Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शनिवार, 20 जुलाई 2019

क्या गर्भावस्था में पास्ता खाना चाहिए

नमस्कार दोस्तों प्रेगनेंसी टॉपिक पर आजम एक POST लेकर फिर से आपके सामने हैं दोस्तों हम सभी जानते हैं कि खाने-पीने का प्रेगनेंसी में बहुत ज्यादा ध्यान रखा जाता है और मार्केट में आजकल ऐसे ऐसे फास्ट फूड आ रहे हैं जो बहुत ज्यादा टेस्टी होते हैं और हम ने आजमाया है कि इस प्रकार के फास्ट फूड की एक प्रकार से लत लग जाती है हर दूसरे तीसरे दिन उन्हें खाने का मन करता है लेकिन क्या वह स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से भी उतने ही फायदेमंद होते हैं.

food for pregnant women


You May Also Like : प्रेगनेंसी के समय गर्भवती मां को खाने चाहिये ये बीज
You May Also Like : गर्भावस्था में अनार खाने के क्या फायदे है

और अगर बात प्रेगनेंसी की आती है तो क्या उन्हें खाना चाहिए दोस्तों है ऐसे ही एक फास्ट फूड जिसे हम पास्ता कहते हैं क्या उसे प्रेगनेंसी में खाया जा सकता है उसकी क्या न्यूट्रिशन वैल्यू होती है उसे खाने से किस प्रकार के लाभ और प्रकार की हानि होती है इस पर चर्चा करेंगे आजकल दोस्तों पास्ता कई प्रकार से बनता है जैसे कि सूप पास्ता चीज पस्ता इत्यादि । लेकिन सवाल यह उठता है कि क्‍या पास्‍ता, गर्भवती महिलाओं के लिए लाभकारी होता है। दोस्तों पास्ता मार्केट में कई प्रकार के वेराइटी में उपलब्ध है - व्‍हाइट पास्‍ता और ब्राउन पास्‍ता। इनमें काफी अच्‍छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है, और साथ ही साथ विटामिन ए और विटामिन बी भी भरपूर मात्रा में होते है, साथ ही साथ इसमें फॉलिक एसिड भी होता है।

अगर पास्ता खाने की इतनी ज्यादा इच्छा हो ही रही है तो घर पर बना ही पास्ता खाना चाहिए चाहिए, मार्केट में बिकने वाले पास्‍ता में प्रीजर्वेटिव होता है इन प्रीजर्वेटिव में पड़े केमिकल गर्भवती महिला और उसके शिशु के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं । गर्भावस्‍था हर महिला के लिए खास समय होता है इस दौरान उसे खासी सावधानी बरतने की जरूरत है। पास्ता को लेकर हम यहां डिस्कशन कर रहे हैं जिन्हें जानकर आप स्वयं ही इस बात का आइडिया ले सकते हैं कि पास्ता गर्भवती महिलाओं  खाना को चाहिए कि नहीं खाना चाहिए.


1) एलर्जी 
पास्ता मैदे से बनता है और मैदा गेहूं से तो हम जान सकते हैं कि यह नुकसानदायक नहीं होता है लेकिन अगर किसी व्यक्ति को या महिला को मैदे से एलर्जी है तो उसे पास्ता नहीं खाना चाहिए. इससे आपको दिक्‍कत हो सकती है और काफी समस्‍या भी हो सकती है.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में नारियल पानी का फायदा
You May Also Like : प्रेगनेंसी में तरबूज खाने के फायदे


healthy food for pregnancy, healthy food during pregnancy


2) ब्‍लड़ सुगर बढ़ना 
पास्ता के अंदर कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो कि शरीर की ब्लड शुगर को बढ़ा देता है. जिन महिलाओं को डायबटीज की समस्‍या है उन्हें पास्‍ता का सेवन गर्भावस्था में भूलकर भी नहीं करना चाहिए.

You May Also Like : पुत्र प्राप्ति में स्वर विज्ञान का योगदान
You May Also Like : घर पर टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी कैसे चेक करें


3) गैस्ट्रिक प्रॉब्लम 
जैसा कि हमने अभी बताया था कि पास्ता कैसे बनता है इसी कारण इसके अंदर फाइबर उचित मात्रा में नहीं होता है, यह ऑतो में जाकर चिपक जाता है ऐसे में इसके सेवन से गैस की समस्‍या हो जाती है और कई बार तो उल्‍टी और मतली की समस्या हो जाती है.  अगर आप पास्‍ता खाना ही चाहती हैं तो बहुत कम मात्रा में खाएं, ताकि आप और आपका बच्‍चा स्‍वस्‍थ रहें.

4) हाईब्‍लड़ प्रेशर
 अगर आपका ब्लड़ प्रेशर सही रहता है तो आप कम मात्रा में सिर्फ स्वाद बदलने के लिए पास्ता खा सकती है लेकिन अगर गर्भवती महिला को हाईब्लड़ प्रेशर की समस्या है तो उसे पास्ता नहीं खाना चाहिए, इसके सेवन से शरीर में हाई ब्लड़ प्रेशर की समस्या हो जाती है. जो प्रेगनेंसी में ठीक नहीं होती है

5) प्रॉसेस्‍ड फूड 
गर्भवती महिलाओं को हमेशा प्रसंस्‍कृत भोजन को खाने से बचना चाहिए. इस तरीके का खाना इनके लिए सुरक्षित नहीं होता है. अगर आपको पास्ता खाना ही है तो आप पास्ता घर पर बनाइए साथ ही साथ उसमें कुछ पौष्टिक सब्जियां डालकर उसे और पौष्टिक बना सकते हैं, ताकि फाइबर की मात्रा बैलेंसड हो सके.

healthy diet for pregnant women, best foods to eat when pregnant


6) वजन बढ़ना 
अगर आप पास्‍ता खाने की शौकीन है तो ये बात भी ध्‍यान में रखें कि इसे खाने से वजन बढ़ता है। गर्भावस्‍था के दिनों में बेवजह वजन बढ़ाना सही नहीं है इससे बच्‍चे को दिक्‍कत हो सकती है। डिलीवरी में समस्या आती है.

You May Also Like : प्रेगनेंसी के दौरान इन 17 बातों का ध्यान रखें - Part #1
You May Also Like : प्रेगनेंसी के दौरान केसर खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए


7) ग्‍लूटेन इनटॉलेरेंस 
पास्‍ता एक ऐसा फूड है जिसमें ग्‍लूटेन उच्‍च मात्रा में होता है यह एक ऐसा तत्व है जो बच्चे की ग्रोथ को प्रभावित करता है और साथ ही साथ यह कब्ज को भी पैदा करता है, जिससे इंटेस्टाइन की पोषक तत्व को ग्रहण करने की क्षमता कम हो जाती है.

8) हानिकारक बैक्‍टीरिया की ग्रोथ 
पास्ता शरीर के अंदर ऐसा माहौल पैदा करता है जिससे कि हानिकारक बैक्टीरिया पनप सकते हैं क्योंकि यह कब्ज पैदा कर देता है  यह आसानी से पचता नहीं है , ऐसी स्थिति में शरीर में भोजन सड़ जाता है , हानिकारक बैक्टीरिया शरीर में पनप जाते हैंऔर बच्‍चे को नुकसान पहुंच सकता है। ऐसी अवस्था प्रेगनेंसी के लिए नुकसानदायक हो सकती है.

pasta, healthy pasta, whole wheat pasta nutrition


9) फाइटेट्स और लैक्टिन 
पास्‍ता में फाइटेट्स होता है जो शरीर में जिंक और मैग्‍नीशियम को ब्‍लॉक कर देता है। सिर्फ पास्‍ता ही नहीं सभी प्रकार के फास्‍ट फूड में फाइट्टेस और लैक्टिन पाया जाता है.लेकिन अगर आपका गर्भवास्‍था के दिनों में बहुत ज्‍यादा खाने का मन होता है तो आधी कटोरी खा लें। पर याद रहें, ज्‍यादा नहीं.
You May Also Like : बेकिंग सोडा और यूरिन से कैसे करते हैं जेंडर प्रेडिक्शन केवल 1 मिनट में - Gender prediction
You May Also Like : पल्स विधि द्वारा जेंडर प्रिडिक्शन


तो दोस्तों यह थे कुछ पॉइंट जिन्हें जानकर आप यह पता लगा सकते हैं कि प्रेगनेंसी की अवस्था में पास्ता जैसी चीज खानी चाहिए कि नहीं खानी चाहिए.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें