Header Ads

Research Report : चाहती हैं लेट न हो प्रेगनेंसी, तो इस एक चीज को खाने से बचें

नमस्कार दोस्तों हम सभी जानते हैं कि मां बनना हर महिला का एक सपना होता है और मां बनने के बाद ही महिलाओं को पूर्ण भी माना जाता है ऐसे में अगर महिलाएं मां बनने की कोशिश कर रही है और वह नहीं बन पा रही हैं तो यह एक बड़ी ही दुखद बात होती है आज के इस वीडियो में हम चर्चा करने वाले हैं कि अगर महिलाएं मां बनना चाह रही है और वह नहीं चाहती हैं कि प्रेगनेंसी लेट हो तो उन्हें इस एक चीज को खाना छोड़ना होगा जिसके विषय में हम अपने इस POST के माध्यम से चर्चा करने जा रहे हैं.





दोस्तों आज की लाइफ बहुत ही ज्यादा फास्ट हो गई है पति और पत्नी दोनों ही वर्किंग होते हैं किसी के पास भी टाइम नहीं होता है ऐसे में अपने भोज्य पदार्थ की रिक्वायरमेंट को पूरा करने के लिए जाने अनजाने में दंपत्ति फास्ट फूड की ओर रुख कर लेते हैं.


Pregnancy ke Lia Junk Food Nuksandayak

एक नई रिसर्च में सामने आया है कि जो महिलाएं जंक फूड का ज्यादा इस्तेमाल करती हैं वो देर से प्रेगनेंट होती हैं। शोध में पाया गया कि जो महिलाएं पिज्जा और बर्गर जैसै फास्ट फूड का सेवन हफ्ते में चार बार से अधिक करती हैं, उन्हें प्रेगनेंट होने में उन महिलाओं के मुकाबले एक महीने का ज्यादा समय लगा जो कभी-कभार फास्ट फूड का सेवन करती हैं.



ऑस्ट्रेलिया की एडिलेड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर क्लेयर्स रॉबर्स के अनुसार, जो महिलाएं ताजा बना हुआ खाना और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन का इस्तेमाल करती है, वो ज्यादा फिट होती हैं, ऐसी महिलाओं में आवश्यक पोषक तत्व की कमी नहीं हो पाती है जिसकी वजह से उन्हें प्रेग्नेंट होने में भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है हेल्दी फूड खाने से महिलाओं की फर्टिलिटी कैपेसिटी में भी वृद्धि होती है.
डॉक्टर के अनुसार महिलाओं को जब वह प्रेगनेंट होने की सोच ही रही होती है तो प्रेग्नेंट होने से कम से कम 4 से 5 महीने पहले से ही महिलाओं को अपनी डाइट में बदलाव कर देना चाहिए बल्कि पुरुषों को भी हेल्दी डाइट लेनी चाहिए. शोध के दौरान 5,600 महिलाओं को शामिल किया गया था जो पहली बार मां बनने वाली थीं। शोध में सामने आया कि जिन महिलाओं ने लगातार फास्ट फूड का सेवन किया, उन्हें प्रेगनेंट होने में ज्यादा समय लगा.







जिन खाद्य पदार्थों में जिंक और फॉलिक एसिड की मात्रा प्रचुर होती है, उनके सेवन से गर्भधारण की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है। हरी पत्तेदार सब्जियों, बीन्स, मछली और नट्स में ये तत्व पाए जाते हैं.


प्रेगनेंसी में फॉलिक एसिड जरूर खाएं
विटामिन, मिनरल और अन्य पोषक तत्वों के साथ ही फॉलिक एसिड और आयरन लेना सबसे ज्यादा जरूरी हो जाता है.  फॉलिक एसिड की पूर्ति के लिए गर्भवती महिला को हरी पत्तेदार सब्जियां, स्ट्रॉबेरी, फलियों, संतरे, मौसमी और सलाद का सेवन करना चाहिए. गर्भावस्था में फॉलिक एसिड की कमी से बच्चे की रीढ़ की हड्डी में विकार उत्पन्न हो सकते हैं. साथ ही मस्तिष्क के सामान्य विकास पर भी असर पड़ सकता है.


No comments

Powered by Blogger.