Header Ads

क्या आप प्रेगनेंसी में तरबूज खाती हैं - Kya Pregnancy me Tarbooj Khana Chaheye

नमस्कार दोस्तो आज की POST में हम आपसे चर्चा करने वाले हैं गर्मियों में पाए जाने वाले तरबूज के संबंध में वह भी प्रेगनेंसी को लेकर, दोस्तों गर्मी में पाए जाने वाला यह फल बहुत ही पौष्टिक माना जाता है, हम आपको बताएंगे इसमें कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं और उनके क्या-क्या लाभ हैं, साथ में इस विषय पर चर्चा करेंगे कि प्रेगनेंसी में तरबूज खाना चाहिए कि नहीं, इसके लाभ और हानियों के संबंध में चर्चा करेंगे.

दोस्तों हम आपको बता दें गलियों में पाए जाने वाला यह फुल तरबूज गर्भवती महिलाओं के लिए अमृत समान है और यह गर्भवती महिलाओं को खाना भी चाहिए चर्चा करते हैं किस में कौन-कौन से तत्व पाए जाते हैं और यह गर्भवती महिलाओं को किस प्रकार लाभ पहुंचाता है, इससे आप यह जान पाएंगे कि तरबूज हमारे लिए कितना फायदेमंद है.
You May Also Like : गर्भावस्था में मुंहासों के क्या कारण है और प्राकृतिक तरीकों से कैसे मुहांसों से बचा जाए

तरबूज के पोषक तत्व - Tarabooj ke Poshak Tatva
विटामिन ए, विटामिन बी6 और विटामिन सी, लाइकोपीन, एंटीऑक्सिडेंट्स और एमिनो एसिड से भरपूर तरबूज के बहुत सारे लाभ है लेकिन कुछ लोग यह सवाल करते हैं कि प्रेगनेंसी में तरबूज खाना चाहिए. आपको बाता दें ज्यादातर डॉक्टर आपको बताएंगे कि गर्भावस्था में तरबूज के फायदे बहुत है, क्योंकि यह पोषक तत्वों से भरा होता है. आइए जानते हैं इसके लाभ के बारे मे

You May Also Like : प्रेगनेंसी में आयरन और कैल्शियम की गोलियां साथ न लें

तरबूज खाने की प्रेगनेंसी में लाभ - Tarabooj khaane ke Preganensee mein Laabh


प्रेगनेंसी में हार्टबर्न की समस्या को करे दूर
हार्टबर्न होने पर सीने के निचले भाग में जलन महसूस होती है. जब हार्टबर्न होने लगता है तो पेट और सीने में दर्द, सूजन, गैस्ट्रिक समस्याे होने लगती है. तरबूज पेट और आहार नाल के लिए बहुत अच्छा है. गर्भवती महिलाएं अक्सर एसिडिटी और हार्टबर्न से पीड़ित होती हैं. तरबूज की तासीर ठंडी है जो तत्काल राहत देते हुए इन समस्याओं को कम करने में मदद करता है. तरबूज का नियमित सेवन पाचन संबंधी समस्याओं को खत्म करता है.
You May Also Like : गर्भावस्था में कब आंवला खाना चाहिए कब नहीं खाना चाहिए



सुबह की कमजोरी
मॉर्निंग सिकनेस कोई गंभीर बीमारी नही है लेकिन यदि इसपर ध्यासन न दिया जाये तो बड़ी समस्या हो सकती है. सुबह के दौरान तरबूज खाने से दिन के लिए एक बहुत ही ताज़ा, सुखदायक और हल्की शुरुआत होती है. यह  पोषक तत्वों से समृद्ध है और गर्भवती महिलाओं में सुबह की कमजोरी को रोकने में मदद करता है. तो, ताजे तरबूज के रस का एक गिलास अपने दिन की अच्छी शुरुआत है.
You May Also Like : प्रेग्नेंसी के समय महिला का कमरा कैसा हो जानिए - 7 #2

कब्ज की समस्या को दूर करे तरबूज
गर्भावस्था के दौरान कब्ज एक आम समस्या है.  यह फाइबर में अत्यधिक समृद्ध है जो मल गठन को बढ़ावा देता है, और इसकी जल सामग्री आंतों पर दबाव बनाने, मल मार्ग को साफ़ करने में मदद करती है.
You May Also Like : महिला के पेशाब के रंग से कैसे जाने गर्भ में क्या पल रहा है

गर्भावस्था में डिहाइड्रेशन की समस्या को दूर करे तरबूज
डिहाइड्रेशन एक ऐसी स्थिति है जिसमें बॉडी को ठीक ढंग से काम करने के लिए पर्याप्त पानी और अन्य तरल पदार्थ की कमी होने लगती है. सभी गर्भवती महिलाओं को निर्जलीकरण या डिहाइड्रेशन को रोकने के लिए बहुत सारे पानी पीने की सलाह दी जाती है.
You May Also Like : समय पर पीरियड्स ना होना है बहुत नुकसानदायक

डिहाइड्रेशन समय से पहले संकुचन का कारण बन सकता है और बच्चा समय से पहले जन्म ले सकता है. तरबूज में 90 फीसदी से अधिक पानी होता है, अब आप समझ ही गए होंगे कि गर्मियों में इस पल को खाना कितना लाभकारी है.
You May Also Like : स्त्री के किस अंग पर बाल होना अशुभ माना जाता है

दृष्टि के लिए फायदेमंद
तरबूज में बीटा-कैरोटीन एक एंटीऑक्सीडेंट है और यह विटामिन ए में परिवर्तित हो जाती है, विटामिन ए आंखों के लिए बहुत आवश्यक  विटामिन है यह आंख की बाहरी परत की रक्षा करता है.
You May Also Like : साइंस और धर्म विज्ञान दोनों के अनुसार पुत्र प्राप्ति का सटीक उपाय

चकत्ते से राहत
गर्मी में त्वचा पर चकत्ते पड़ने लगते हैं, जिससे त्वचा में खुजली और जलन पैदा हो जाती है . तरबूज में 90% से ऊपर पानी होता है जो त्वचा की नमी को बनाए रखने में मदद करता है और यह ठंडी प्रकृति का भी होता है इस प्रकार के रोग में यह बहुत फायदेमंद होता है.
You May Also Like : प्रेगनेंसी होने के बाद पुत्र प्राप्ति की आयुर्वेदिक औषधि

प्रेगनेंसी में एनर्जी को बढ़ाए तरबूज
तरबूज में पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे खनिजों की एक समृद्ध मात्रा होती है. इसमें विटामिन ए, विटामिन बी1 और विटामिन बी6 जैसे विटामिन भी पाए जाते हैं. ये पोषक तत्व प्राकृतिक ऊर्जा बूस्टर हैं जो इस प्रकार शरीर के लिए बड़ी ऊर्जा प्रदान करते हैं. वे आपके बच्चे की विजन, इम्यूनिटी, और तंत्रिका तंत्र के विकास के लिए भी उपयोगी हैं.
You May Also Like : प्रेग्नेंट हो जाने के बाद नारियल द्वारा पुत्र प्राप्ति का तरीका


हाथ पैर की सूजन
प्रेग्नेंसी में हाथ पैरों में सूजन आना एक आम सी समस्या है तरबूज पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसे खाने से यह नसों में बहने वाले रक्त के प्रवाह को सही रखता है जिससे हाथ पैर की सूजन कंट्रोल में रहती है



No comments

Powered by Blogger.