ओवुलेशन किट क्या है - संपूर्ण जानकारी | What is Ovulation kit or Strip

 What is Ovulation kit or Strip अर्थात ओवुलेशन किट क्या है. ओवुलेशन किट के विषय में काफी कम जानकारी दंपत्ति को होती है.  यह प्रेगनेंसी के लिए सबसे अनुकूल दिन अर्थात best fertile days के विषय में जानकारी प्रदान करता है. जिससे कि सही समय पर संतान प्राप्ति के लिए मिलन कर महिला प्रेगनेंसी कंसीव कर सकती हैं.

ओवुलेशन किट को कई और दूसरे नामों से भी जाना जाता है जैसे कि --  
ओवुलेशन टेस्ट किट – Ovulation Test Kit
ओवुलेशन स्ट्रिप – Ovulation Strip Or Ovulation Test Strip
ओवुलेशन प्रिडिक्टर किट – Ovulation Predictor Kit
एलएच टेस्ट किट – LH Test Kit
एलएच टेस्ट स्ट्रिप स्ट्रिप या एलएच टेस्ट स्ट्रिप – LH Strip Or LH Test Strip
फर्टिलिटी किट या फर्टिलिटी टेस्ट किट - Fertility kit Or Fertility Test Kit or Strip

आर्टिकल में आपको Ovulation kit से संबंधित जो भी आपके मुख्य मुख्य प्रश्न है सभी के विषय में जानकारी प्राप्त होगी. हम कोशिश करेंगे कि इस आर्टिकल को कंप्लीट पढ़ने के बाद आपके सभी प्रश्नों के उत्तर आपको मिल जाए.


ओव्यूलेशन किट की अवधारणा - Concept of Ovulation Kit

अगर हम ओवुलेशन किट के विषय में जानकारी प्राप्त कर रहे हैं, तो हम महिला के मासिक चक्र के विषय में अवश्य जानकारी रखते हैं.

मासिक चक्र महिला को 24 दिन से लेकर 40 दिन तक का हो सकता है. यह अलग अलग महिला के लिए अलग अलग होता है. मुख्यतः महिला का मासिक चक्र 28 दिन से लेकर 30 दिन का ही होता है. 

अगर महिला एक मासिक चक्र में गर्भवती नहीं होती है, तो मासिक चक्र के अंत में महिला को ब्लीडिंग होने लगती है. इसका यह अर्थ होता है, कि महिला अभी गर्भवती नहीं है.

अगर दंपत्ति प्रेगनेंसी के लिए कोशिश कर रहे हैं, तो एक मासिक चक्र में दंपत्ति को लगभग 1 दिन छोड़ - छोड़कर प्रेगनेंसी के लिए कोशिश करनी होगी. यह डॉक्टर के द्वारा रिकमेंट किया जाता है.

कभी-कभी यह संभव नहीं हो पाता है. इसलिए कहा जाता है, कि महिला को प्रेगनेंसी 1 महीने से लेकर 1 साल के बीच में कभी भी हो सकती है.

वैज्ञानिकों ने रिसर्च के बाद पाया कि एक मासिक चक्र में महिला मात्र तभी गर्भवती होती है, जब महिला का अंडा प्रेगनेंसी के लिए उपस्थित होता है. यह अंडा एक मासिक चक्र में मात्र 24 घंटे के लिए ही उपलब्ध रहता है. इन्हीं 24 घंटों में प्रेगनेंसी होती है, अन्यथा आप कितनी भी कोशिश कर ले प्रेगनेंसी नहीं होगी.

इन 24 घंटे में अगर पुरुष का स्पर्म महिला के शरीर में उपस्थित होता है, तो महिला गर्भवती हो जाती है. हम सभी जानते हैं, कि पुरुष का इस पर महिला के शरीर में 3 से 5 दिन तक जीवित रह सकता है. यह उसके स्वास्थ्य पर निर्भर करता है.

महिला के शरीर में जिन 24 घंटे के लिए अंडा निषेचन के लिए उपलब्ध रहता है. उस से 3 दिन पहले से लेकर इन 24 घंटे सहित महिला के पास 4 दिन होते हैं, जब महिला गर्भवती हो सकती है.

 इन चार दिनों को ओवुलेशन पीरियड (Ovulation Period or Fertile Days) कहा जाता है और जिस दिन महिला के शरीर में अंडा प्रजनन के लिए उपस्थित होता है, उसे ओवुलेशन डे (Ovulation Day or Best Fertile Day) कहा जाता है.
ओवुलेशन डे का पता करने के लिए ओवुलेशन किट का प्रयोग किया जाता है. 

ओवुलेशन किट क्या है

ओवुलेशन किट के अंदर 5 से लेकर 10 तक स्ट्रिप्स होती हैं. साथ में एक ड्रॉपर आता है. यह ड्रॉपर महिला के यूरिन को किट के अंदर पास करके रिजल्ट प्राप्त करने में मदद करता है. काफी सारी कंपनियां ओवुलेशन किट का निर्माण करती हैं.  इसलिए उनके रिजल्ट की विंडो का मैकेनिज्म थोड़ा अलग अलग हो सकता है. लेकिन सभी ओवुलेशन किट काफी यूजर फ्रेंडली होती है. जिसका मैकेनिज्म बड़ी आसानी से समझ में आ जाता है.



i-Know Ovulation Kit - How to Buy



ओवुलेशन किट कैसे काम करती है

जब किसी महिला का ओवुलेशन पीरियड शुरू होता है, तो उससे पहले महिला के शरीर में कई प्रकार के हार्मोन की मात्रा में उतार-चढ़ाव आते हैं.

वैज्ञानिकों द्वारा रिसर्च करके यह पता लगाया गया कि जब महिला को महिला Fertile day  शुरू होने वाला होता है, तो उसके शरीर में LH हारमोंस की मात्रा में बढ़ोतरी होती है. और यह LH हारमोंस ओवुलेशन डे (Ovulation Day) से 1 दिन पहले काफी बड़ी मात्रा में शरीर में बढ़ता है.

यह LH हारमोंस महिला के सलाइवा और यूरिन में भी काफी अच्छी मात्रा में नजर आता है.  इस हारमोंस के बढ़ने का यही मतलब होता है कि नेक्स्ट डे अर्थात 12 से 24 घंटे के अंदर महिला का अंडा प्रजनन के लिए उपस्थित होगा और और अगले 24 घंटे तक उपलब्ध रहेगा. इसलिए 36 से 48 घंटे महिला की प्रेग्नेंसी के लिए सर्वोत्तम रहते हैं.

महिला की फाइल विंडो (Fertile Window) का पता लगाने का कार्य ही ओवुलेशन किट का होता है. इसलिए इसे LH Test Kit or LH Kit  भी कहा जाता है.

ओवुलेशन किट का प्रयोग कैसे करें

ओवुलेशन किट का प्रयोग करना काफी आसान है. ओवुलेशन किट की 1 strip का प्रयोग 1 दिन में किया जाता है. ओवुलेशन किट के अंदर आपको एक ड्रॉपर मिलेगा, उस ड्रॉपर से महिला के यूरिन को ओवुलेशन strip के अंदर पास करना होता है, और 5 मिनट के अंदर आपको रिजल्ट मिल जाता है.

अगर आपको ओवुलेशन किट का रिजल्ट सही चाहिए, तो आपको कुछ विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता होती है. अन्यथा रिजल्ट गलत आने की संभावना काफी ज्यादा होती है. कई बार प्रेगनेंसी किट की सभी स्ट्रिप्स बेकार भी चली जाती हैं.

ओवुलेशन किट प्रयोग करने में विशेष सावधानियां

ओवुलेशन किट का प्रयोग करते समय काफी सावधानी रखने की आवश्यकता होती है. क्योंकि ओवुलेशन पीरियड हर महिला के लिए अलग अलग होता है.
एक एग्जांपल के सहायता से से समझने की कोशिश करते हैं.

एक ओवुलेशन किट है और 3 महिलाएं हैं.
एक महिला का मासिक चक्र 24 दिनों का है
एक महिला का मासिक चक्र 30 दिनों का है और
एक महिला का मासिक चक्र 40 दिनों का है

इसलिए हर महिला के लिए ओवुलेशन पीरियड अलग-अलग समय अंतराल के बाद आते हैं.

अगर यह ओवुलेशन किट किसी भी महिला के पास चली जाती है. तो फिर महिला ओवुलेशन पीरियड के 5 दिनों के विषय में कैसे जानकारी प्राप्त करेगी. उसे किस दिन से इस किट का प्रयोग करना है. क्योंकि यह किसी भी महिला के लिए पीरियड के बाद किसी निश्चित दिन के बाद नहीं आएगा.

क्योंकि 4 से 5 दिनों में ही 1 दिन ऐसा है. जिस दिन महिला का ओवुलेशन डे आएगा और महिला के लिए बेस्ट फलटाइल डे (Best Fertile Day) होगा. और महिला को इन्हीं चार-पांच दिन के आसपास ओवुलेशन किट का प्रयोग करना है.

कहने का अर्थ यही है, कि महिला की मासिक चक्र की लंबाई के अनुसार महिला का ओवुलेशन पीरियड और ओवुलेशन डे बदल जाता है.

इसलिए अगर कोई भी महिला ओवुलेशन किट का प्रयोग करती है, तो उसे अपनी एस्पेक्टेड ओवुलेशन पीरियड के विषय में जानकारी होना अत्यधिक आवश्यक है. यह एस्पेक्टेड ओवुलेशन पीरियड कैसे ज्ञात करें. इस पर भी आगे चर्चा करेंगे.

ओवुलेशन पीरियड
जानने के लिए आप सुबह 8:00 बजे से लेकर रात के 8:00 बजे तक कभी भी Ovulation Kit का प्रयोग कर सकते हैं.

 लेकिन सबसे सही समय दिन में 12:00 बजे से लेकर दिन के 2:00 बजे तक का रहता है. जिस दिन आपको टेस्ट शुरू करने हैं, उस दिन सुबह 8:00 बजे से लेकर 2:00 बजे तक आप कम से कम लिक्विड भोजन का प्रयोग करें. क्योंकि मूत्र जितना अधिक गाढ़ा होगा रिजल्ट उतना सही आएगा.

एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड - ओवुलेशन के लक्षण

अगर दंपत्ति ओवुलेशन किट का प्रयोग करके जल्दी से संतान प्राप्ति की सोच रहा है, तो महिला को चाहिए कि वह 3 से 4 महीने पहले से ही अपने शरीर में कुछ ओवुलेशन के लक्षणों को पहचानना शुरू कर दें. यह लक्षण महिला को उसके एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड का पता लगाने में मदद करेंगे. इन्हें ओवुलेशन के लक्षण कहा जाता है.

 1. शरीर का तापमान बढ़ जाना

एक मंथली साइकिल में जब महिला का ओवुलेशन साइकिल (Ovulation Cycle) आता है, तो महिला के शरीर का तापमान थोड़ा सा बढ़ जाता है.  इस बड़े तापमान से पता चलता है कि ओवुलेशन पीरियड (Ovulation Period) शुरू होने वाला है.

आप जब भी सुबह के समय सो कर उठेंगे तो आपको अपना शरीर और दिनों की अपेक्षा थोड़ा अधिक गर्म नजर आएगा. आपको यह ट्रैक करना है और आप अपना ओवुलेशन पीरियड (Ovulation Period) जान पाएंगी.

 2. त्वचा की रंगत में बदलाव

महिला के शरीर में त्वचा और हारमोंस के बीच में गहरा संबंध होता है. जब महिला की त्वचा में एस्ट्रोजन की उपस्थिति बढ़ती है, तो त्वचा में रंगत का अनुभव नजर आता है. कभी-कभी कुछ महिलाओं को ओवुलेशन के आसपास के समय पर पिंपल्स हो सकते हैं, जो हारमोंस बढ़ने के कारण नजर आ सकते हैं. लेकिन यह हर महिलाओं के साथ नहीं होता है.

कभी कभी बहुत कम मात्रा में यह लक्षण नजर आते हैं. जिसे ट्रैक नहीं किया जा सकता है. लेकिन इस विधि से भी ओवुलेशन के दिनों (Ovulation Days) का आईडिया लगाया जाता है.

 3. ओवुलेशन का दर्द महसूस करना

ओवुलेशन के दौरान महिलाओं को ओवुलेशन दर्द (Ovulation Pain) का अनुभव हो सकता है. इस दौरान महिलाओं के स्तनों में थोड़ा सा बदलाव महसूस होता है. जो ध्यान देने पर नजर आता है. कुछ महिलाओं को कभी-कभी पेट दर्द की भी हल्की-हल्की समस्या होती है. जिसे ओवुलेशन पेन (Ovulation Pain) कहा जाता है. यह तब होता है, जब अंडाशय से अंडा निकलकर आगे बढ़ता है, और प्रेगनेंसी के लिए तैयार होता है. कुछ महिलाओं को यह दर्द पीरियड आने तक महसूस हो सकता है.

