक भी जरूर मिला लें।
इम्यूनिटी सिस्टम
गन्ने का जूस महिला की प्रतिरोधक क्षमता को रक्षा तंत्र को, प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करता है जिससे किसी भी प्रकार के संक्रमण से महिला और महिला के बच्चे की रक्षा होती है।

पाचन-क्रिया बढ़ाना और कब्ज़ से राहत गन्ने के जूस के अनेकों फ़ायदों के बीच इसका सबसे अधिक लाभ पाचन-तंत्र को होता है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के बीच कब्ज की समस्या आम होती है। गन्ने के जूस में पाया जाने वाला पोटैशियम कब्ज की समस्या को दूर करता है और पाचन-क्रिया बढ़ाता है। इससे पेट से संबंधी कोई भी संभावित संक्रमण भी दूर रहता है।
raw sugar cane juice

सूजन करें कम
गन्ने का जूस शरीर में किसी भी प्रकार की सूजन को कम करने में काफी मदद करता है हाथ-पैर आदि की सुजन को ठीक करने में मदद करता है ।

कम ग्लाइसेमिक हम सभी जानते हैं गन्ना बहुत ज्यादा मीठा होता है लेकिन इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है इस कारण यह मीठा होते हुए भी शुगर में नुकसान नहीं देता है, अगर प्रेग्नेंसी के समय महिला को डायबिटीज की शिकायत है और उसे मीठा खाने का मन कर रहा है तो गन्ने का जूस एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है, साथ ही साथ यहां शुगर लेवल को भी कंट्रोल करने में मदद करेगा
लीवर को मजबूत करें
गन्ने के रस में मौजूद प्राकृतिक तत्व लीवर को ताकत प्रदान करते हैं, जिसके कारण शरीर में टॉक्सिक एलिमेंट का स्तर कम होता जाता है।

प्रोटीन से भरपूरएमिनो एसिड आपके और आपके शिशु की कोशिकाओं का मूलभूत अंग है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान शिशु की वृद्धि और विकास के लिए प्रोटीन आवश्यक होता है। गर्भावस्था के दौरान गन्ने का जूस पीने से आपके शरीर में पौष्टिक तत्वों की मात्रा पूरी होती है।

You May Also Like : प्रेग्नेंसी के समय महिला का कमरा कैसा हो जानिए - 7 #2
कई रोगों में फायदेमंद
गन्ने का रस में ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और कम वसा युक्त होने के कारण, किडनी की बीमारी से पीड़ित मरीजों को डॉक्टर हमेशा गन्ने के जूस को पीने की सलाह देता है। क्योंकि गन्ने का रस किडनी के लिए लाभदायक होता है। नुकसान खराब कोलेस्ट्रॉल कम होने की गुण के कारण यह ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखेगा और साथ ही साथ दिल को भी मजबूत रखेगा, प्रेग्नेंट महिला को बहुत लाभ मिलेगा।


You May Also Like : ये चीज़े प्रेग्नेंट महिला के घर या कमरे में नहीं होनी चाहिए
is sugarcane juice healthy

नुकसान

गन्ने का जूस मुख्यतः बाजार से ही लाया जाता है अधिक मीठा होने के कारण इस पर कीड़े मकोड़े और मक्खियां बहुत बैठने की कोशिश करती हैं, तो ऐसे में गन्ने के जूस का संक्रमित होना थोड़ा सा ज्यादा आसान होता है साथ ही साथ खुले में गन्ने का जूस निकाला जाता है जिसकी वजह से यह थोड़ा सा कम सुरक्षित माना जाता है।
इससे संक्रमण होने का खतरा बना रहता है ऐसी दुकानों का जूस पीने से उल्टी दस्त पेट दर्द की समस्या हो सकती है।
थोड़ा सा एक बात और है जिसका ध्यान आप रखें गन्ने के जूस को निकालने की मशीनों में एक विशेष प्रकार के तेल का इस्तेमाल किया जाता है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है आप इस बात को सुनिश्चित करें कि जो जूस आप पी  रहे हो उसके अंदर किसी भी प्रकार से वह तेल ना मिल गया हो ऐसे में गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती है                

जानिए कब ना पिएं गन्ने का रस-
– अक्सर जहां से आप गन्ने का रस लेते हैं वहां गन्नों की गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया जाता। रास्तों में खड़ी किसी भी दुकान से गन्ने का जूस न पीयें, इससे संक्रमण होने का खतरा होता है। ऐसी दुकानों से गन्ने का रस पीने से पेट में दर्द आदि समस्या भी हो सकती है।

– यदि संभव है तो गन्ने का जूस बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले गन्नों पर अवश्य नजर दौड़ाएं। कहीं आपको सड़े गन्ने का रस तो नहीं दिया जा रहा। यह पेट में बीमारी पैदा कर सकता है।
– गन्ने का जूस पीते वक्त दुकान की साफ सफाई का ध्यान रखें। कहीं दुकान में बहुत ज्यादा मक्खियां हुई तो ऐसी दुकानों से गन्ने का जूस पीने से बचें।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें