Header Ads

प्रेगनेंसी में खजूर कब खायें कैसे खाएं - How to Eat Dates in Pregnancy

प्रेगनेंसी के दौरान खजूर खाने को लेकर चर्चा कर रहे हैं हमारे आज के टॉपिक हैं

क्या प्रेगनेंसी के दौरान खजूर खाना सुरक्षित है 
डेट्स न्यूट्रिशन वैल्यू अर्थात खजूर की में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं 
गर्भावस्था के दौरान आपको खजूर कब से खाना चाहिए 
साथ में यह भी बताएंगे कि गर्भावस्था के दौरान खजूर कैसे खाएं 

How to eat dates in pregnancy?

क्या प्रेगनेंसी के दौरान खजूर खाना सुरक्षित है - Kya Pregnancy me Dates Safe Hai

जहां तक प्रेगनेंसी के दौरान खजूर खाने की बात है तो लोगों का मानना है कि यह तासीर में गर्म होता है इसलिए नहीं खाना चाहिए लेकिन खजूर प्रेगनेंसी के दौरान खाया जा सकता है इसे लिमिटेड मात्रा में और अपने डॉक्टर से पूछ कर खाना बहुत फायदेमंद रहता है सीधे शब्दों में कहें तो प्रेगनेंसी के दौरान खजूर खाया जा सकता है.


खजूर की में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं - Khajoor ki Nutrition Value

चर्चा करते हैं डेटस न्यूट्रिशन वैल्यू के संबंध में. 
खजूर पोषक तत्वों का खजाना माना जाता है इसके अंदर पानी भी होता है, प्रोटीन, ऊर्जा, कार्बोहाइड्रेट, शुगर, फाइबर इसके अंदर पाए जाते हैं जहां तक मिनरल्स की बात है तो इसके अंदर काफी मिनरल्स पाए जाते हैं जिसके अंदर जिंक, सोडियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन इत्यादि 
जहां तक खजूर में पाए जाने वाले विटामिंस की बात है तो उसके अंदर काफी सारे विटामिंस पाए जाते हैं इसमें विटामिन d2 विटामिन D3 विटामिन डी, विटामिन ए , विटामिन बी6 ,राइबोफ्लेविन, विटामिन सी, विटामिन के इत्यादि पाए जाते हैं.

गर्भावस्था के दौरान खजूर कैसे खाएं - Pregnancy me Khajoor Kaise Khana Hai

हाउ टू इट डेट्स अर्थात खजूर कैसे खाएं इस संबंध में चर्चा करते हैं. 
सबसे पहले तो आपको यह पता होना चाहिए कि खजूर ताजा पका हुआ प्रेगनेंसी में खाया जा सकता है. 
इसे सुखाकर भी खाया जा सकता है. 
खजूर को रिजल्ट के रूप में भी ले सकते हैं. 
और खजूर को दही में मिलाकर इस स्मूदी की तरह भी लिया जा सकता है.  
खजूर को दूध में मिलाकर मिल्कशेक की तरह भी लिया जा सकता है.



गर्भावस्था के दौरान आपको खजूर कब से खाना चाहिए - Pregnancy me Khajoor Kab Khana Hai

हर तिमाही के अनुसार खजूर खाने को लेकर चर्चा करते हैं.

खजूर खाने को लेकर चर्चा करें इससे पहले मैं आपको एक बात बता दे कि आपके शरीर के अनुसार आपको सब कितना खजूर रोज खाना है इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से सलाह जरूर करें.
खजूर को पहली तिमाही से ही खाना शुरू कर देना चाहिए मुख्यतः शरीर में खून की कमी महिलाओं के पाई जाती है. अगर वह खजूर का सेवन पहली तिमाही से शुरू करती है तो इसमें आयरन की भरपूर मात्रा होती है. तो खून की कमी शरीर में नहीं होती है.

कब्ज तो महिलाओं को पहले तिमाही से ही रहता है लेकिन दूसरी तिमाही में भी कब्ज की शिकायत है तो खजूर खाने से यह शिकायत दूर हो सकती है.

तीसरी तिमाही में भी खजूर खाना काफी फायदेमंद रहता है माना जाता है कि खजूर खाने से फसल में होने वाली समस्या काफी हद तक कम हो जाती है.

No comments

Powered by Blogger.