 4. यौन इच्छा में वृद्धि

Fertile Window  महिलाओं के लिए प्रेगनेंसी का एक सबसे महत्वपूर्ण समय होता है. इसी दौरान महिला के शरीर में यौन संबंध की इच्छा अधिक जागृत होती है.  इस इच्छा को समझ कर भी इस बात का आईडिया लगाया जा सकता है कि महिला का Ovulation Days शुरू होने वाले हैं.

अगर आप इतनी मेहनत नहीं करना चाहते हैं, तो आप उसका एक आसान और छोटा तरीका भी अपना सकते हैं. Ovulation Kit का प्रयोग करें.

i Know Ovulation Kit use - Example

जैसे कि अभी हमने चर्चा की है, कि महिला को अपना एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड (Expected Ovulation  Period) का पता होना अत्यधिक आवश्यक है. इन्हीं दिनों महिला आई नो ओवुलेशन किट (i Know ovulation Kit)  का प्रयोग करके अपना Best Fertile Window ज्ञात कर पाएगी.

नीचे इमेज के माध्यम से आप यह समझ पा रहे होंगे कि आई नो ओवुलेशन किट का रिजल्ट किस प्रकार से प्रदर्शित होता है जब गुलाबी लाइन डाक नजर आती है तो उससे अगले 2 दिन प्रेगनेंसी के लिए सर्वोत्तम रहते हैं.


i-Know Ovulation Kit कैसे काम करती है


ड्रॉपर की मदद से ओवुलेशन किट में तीन बूंद आप यूरीन पास करें.

5 मिनट इंतजार करें उसके बाद रिजल्ट आपके सामने आएगा.

C आर T नाम की दो लाइने आपको नजर आती हैं.

i-know test card

i-know pregnancy home based kit

i-know ovulation test report


•    C एंड T में दो गुलाबी रेखाएं Fertile days की शुरुआत का संकेत देती हैं.
•    केवल C रेखा का गुलाबी होना बताता है, कि अभी Fertile days नहीं आए हैं.
•    अगर C और T दोनों ही लाइने नहीं आती है, तो Kit खराब मान ली जाती है. आपको New Kit के साथ दोबारा से चेक करना होगा.

कब रिजल्ट सही नहीं आता

कई बार यूजर्स की यह शिकायत रहती है, कि ओवुलेशन किट का रिजल्ट सही नहीं आ रहा . इसके पीछे कुछ कारण हो सकते हैं. अर्थात ओवुलेशन किट को प्रयोग करते समय कुछ सावधानियां रखने की आवश्यकता होती है.

  • महिला को अपना एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड (Expected Ovulation  Period) का पता होना अत्यधिक आवश्यक है. अन्यथा ओवुलेशन किट  की 5 स्ट्रिप का यूज गलत दिन कर लेने से रिजल्ट हाथ नहीं आएगा.

  • महिला के हारमोंस अगर असंतुलित होते हैं, तो इस अवस्था में भी ओवुलेशन किट सही काम करें, यह जरूरी नहीं है. क्योंकि यह हारमोंस के स्तर को जांच कर ही रिजल्ट देती है.

  • अगर महिला के पीरियड असंतुलित हैं अर्थात कभी कम दिनों में या कभी अधिक दिनों में आते हैं तो ऐसे में भी ओवुलेशन किट का प्रयोग कब करें, यह पता नहीं होता है. रिजल्ट गलत आने की संभावना भी रहती है.

  • ओवुलेशन किट की एक्सपायरी जरूर चेक करें. क्योंकि इस पर लगा केमिकल भी अपनी एक उम्र रखता है. उसके बाद वह एक्सपायर हो जाता है.

  • किट को घर लाने के बाद इस बात का विशेष ध्यान रखें, कि इस किट को कैसे स्थान पर रखना है. अधिक ठंडे स्थान पर या कम नमी वाले स्थान पर, इसका भी रिजल्ट पर प्रभाव पड़ता है.

ओवुलेशन किट के फायदे - Ovulation  Kit Use

ओवुलेशन किट का यूज़ (Ovulation Kit Use) या ओवुलेशन किट का फायदा (Ovulation  Kit benefit) यही है, कि महिला का best fertile window आप ज्ञात कर सकते हैं. और महिला आसानी से प्रेगनेंसी कंसीव कर सकती है,

कई बार क्या होता है, कि दंपत्ति अपने लाइफ स्टाइल में काफी ज्यादा बिजी रहते हैं. उनके पास टाइम की कमी होती है. ऐसे में 1 महीने से लेकर अगले 10 महीने तक आपस में एक दूसरे को अधिक टाइम नहीं दे सकते हैं. ovulation strips फायदेमंद है.

अपने जॉब प्रोफाइल की वजह से दंपत्ति अलग-अलग शहरों में रहते हैं. उस परिस्थिति में भी पूर्ण रूप से एक दूसरे को समय देना काफी मुश्किल होता है.

ऐसे में अगर महिला कंसीव करना चाहती है, तो ovulation strips एक बहुत आसान रास्ता किसी भी महिला के लिए हो सकता है.

अगर किसी कारण बस पुरुष का स्पर्म काउंट कम है ovulation test strips काफी काम के साबित हो सकती है.

किसी हेल्थ समस्या की वजह से अगर स्त्री और पुरुष पर्याप्त मात्रा में एक-दूसरे के नजदीक नहीं आप आ रहे हैं तो ovulation strips का प्रयोग करके वह एक निश्चित समय में करीब आकर प्रेगनेंसी कंसीव कर सकते हैं.

ओवुलेशन किट का रिजल्ट कितने पर्सेंट रहता है

भौतिक परिस्थितियों में अगर आप ओवुलेशन किट का प्रयोग करते हैं तो इस के रिजल्ट में काफी कमी आ सकती है.

क्योंकि भौतिक परिस्थितियों में कई बार इसका प्रयोग करना भी नहीं आता है.
इसके रखरखाव में भी कमी हो जाती है, और
कई बार इसका प्रयोग वह महिलाएं कर लेती हैं, जिनके हारमोंस बैलेंस नहीं होते हैं.
इस वजह से इसकी परफॉर्मेंस में या रिजल्ट में कमी आ जाती है.

लेकिन आदर्श स्थिति में यह 99% तक सही रिजल्ट देती है. इसलिए इस पर विश्वास किया जा सकता है.

ओवुलेशन किट की कीमत – Ovulation Kit Price

इस आर्टिकल के लिखे जाने तक ओवुलेशन किट की कीमत (Ovulation Kit Price) मार्केट में लगभग ₹500 से शुरू होती है, और आगे हजारों में इसकी कीमत जाती है.

इसकी कीमत इसके अंदर आने वाली स्ट्रिप के नंबर पर भी आधारित होती है.
यह ओवुलेशन किट आप किसी डॉक्टर के परामर्श से भी ले सकते हैं. आप अपने आसपास किसी मेडिकल स्टोर से भी इसे परचेंज कर सकते हैं.

आप चाहे तो ऑनलाइन भी आपको ओवुलेशन किट बड़ी आसानी से मिल जाएगी और सीधे आपके घर डिलीवर हो जाएगी.

ऑनलाइन बेस्ट ओवुलेशन किट या स्ट्रिप

ऑनलाइन कोई भी प्रोडक्ट किसी भी विश्वसनीय वेबसाइट से ही खरीदना चाहिए. इसलिए हम आपको मात्र तीन Ovulation Kit के बारे में बताने जा रहे हैं.  

i know Ovulation Kit
Ovlo Ovulation Test Kit for Women
Recombigen ovulation test kit

आप आप इन Ovulation Kit के विषय में और अधिक जानकारी इन पर क्लिक करके प्राप्त कर सकते हैं.

निष्कर्ष

धीरे-धीरे ओवुलेशन किट का प्रयोग भारत में बढ़ रहा है. यह अभी नया-नया कांसेप्ट इंडिया में समझ सकते हैं.
ओवुलेशन किट का प्रयोग करते समय आपको अपने एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड का पता होना अत्यधिक आवश्यक है. तभी यह कारगर होता है.

साथ ही साथ आपके हारमोंस बैलेंस होने चाहिए और महिला के पीरियड अनियमित नहीं होने चाहिए. इन परिस्थितियों में यह सही रिजल्ट देने में सक्षम नहीं रहता है.

इसका प्रयोग करने से किसी भी प्रकार की हानि शरीर को नहीं होती है. अपितु इसका प्रयोग करने से आपको फायदा अवश्य हो सकता है. आप अपेक्षाकृत कम समय में कंसीव कर सकते हैं.

आपके प्रश्न और उत्तर

 Q. क्या मैं पीरियड समाप्ति के 3 दिन बाद गर्भवती हो सकती हूं
Ans:
मंथली साइकिल समाप्त होने के 3 दिन बाद प्रेगनेंसी होने की संभावना काफी कम होती है. कुछ विशेष परिस्थितियों में ही ऐसा हो सकता है. अगर महिला का मंथली  साइकल  24 दिनों तक का होता है, तो इस परिस्थिति में अगर पुरुष का स्पर्म महिला के शरीर में 4 से 5 दिन रुक जाता है. वह Ovulation Period तक रुकने की वजह से प्रेगनेंसी को आगे बढ़ा सकता है. मुख्यतः 28 से 30 दिन के मंथली साइकिल में पीरियड समाप्त होने के 3 दिन बाद प्रेगनेंसी होने की संभावना नहीं के बराबर होती है.

Q. क्या मैं अपनी पीरियड समाप्ति से 7 दिन पहले गर्भवती हो सकती हूं?
Ans:
एक महिला अपनी ओव्यूलेशन पीरियड के दौरान ही गर्भवती हो सकती है. यह पूरे मासिक चक्र में केवल 24 घंटे का समय होता है. महिला की ओव्यूलेशन की अवधि पिछले 7 दिनों से पहले समाप्त होती है.

इसलिए, इस दौरान एक महिला के गर्भवती होने का कोई मौका नहीं है.

Q. ऑनलाइन कैसे ओवुलेशन डेट ज्ञात करूं?
Ans:
आप ऑनलाइन हमेशा एक्सपेक्टेड ओवुलेशन डेट ही ज्ञात कर पाएंगे. 2 महिलाओं की समान Monthly Cycle होने के बाद भी Ovulation date में अंतर आ सकता है.

आप ऑनलाइन जाकर ओवुलेशन कैलकुलेटर सर्च कीजिए और उसमें कुछ बेसिक इनफार्मेशन सम्मिट करके आप अपना एक्सपेक्टेड ओवुलेशन पीरियड ज्ञात कर सकते हैं.

Q. पीरियड के कितने दिनों बाद महिला के फलटाइल डेज आते हैं?
Ans:
यह बिल्कुल भी निश्चित समय नहीं है. इसके लक्षण मासिक धर्म में दिखाई देते हैं. उन लक्षणों को पहचानकर आप ओवुलेशन पीरियड को जान सकते हैं. ओवुलेशन डेट का सही समय जानने के लिए आपको उस दौरान ओवुलेशन किट का इस्तेमाल करना होगा.

Q. ओवुलेशन किट का प्रयोग कब फायदेमंद है
Ans:
अगर पति पत्नी अपनी सामाजिक, वैवाहिक और जीवन यापन संबंधी आवश्यकताओं की वजह से एक दूसरे को समय नहीं दे पा रहे हैं, तो ओवुलेशन किट आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं.

Q. LH हारमोंस के बढ़ने का क्या अर्थ है
Ans:
LH हार्मोन ओवुलेशन डेट से 24 घंटे पहले बढ़ जाता है. मेडिकल साइंस के अंदर इसके अपने कई सारे एक्सप्लेनेशन है.  लेकिन एक सामान्य व्यक्ति के लिए यह समझना ही काफी है, कि LH हारमोंस के बढ़ने के 24 घंटे के अंदर ही महिला का अंडा प्रेगनेंसी के लिए तैयार हो जाता है.

Q. मुझे ओव्यूलेशन किट का उपयोग कब करना चाहिए?
Ans:
ओवुलेशन किट का प्रयोग करने की तैयारी महिला को 3 से 4 महीने पहले से ही करनी है. इस दौरान महिला को अपना ओवुलेशन पीरियड जानने की कोशिश करनी है.

वह कुछ लक्षणों को देखकर और ऑनलाइन ओवुलेशन केलकुलेटर की मदद से यह कार्य कर सकती है. जब वह अपना ओवुलेशन पीरियड समझने लगे तो उसके बाद वह ओवुलेशन किट का प्रयोग करके और ओवुलेशन डे ज्ञात कर सकती है.

Q. किस ब्रांड की ओवुलेशन किट  अधिक विश्वसनीय है
Ans:
यदि आप एक ब्रांडेड ओव्यूलेशन किट की तलाश कर रहे हैं, जो विश्वसनीय है. उसके लिए, आपको एक ऑनलाइन ओव्यूलेशन किट खरीदना चाहिए.
क्योंकि यहां आपको अमेज़ॅन जैसी वेबसाइटों पर ग्राहक समीक्षा मिलती है. उन लोगों को पढ़कर आप ब्रांड का मूल्यांकन कर सकते हैं, और आप अपने लिए एक अच्छी गुणवत्ता वाले ब्रांडेड ओव्यूलेशन किट खरीद सकते हैं.

 



एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने