Header Ads


Pregnancy Care items

डिलीवरी डेट कैसे निकालते हैं

हम अपनी डिलीवरी डेट को अपने आप किस प्रकार से निकाल सकते हैं. इसका क्या लॉजिक होता है. क्या डिलीवरी डेट एकदम सही निकाली जा सकती है. साथ ही साथ हम बात करेंगे क्या डिलीवरी डेट एकदम सही सही निकाली जा सकती है. और दूसरी इंपॉर्टेंट बातें आइए चर्चा करते हैं .


दोस्तों अक्सर दंपत्ति या गर्भवती महिला अपनी डिलीवरी डेट को जानने के लिए काफी ज्यादा उत्सुक रहती है, और वह इस संबंध में अपने डॉक्टर से भी सवाल करती हैं कि हमारी डिलीवरी डेट कब की है. आपको थोड़ा सा आश्चर्य भी होता होगा कि डॉक्टर आपके पीरियड की तारीख को जानकर आप की डिलीवरी डेट कैसे निकाल कर दे देती है. उसके पास क्या कोई जादू की छड़ी है. इसका जो भी लॉजिक है. हम आपको बता रहे हैं.

यह बात जानने के लिए आपको आप डॉक्टर से पूछने की आवश्यकता नहीं है. साथ ही साथ आप किसी दूसरी महिला की भी डिलीवरी डेट आसानी से निकाल पाएंगे.

how to find delivery date


आप अपनी या किसी भी महिला के लिए डिलीवरी डेट को निकाले उससे पहले हम आपको बता दें कि आप या कोई डॉक्टर भी हमेशा एक अनुमानित डिलीवरी डेट ही बताते हैं. एकदम फिक्स डिलीवरी डेट बता पाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल होता है.

 ऐसा हो सकता है. कभी-कभी कोई डिलीवरी डेट बता दी गई हो और उस दिन डिलीवरी हो जाए ऐसा कभी-कभी हो जाता है, लेकिन अधिकतर ऐसा नहीं होता है.

उसके दो-चार दिन आगे पीछे ही डिलीवरी होती है, और कभी-कभी तो 10 दिन तक का भी समय लग सकता है, या उससे ज्यादा भी समय आगे पीछे हो सकता है.

किसी भी महिला की प्रेगनेंसी उसकी आखरी महावारी के पहले दिन से 40 हफ्तों की मानी जाती है. आप इतना समय कैलकुलेट करके अपनी डिलीवरी डेट या किसी भी महिला की डिलीवरी डेट बता सकती हैं.

 अगर आपको लगभग लगभग प्रेगनेंसी का दिन मालूम हो तो आप उसमें 38 हफ्ते दौड़ कर अनुमानित डिलीवरी डेट निकाल सकती हैं माना जाता है, कि इसके 7 दिन आगे या पीछे डिलीवरी हो जाती है. मात्र 5% महिलाओं को ही अनुमानित डिलीवरी डेट पर डिलीवरी होती है.

40 हफ्ते का मतलब होता है, 280 दिन अर्थात 9 महीने 7 दिन
माना कि किसी भी महिला की आखिरी महावारी का पहला दिन 10 अगस्त है.
अब आप इसमें 9 महीने जोड़ लीजिए
पहला महीना 10 सितंबर
दूसरा महीना 10 अक्टूबर
तीसरा महीना 10 नवंबर
चौथा महीना 10 दिसंबर
पांचवा महीना 10 जनवरी
छठवां महीना 10 फरवरी
सातवां महीना 10 मार्च
आठवां महीना 10 अप्रैल
नवा महीना 10 मई
इसमें आप आगे 7 दिन और जोड़ लीजिए इस प्रकार से 17 मई अनुमानित डिलीवरी डेट बैठती है.

महीने में 31 से लेकर 28 तक दिन होते हैं इसलिए एक-दो दिन आगे पीछे हो सकता है.
 आप कैलकुलेट करते समय इस बात का ध्यान रखें और आप अनुमानित डिलीवरी डेट ज्ञात कर पाएंगे.

 यह सभी महिलाओं के लिए लगभग लगभग एक समान होती है.

हमने शुरू में बात की थी कि क्या एकदम सही डिलीवरी डेट महिला की निकाली जा सकती है,
 तो हम बता दें कि कोई भी गर्भवती स्त्री अपनी ओवैल्युएशन डेट पर गर्भवती होती है और वह दिन हर एक महिला के लिए थोड़ा सा अलग हो सकता है. और वह अक्सर महिला को पता भी नहीं होता है, तो डिलीवरी डेट एकदम से सही निकाल पाना एकदम कठिन होता है.

 आप 5 से 15 दिन का वेरिएशन लेकर डेट निकाल सकते हैं. यहां कुछ महिलाओं को डिलीवरी 9 महीने के बाद होती है और कुछ महिलाओं को 9 महीने से थोड़ा पहले भी हो जाती है. यह अपने अपने शरीर पर निर्भर करता है.

 तो इसलिए जो भी डिलीवरी डेट निकाली जाती है वह अनुमानित डिलीवरी डेट होती है एकदम से सही निकाल पाना तो अत्यधिक कठिन होता है हालांकि 5% महिलाओं को बताई गई डेट पर ही डिलीवरी हो जाती है.

ऑनलाइन ऐसे बहुत सारे tool मिल जाएंगे जिनकी सहायता से आप डिलीवरी डेट आसानी से निकाल सकते हैं. इसमें आपको अपनी कुछ इंफॉर्मेशन इनपुट करनी होती है, जैसे कि आपकी लास्ट पीरियड की 1 तारीख, आपका मंथली साइकिल पीरियड इत्यादि.


No comments

Powered by Blogger.