क्या प्रेगनेंसी में अनानास खाना चाहिए

0
7

प्रेगनेंसी के दौरान आज हम अनानास अर्थात पाइनेपल फल को खाने से संबंधित टॉपिक पर बात कर रहे हैं. 

क्योंकि यह बात कही जाती है, कि प्रेगनेंसी के दौरान अनानास नहीं खाना चाहिए. यह गर्भपात की ओर ले जाता है. इसे खाने से बचना चाहिए.

इस बात में कितनी सच्चाई है आज बात करेंगे
प्रेगनेंसी के दौरान अनन्नास किस प्रकार से नुकसान दे सकता है और प्रेगनेंसी में खाने से क्या-क्या फायदे हो सकते हैं.

 

क्या प्रेगनेंसी में अनानास खाना चाहिए

अक्सर कमेंट में यह बात पूछे जाती है कि क्या मैं अपनी प्रेगनेंसी के दौरान अनानास खा सकती हूं, तो इस बात को लेकर, हम आज अपने इस वीडियो के माध्यम से जवाब दे रहे हैं.

इसमें कोई दो राय नहीं है. अनानास एक बड़ा ही स्वादिष्ट फल है, और महिला को क्रेविंग के चलते  स्वाद बदल जाता है, तो ऐसे में अनानास का स्वाद उन्हें काफी पसंद आ सकता है.

अगर हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानते हैं तो उनके अनुसार अनानास खाने पर उन्होंने ऐसा कुछ नहीं देखा कि उससे किसी भी गर्भवती महिला को गर्भपात हुआ हो. उनके अनुसार यह बिल्कुल मिथ्या बात है, कि अनानास खाने से किसी भी महिला को गर्भपात हो जाता है. असल में अनानास के अंदर ब्रोमलिन पाया जाता है. 

यह गर्भपात की प्रक्रिया को उत्तेजित करता है. इसी वजह से माना जाता है, कि अनानास खाना गर्भपात का कारण बनता है.

यह बात सही है कि अनानास के अंदर ब्रोमलिन पाया जाता है, जो प्रेगनेंसी के दृष्टिकोण से सही नहीं होता है.

लेकिन यह अनन्नास के गूदे में काफी कम मात्रा में पाया जाता है, और हम गूदा ही खाते हैं. इसलिए संयमित मात्रा में इसका प्रयोग करना हानिकारक नहीं माना जाता है. हालांकि अगर इसका प्रयोग अधिक मात्रा में किया जाए तो यह नुकसान दे सकता है.

डॉक्टर के अनुसार अनानास के अंदर उचित मात्रा में फाइबर और पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो किसी भी गर्भवती महिला के लिए काफी फायदेमंद है. कब्ज की समस्या को ठीक करने में मदद करते हैं.

 प्रेगनेंसी के दौरान महिला अनानास शेक, लस्सी काफी पसंद करती है.

अगर आप अपने प्रेगनेंसी के दौरान अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान अनानास खाने को लेकर काफी ज्यादा कन्फ्यूज्ड हैं तो हम आपको इसके फायदे बता देते हैं.

अनानास के अंदर विटामिन B1 मौजूद होता है जो तंत्रिका तंत्र और दिल के लिए बहुत जरूरी होता है.

अनानास के अंदर कॉपर होता है, जो बाल और आंखों के स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से काफी जरूरी है.

विटामिन बी सिक्स भी मौजूद होता है, जो शरीर की कार्य प्रणाली को दुरुस्त रखने के लिए काफी आवश्यक होता है.

एनीमिया की समस्या में भी यह सहायक है.

प्रेगनेंसी में जी मिचलाना इत्यादि समस्या में अनानास काफी फायदेमंद देखा गया है.

अनानास में विटामिन सी होता है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को काफी मजबूत करता है.

इसके अंदर कैलोरी भी काफी ज्यादा होती है. इसलिए इसका प्रयोग आप मात्र सीमित मात्रा में करें.


असल में अनानास अधिक खाने पर यह समय से पहले डिलीवरी के संकेत दे देता है . लेकिन यह समस्या उन्हीं महिलाओं के साथ यह समस्या दो ही स्थिति में आती है.

या तो महिला को इस प्रकार की समस्या पहले से ही हो कि उसे गर्भपात हो जाता है ऐसे में वह अनानास खाएगी तो उसकी समस्या को बल मिलेगा. उसके लिए यह काफी नुकसानदायक है.

दूसरा अगर महिला अधिक मात्रा में अनानास का सेवन अपनी प्रेगनेंसी के दौरान करने लगती है, तो ब्रोमलिन उसके शरीर में अधिक मात्रा में एकत्र हो जाएगा और तब भी समय से पहले डिलीवरी की समस्या आ सकती है.
अब यह आपके विवेक के ऊपर है, कि आप अपने प्रेगनेंसी के दौरान अनानास का सेवन करें या नहीं करें.

आप अपनी हेल्थ को देखें अपनी आवश्यकताओं को देखें उसके बाद यह निर्णय लें कि आपको अनानास खाना है या नहीं खाना है.
 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें