प्रेगनेंसी का 22 वां सप्ताह | 22nd week of pregnancy

 हम प्रेगनेंसी के 22 पर हफ्ते को लेकर चर्चा कर रहे हैं. इसमें हम प्रेगनेंसी के लक्षण आवश्यकताओं और शिशु के विकास के संबंध में बात करेंगे. 



गर्भस्थ शिशु का विकास

  • प्रेगनेंसी आधे समय से ज्यादा को पार कर चुकी है इस दौरान बच्चा एक खीरे या ककड़ी के समान लंबा हो गया है. और उसका वजन 430 ग्राम माना जाता है. अगर बच्चे की सिर से लेकर एडी तक मावली जाए तो वह 28 सेंटीमीटर लंबा हो चुका होगा. इसे लगभग आप 11 इंच लंबा मान सकते हैं.


  • शिशु की आंखें बन चुकी है, हालांकि पुतलियां अभी कोई रंगत लिए हुए नहीं है.


  • अभी एमनियोटिक द्रव को निगलना जारी रखता है, जो उसके पाचन तंत्र के लिए उसकी प्रक्रिया के लिए काफी सही है.


  • धीरे-धीरे गर्भस्थ शिशु एक मनुष्य का आकार लेता जा रहा है, हालांकि अभी उसका शरीर पतला है, और चर्बी का चढ़ना अभी बाकी रह गया है. जिसकी शुरुआत हो चुकी है. इस कारण से उसकी त्वचा कम पारदर्शी भी नजर आती है.


  • आपके शिशु की अंगुलियों में अब नाखून निकल आते हैं, और वे काफी सूक्ष्म होते हैं.


  • शिशु की पेशियों का विकास हो रहा होता है और वह परिष्कृत हो रही होती है.


  • शिशु के लिंग के अनुसार जननांगों का विकास हो जाता है.


  • बाकी शिशु के दिल अंगों का विकास हो चुका है वह अब मजबूत हो रहे हैं.


  • यदि आपके गर्भ में पुत्री पल रही है, तो उसकी स्तन ग्रंथियां इस सप्ताह विकसित होना शुरु हो जाएंगी. स्तन ग्रंथियां स्तनदूध के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होती हैं. यदि आप पुत्र को जन्म देने वाली हैं, तो उसके वृषण श्रोणी से उसके अंडकोष में नीचे आना शुरु हो गए होंगे.


प्रेगनेंसी का 22 वां सप्ताह | 22nd week of pregnancy

महिलाओं के शरीर में परिवर्तन

  • 22 हफ्ते के दौरान महिलाएं नोट करेंगे कि उनके बाल अधिक मोटे हो गए हैं. चमकदार हो गए हैं.


  • क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान काफी सारे हारमोंस की मात्राएं परिवर्तित होती है. जिसकी वजह से यह बालों के लिए काफी मददगार होते हैं. बालों की ग्रोथ अच्छी होती है.


  • आपके शरीर में इस वक्त रक्त का परिसंचरण काफी अधिक हो रहा है. इस वजह से आपकी त्वचा में निखार आपको नजर आएगा.


  • कभी-कभी, मेलेनिन का स्तर बढ़ने से आपके चेहरे पर काले धब्बे हो सकते हैं. एक अच्छा सनस्क्रीन लगाएं या सबसे अच्छा होगा कि आप धूप में बिलकुल भी न जाएं.  ऐसे समय पर एक और लगातार होने वाली समस्या होती है, वह है स्ट्रेच मार्क्स, जो गर्भावस्था में पेट के बढ़ने के कारण होते हैं.   इन निशानों का आप कुछ ख़ास नहीं कर सकती हैं, सिवाय इसके कि यदि बहुत अधिक खुजली हो तो कोई आरामदायक बाम या मॉइस्चराइजर लगाएं.


आवश्यक सावधानियां

  • आपको अपनी रीड की हड्डी का विशेष ध्यान रखना है. कोई भी भारी चीज उठाने से आपको अब आगे बचना है.


  • आप जिस भी गद्दे पर आराम करते हैं, वह आपकी पीठ को, आप की रीड की हड्डी को जरूर सपोर्ट करें. इस बात का ध्यान रखें.


  • अगर आपको लंबे समय तक खड़े रहने की आवश्यकता हो तो आप इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि आपके जूते या चप्पल काफी आरामदायक हो.


  • आपको सांस फूलने का एहसास हो सकता है क्योंकि आपका शरीर आपके शिशु के लिए अत्यधिक मेहनत कर रहा है ऐसे में अत्यधिक ऑक्सीजन की आवश्यकता आपको होती है, और आप अगर कोई शारीरिक कार्य थोड़ा अधिक करते हैं तो सांस फूलना हो सकता है.


  • अपने बढ़े हुए पेट पर मालिश करना शिशु से जुड़ने का अच्छा तरीका है. यदि आप सौम्यता व हल्के हाथ से ऐसा करेंगी, तो शिशु को कोई तकलीफ नहीं होगी.  आपके छूने पर जब शिशु पहली बार प्रतिक्रिया करते हुए हिलने-डुलने लगता है, तो वह एक शानदार अनुभव होता है.  मालिश से आपका रक्त संचरण, नींद और मनोदशा बेहतर हो सकते हैं.


Post a Comment

Previous Post Next Post

Pregnancy Care items