Header Ads


Pregnancy Care items

प्रेगनेंसी में अचानक से गर्मी लगे तो कैसे कंट्रोल करें

दोस्तों, हमने आपसे चर्चा की थी कि क्या प्रेगनेंसी में अचानक से गर्मी लगना आम बात है, और गर्मी क्यों लगती है. इसके क्या क्या कारण है. जिन्हें दूर करके आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं.

साथ ही साथ अगर आपको गर्मी लग रही है, तो तुरंत कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं. इस पर हम अपने इस वीडियो के माध्यम से चर्चा कर रहे हैं. साथ ही साथ इस के कौन-कौन से लक्षण नजर आते हैं, और इससे क्या नुकसान हो सकता है. इस पर बात करेंगे.

 
प्रेगनेंसी में अचानक से गर्मी लगे तो कैसे कंट्रोल करें


प्रेगनेंसी का तापमान बढ़ने के लक्षण


प्रेगनेंसी के दौरान शरीर का तापमान बढ़ना किसी भी प्रकार से ठीक नहीं होता है कभी-कभी महिलाओं को गर्मी अचानक से लगने शुरू हो जाती है,तो पता चल जाता है कि शरीर का तापमान बढ़ रहा है. लेकिन कभी-कभी पता नहीं चलता है. अगर आपको उस लक्षण नजर आ रहे हैं, तो समझ जाइए कि आपके शरीर का तापमान अधिक हो रहा है. जैसे कि --

•    अचानक से आपको अपने चेहरे पर गर्माहट महसूस होने लगती है,  तो समझ जाइए आपके शरीर का तापमान बढ़ रहा है.


•    अगर आपको पूरे बदन में धीरे-धीरे गर्मी लगना शुरू हो जाती है, तो भी आपके शरीर का तापमान पड़ रहा है.


•    अगर महिला की धड़कन में तेजी आ जाती है, तो यह भी शरीर में गर्मी बढ़ने का संकेत है.


•    अगर अचानक से आपको पसीना आने लगे, यह भी गर्मी तापमान बढ़ने पर ही होता है.


•    अगर महिला को लगे या सामने वाले व्यक्ति को लगे कि आपका चेहरा एकदम से लाल हो रहा है तो यह भी शरीर की गर्मी बढ़ रही है इसका संकेत है.

शरीर का तापमान बढ़ने के नुकसान

जैसा कि हमेशा कहा जाता है कि एजेंसी के दौरान गर्म तासीर का भोजन नहीं खाना चाहिए. इसलिए ताकि शरीर का तापमान सामान्य रहे. असल में तापमान बढ़ने से प्रेगनेंसी के तीसरी तिमाही में संकुचन अर्थ समय से पहले डिलीवरी के संकेत नजर आने लगते हैं, और प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में शरीर का तापमान ज्यादा बढ़ जाता है, तो मिसकैरेज होने की संभावना हो जाती है.

एक दम से गर्मी लगने पर क्या किया जाए


शरीर की गर्मी को शांत करने के बहुत सारे उपाय बताए जाते हैं इनमें से कुछ उपाय हम आपको बता रहे हैं.

•    खासकर यह समस्या गर्मियों के मौसम में ही ज्यादा रहती है तो ऐसा हो सकता है कि वातावरण ज्यादा गर्म हो तो शरीर में बाहरी गर्मी प्रवेश करने लगे तो नुकसानदायक होता है, ऐसे में आपको लगातार नहा कर अपने शरीर के तापमान को सामान्य रखना चाहिए.


•    महिला को हमेशा ऐसे में भीड़-भाड़ वाले स्थान से दूर रहना चाहिए. ऐसे स्थानों में गर्मी अधिक रहती है.


•    गर्मी शरीर के अंदरूनी कारणों की वजह से भी लगती है. गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को गर्भकाल में किए जाने वाले व्यायाम करने चाहिए इससे गर्मी लगने की संभावना कम होने लगती है.


•    अगर आपको अचानक से गर्मी लगने लगे तो आप शांति से बैठकर मेडिटेशन कर सकती हैं, योगा कर सकती है. सांसों को गहराई से लेने की कोशिश करें, और आप जो भी सोच रहे हैं, उसे सोचना बिल्कुल बंद करें. अपना ध्यान सांसों पर लगाए धीरे-धीरे आपके शरीर की गर्मी शांत होने लगेगी.


•    अगर आपके पास सुविधा है, तो आप सुबह शाम समय निकालकर पार्क में टहलने जाए.


•    महिला को ढीले ढाले और सूती वस्त्र पहनने चाहिए और कपड़ों का रंग भी हल्का होना चाहिए. महिला को सिंथेटिक और पॉलिस्टर आदि मटेरियल से बने कपड़े पहनने से बचना चाहिए.


•    प्रेगनेंसी के दौरान या आपको सामान्य तौर पर भी अगर गर्मी की समस्या है तो आपको मसालेदार, गर्म और बाजार का खाना खाने से बचना चाहिए. आपको शराब, कैफीन, कॉफी, चाय इत्यादि का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए. अगर आप धूम्रपान करते हैं तो बिल्कुल छोड़ दें खासकर प्रेग्नेंसी के समय तो यह सब चीजें बहुत ही ज्यादा नुकसानदायक है.


•    अगर आपको गर्मी लग रही है तो आपको अपने चेहरे को ठंडे पानी से धोना चाहिए अपने हाथ पैरों को भी ठंडे पानी से धोना चाहिए काफी राहत मिलती है.


•    आपके कमरे में प्रॉपर वेंटिलेशन होना चाहिए कमरा ठंडा बना रहना चाहिए. इससे आपको राहत मिलेगी.


•    आपको दोपहर के समय जब धूप सबसे ज्यादा होती है, तो उस वक्त घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. घर से बाहर निकलते समय आपको छतरी चश्मा और दूसरी धूप से सुरक्षा संबंधी चीजें लेकर निकलना चाहिए.

No comments

Powered by Blogger.