गर्भ में बेटा होने के 4 लक्षण बताइए | गर्भ में बेटा बेटी होने के लक्षण

0
1923
महिला के गर्भ में पुत्र या पुत्री कैसे पता करें. गर्भ में बेटा होने के 4 लक्षण और गर्भ में बेटी होने के 4 लक्षण को लेकर बात कर रहे हैं, जिसके माध्यम से आप पता लगा सकते हो कि महिला के गर्भ में पुत्र या पुत्री, कौन सी संतान है.

 

गर्भ में जेंडर परीक्षण के लिए पीढ़ी दर पीढ़ी इन लक्षणों का निरीक्षण किया जाता रहा है. जब भी कोई महिला गर्भवती होती है, तो उसकी खुशी की सीमा नहीं होती है. क्योंकि वहां मां बनने जा रही होती है.

 
भारत ही नहीं अपितु दुनिया के हर क्षेत्र में, हर समाज में इस बात को लेकर
हमेशा उत्सुकता बनी रहती है, कि घर में आने वाले नन्हे मेहमान का जेंडर
क्या है. क्योंकि इसके पीछे का मुख्य कारण यही समझ में आता है, कि अगर
दंपत्ति को इस बात का आईडिया हो जाता है, तो वह आने वाली संतान के अनुसार
उसके लिए व्यापक तैयारियां कर पाए जो कि अत्यंत खुशी की भी बात है.

 

गर्भ में बेटी बेटा होने के लक्षण के विषय में बात करते हैं. हम आपको गर्भ में बेटी, बेटा होने के 4 लक्षण बताने जा रहे हैं. यह लक्षण अक्सर महिलाओं के शरीर में आपको नजर आ जाएंगे.

 

 प्रेगनेंसी की अवस्था में परिवार का हर सदस्य इस बात को जानने के लिए बहुत ज्यादा उत्सुक होता है, कि हमारे समाज में परिवार में आने वाला जो नया मेहमान है, वह लड़का होगा या लड़की.

 

क्योंकि दोनों के होने के अपने अलग अलग मायने होते है. वैसे तो दोस्तों होता कुछ भी नहीं है. बस एक उत्सुकता मात्र होती है. और उसी उत्सुकता को शांत करने के लिए हम आपको कुछ लक्षण बता रहे हैं. ताकि आप आइडिया लगा सको. यह है बेटा या बेटी होने के 4 लक्षण ….

 

 



You May Also Like : गर्भ में क्या है यह जानना है तो यह 5 लक्षण देखिए


पुत्री होने के सटीक  लक्षण

महिला को कितनी नींद आती है

प्रेगनेंसी के कारण शरीर में जो हारमोंस उत्पन्न होते हैं. जो कि गर्भ के लिए अति आवश्यक भी है. उनकी वजह से शरीर में कई प्रकार के परिवर्तन उथल-पुथल होने लगती है.

कभी कभी गर्भस्थ महिला को नींद नहीं आने की शिकायत होने लगती है. वह अनिद्रा का शिकार हो जाती है. यह जिस हार्मोन की वजह से होता है. वह पुत्र प्राप्ति के लिए जिम्मेदार होता है.

कह सकते हैं कि नींद ना आने का जो लक्षण है वह पुत्र प्राप्ति को दिखाता है.

You May Also Like : नानी मां के सटीक उपाय से जानिए गर्भ में लड़का है या लड़की

You May Also Like : ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार गर्भ में पुत्र होने की पहचान


 

महिला को कितनी भूख लगती है

प्रेगनेंसी का असर महिला की डाइट पर भी नजर आता है. कभी-कभी महिला की डाइट औसत डाइट से बढ़ जाती है. तो कभी उतनी ही रहती है, या कम हो जाती है.

 

माना जाता है अगर महिला की भूख प्रेगनेंसी के बाद अधिक हो जाए तो यह गर्भ में पुत्र प्राप्ति की ओर संकेत करता है. वही अगर भूख सामान्य रहे, तो महिला को एक कन्या रत्न की प्राप्ति होगी. यह गर्भ में बेटी होने का लक्षण है.

गर्भ में बेटा होने के 4 लक्षण और गर्भ में बेटी होने के 4 लक्षण


You May Also Like : बच्चे की धड़कन और महिला के पेट से कैसे पता करे गर्भ में बेटा है

 

शरीर पर चर्बी देखकर

अगर गर्भावस्था के दौरान किसी महिला के हिप्स का साइज बढ़ रहा है. हिप्स पर अतिरिक्त वजन नजर आता है. तो यह यह गर्भ में बेटी होने का लक्षण है. क्योंकि यह वजन महिला के हिप्स पर फीमेल हार्मोन के कारण आने लगता है. जो हार्मोन गर्भ में पल रही कन्या के लिए आवश्यक है.

पुत्र प्राप्ति के दौरान भी महिला के हिप्स के ऊपर चर्बी बढ़ती है, लेकिन अपेक्षाकृत काफी कम बढ़ती है.

You May Also Like : दादी मां के सटीक उपाय से जानिए गर्भ में बेटा है या बेटी

ladka ya ladki, beta ya beti, putra ua putri

ब्रेस्ट साइज का अनुपात

अगर प्रेगनेंसी के दौरान महिला की ब्रेस्ट का साइज थोड़ा अधिक बढ़ता है. तो यह गर्भ में बिटिया होने की निशानी माना जाता है. यह भी फीमेल हारमोंस की अधिकता के कारण होता है. अगर वही गर्भ में बेटा होता है, तो ब्रेस्ट का साइज बढ़ता तो है, लेकिन काफी कम बढ़ता है.

 

You May Also Like : स्तन के आकार से जाने गर्भ में लड़का है या लड़की

लेकिन अब जो महिलाएं पहली बार मां बन रही है. तो वह तो इस बात का आईडिया नहीं लगा सकती है. लेकिन जो महिलाएं पहले से ही मां बन चुकी है. बड़ी उम्र की है वह इस बात को देखकर आसानी से बता सकती हैं, की महिला की ब्रेस्ट साइज पुत्र और पुत्री के समय कितनी बढ़ती है. और दूसरी बात उन्होंने आपको पहले भी देखा हो तभी.

यह थे  बेटी या बेटा होने के 4 लक्षण, आप इन्हें देखिए, और हमें कमेंट के माध्यम से यह जरूर बताएं कि क्या उन्होंने आपके लिए भी काम किया.

दोस्तों महिला के शरीर में आने वाले लक्षणों को देखकर हम शायद इस बात का पता लगाने की महिला के घर में कौन सी संतान है लेकिन दोस्तों यह भी उतना ही जरूरी है कि हमें उसके स्वास्थ्य का संपूर्ण ध्यान रखना है, उसके पोषण का विशेष ध्यान रखना आवश्यक होता है.  
 
आप अपने ऊपर इन लक्षणों को आजमा कर देखें और कमेंट के माध्यम से यह जरूर बताएं कि क्या यह लक्षण आपके लिए काम कर रहे हैं.
 

Q. गर्भ में पुत्र या पुत्री कैसे पता करें?

ANS : गर्भ में पुत्र या पुत्री कैसे पता करें, यह अपने आप में काफी मुश्किल कार्य होता है. महिलाओं को कुछ लक्षण आते हैं. जिनके आधार पर इस बात का अनुमान लगाया जाता है, गर्भ में पुत्र है या पुत्री है.

संतान प्राप्ति के लक्षण महिलाओं के शरीर में उत्पन्न होने वाले प्रेगनेंसी हारमोंस की मात्रा और प्रेगनेंसी हारमोंस के प्रति महिला के शरीर की सेंसटिविटी कितनी है, इस बात पर निर्भर करता है.
 
पुत्र और पुत्री प्राप्ति के बहुत सारे लक्षण महिलाओं के शरीर में नजर आते हैं, लेकिन कभी-कभी कुछ लक्षण ऑपोजिट प्रभाव भी रखते हैं. अर्थात लक्षण लड़के का होता है, लेकिन गर्भ में लड़की होती है. यह सब हारमोंस के प्रति महिला के शरीर की सेंसटिविटी पर निर्भर करता है. हालांकि ऐसे बहुत कम ही मामले होते हैं, लेकिन कोई भी लक्षण सौ पर्सेंट कार्य नहीं करता है.

गर्भ में पुत्र या पुत्री से संबंधित चार लक्षण इस आर्टिकल में वर्णित किए गए हैं.
 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें