मर्जरी आसन | मजरासन कैसे करें

 मार्जरासन या मार्जरी आसन। इसे आप दोनों में से किसी भी नाम से बोल सकते हैं। यह संस्कृत भाषा का शब्द है,  जो दो शब्दों से मिलकर बना है। जिसमें "मार्जरी" शब्द का अर्थ "बिल्ली" और "आसन" का अर्थ "आसन या स्थिति" है। इस आसन को करने वाला व्यक्ति बिल्ली की तरह पोज देता है।

मार्जरी आसन को अंग्रेजी में कैट पोज कहते हैं। इसे कैट स्ट्रेच पोज के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को करने से रीढ़ की हड्डी और पीठ की मांसपेशियों में लचीलापन बना रहता है।

यह आसन फॉरवर्ड और बैकवर्ड योगासन है। कैटवॉक पूरी दुनिया में मशहूर है, लेकिन हम योग आसन की क्लास में कैट पोज की चर्चा करते हैं। यह आसन आपके शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद है, यह आसन रीढ़ की हड्डी को अच्छा खिंचाव देता है। इससे कमर दर्द और गर्दन के दर्द में आराम मिलता है।
यह आसन कुत्ते और बिल्ली की रीढ़ को झुकाने की आदत से प्रेरणा लेकर किया जाता है।

अगर हम इंसानों की बात करें तो सेक्स करने के अलावा इंसान को कभी भी रीढ़ या रीढ़ की हड्डी को मोड़ने का मौका ही नहीं मिलता है। इसलिए यह आसन आपकी कीगल मसल्स को मजबूत बनाने में मदद करता है। इस योगासन की मदद से आपकी सेक्स ड्राइव में कई सकारात्मक बदलाव आते हैं। कमर दर्द से राहत दिलाने में यह आसन बहुत मदद करता है।



मर्जरी आसन | मजरासन कैसे करें -  विधि

1. फर्श पर योगा मैट बिछाकर दोनों घुटनों के बल बैठ जाएं।
2. इस आसन को आसानी से करने के लिए आप वज्रासन की मुद्रा में भी बैठ सकते हैं।
3. अब अपने दोनों हाथों को जमीन पर रखें।
4. दोनों हाथों पर हल्का वजन रखते हुए अपने हिप्स को ऊपर की ओर उठाएं।
5. जांघों को ऊपर की ओर सीधा करें और पैर के घुटनों पर 90 डिग्री का कोण बनाएं।
6. आपकी छाती जमीन के समानांतर होगी और आप बिल्ली की तरह नजर आएंगे।
7. अब आप लंबी सांस लें और सिर को पीछे की ओर झुकाएं।
8. अपनी नाभि को नीचे से ऊपर की ओर धकेलें।
9. साथ ही टेलबोन (रीढ़ का निचला हिस्सा) को ऊपर उठाएं।
10. अब सांस को बाहर निकालते हुए सिर को नीचे की ओर झुकाएं।
11. मुंह की ठुड्डी को अपनी छाती से लगाने की कोशिश करें।
12. इस पोजीशन में अपने घुटनों के बीच की दूरी को देखें।
13. ध्यान रहे कि इस आसन में आपके हाथ मुड़े नहीं होने चाहिए।
14. अपनी सांस लंबी और गहरी रखें।
16. अपने सिर को पीछे की ओर घुमाएं और इस प्रक्रिया को दोहराएं।
16. इस क्रिया को आप 10-20 बार दोहराएं।



Meditation Mat in budget
 


मार्जरी आसन के लाभ और योगा मैट का महत्व

रीड की हड्डी को लचीला बनाने के लिए यह आसन किया जाता है। जिन लोगों को कमर दर्द की शिकायत है या जिन्हें स्लिप डिस्क जैसी समस्या है उनके लिए भी यह काफी फायदेमंद माना जाता है।

लेकिन किसी भी योग को करने से पहले आपको उसे करने की सही विधि पता होनी चाहिए। साथ ही आपको यह भी पता होना चाहिए कि योग के लिए आपको एक योगा मैट की जरूरत होती है, जो योग करने में आपकी बहुत मदद करती है और आपको अपना संतुलन बनाए रखने में भी मदद करती है।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने