प्रेग्नेंसी की देखभाल के टिप्स | 16 प्रेगनेंसी केयर टिप्स - #2

महिला का जीवन तभी पूर्ण होता है जब वह माँ बनती है। किसी युवती के लिये पहली बार माँ बनना एक अनोखी और चुनौती वाली क्रिया होती है। जैसे ही महिला गर्भधारण करती हैं। वैसे ही गर्भधारण करने के बाद से महिला के शरीर में कई तरह के बदलाव शुरू हो जाते हैं। प्रेग्नेंसी की देखभाल के टिप्स।

यह बदलाव पहले महीने से शुरू हो जाते हैं। इसीलिए गर्भावस्था के पहले महीने से ही गर्भवती महिला को कुछ सावधानियां बरतनी शुरू कर देनी चाहिये  (16 प्रेगनेंसी केयर टिप्स)

महिला को सभी चीजो जैसे, ये सावधानियाँ खान-पान, रहन-सहन, चलना-फिरना, सेक्स आदि के तरीकों में बदलाव करना पड़ता है। क्योंकि गर्भावस्था में महिला द्वारा किये गए हर काम का सीधा प्रभाव शिशु पर जाता हैं।

ऐसे में होने वाले माता-पिता को अपने बच्चे की देखभाल, का जब वो माँ के गर्भ में है या फिर जन्म लेने के बाद आप उसका पूरा ध्यान रखेंगे। जो महिला पहली बार माँ बन रही होती हैं, उसे हर समय अपने डॉक्टर या फिर अपने बडों से इस बारे में राय लेते रहना चाहिए।

You May Also Like : गर्भवती द्वारा सपने इन फलों का देखे जाना पुत्र प्राप्ति दिखाता है
You May Also Like : यह सपने बताते हैं घर में पुत्र होगा या पुत्री


आइए दोस्तों चर्चा करते हैं कि महिलाओं को गर्भावस्था में किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए POST शुरू करते हैं।

Which precautions in pregnancy


1. इसके अलावा, खाना बनाते समय ऐसे व्यंजन हमेशा न बनाएं, जिनमें गैस चूल्हे के पास अधिक समय तक खड़ा होने की जरुरत है, जैसे हलवा, पायसम और डोसा आदि।

2. अच्छी नींद लें।

3. भरपूर आराम करें ।

4. घर के दूसरे मेंबर आपका काम करने में आपकी हेल्प करें यह आपका हक है।

5. इनफैक्शन या घाव होने पर या सफेद और पीला स्राव होने पर गंभीरता से लेना चाहिए।

You May Also Like : ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार गर्भ में पुत्र होने की पहचान
You May Also Like : उत्तम बुद्धि और सुंदर सी संतान की प्राप्ति के लिए
You May Also Like : गर्भावस्था में अमरूद खाने के जबरदस्त फायदे
You May Also Like : प्रेगनेंसी में फल कब और कैसे खाने चाहिए

6. 24 सप्ताह से पहले खून का आना गर्भपात के लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में आपको सावधानी बरतनी चाहिए। इसमें कभी खून कम आता है और कभी ज्यादा मात्रा में।  ऐसे में डॉक्टर को तुरंत दिखाना चाहिए। ताकि बाद में कोई परेशानी न हो।

7. गर्भावस्था के समय पर कई बार महिलाओ को पट दर्द होता रहता हैं। ऐसे में कई बार जब ज्यादा दर्द हो और बार-बार ये समस्या हो रही हो तो इसे बिलकुल भी अनदेखा नहीं करना चाहिए।

8. भोजन में गर्म चीज खाने से बचना है।

9. डॉक्टर से सलाह ले किस तरह का भोजन खाना है।

10. जो कि पोषक तत्वों से भरपूर हो।


care in pregnancy, how save baby in pregnancy


11. धूम्रपान शराब डिब्बाबंद खाने का प्रयोग ना करें।

12. प्रदूषण से दूर रहे।

13. पार्लर से दूर रहे क्योंकि यहां हानिकारक केमिकल का प्रयोग सजने सवरने में किया जाता है।

You May Also Like : Y शुक्राणुओं को कैसे ताकतवर बनाए - लड़का पैदा हो
You May Also Like : कब और कैसे करें प्रेगनेंसी चेक

14. मोबाइल से बचें, अपने आस पास ना रखें, कम बात करें . इसकी रेडिएशन बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

15. खाने में फास्ट फूड का प्रयोग ना करें।

16. अत्यधिक मीठा और अत्यधिक नमक और चटपटा- तीखा ना खाएं।
 
 

 

Post a Comment

Previous Post Next Post