गर्भ में पुत्र या पुत्री कैसे पता करें

0
452
हम आपके सामने नानी मां के द्वारा या कह सकते हैं, कि बुजुर्ग महिलाओं के द्वारा किस प्रकार से महिलाओं को देखकर वह इस बात का पता बता देती थी कि महिला के गर्भ में पुत्र या पुत्री .

 

आज हम अपने इस आर्टिकल में गर्भ में बेटा होने के 4 लक्षण और गर्भ में बेटी होने के 4 लक्षण के विषय में जानकारी देंगे. ताकि आप भी उनके द्वारा पता लगाए जाने वाले तरीके से पता लगा सके कि महिला के गर्भ में क्या है.

दोस्तों यह सारे के सारे लक्षण एक्सपीरियंस के आधार पर अनुभव के आधार पर दिए जा रहे हैं. जो कि हमारे समाज में प्राचीन समय से प्रचलित हैं. इनका कोई भी वैज्ञानिक आधार नहीं है.

लेकिन इन्हें समाज में काफी सटीक माना जाता है. साथ ही साथ हम यह भी बता दें कि हमारा उद्देश्य बिल्कुल भी लड़का या लड़की में अंतर करना नहीं है. मात्र उत्सुकता को देखते हुए और प्राचीन सामाजिक ज्ञान को बांटने के उद्देश्य से यह आर्टिकल दिया है.

You May Also Like : गर्भ में पुत्र या पुत्री होने के सटीक 4 लक्षण



यह सिर्फ महिला जो कि प्रेग्नेंट है, उसकी इच्छा होती है, कि उसके घर परिवार की इच्छा होती है, कि घर में कौन सा मेहमान आने वाला है.  वह इस बात को लेकर आईडिया लगा सकते हैं, और आने वाले मेहमान के लिए तैयारियां कर सकें.

symptoms of baby girl during pregnancy

You May Also Like : दादी मां के सटीक उपाय से जानिए गर्भ में बेटा है या बेटी

You May Also Like : बच्चे की धड़कन और महिला के पेट से कैसे पता करे गर्भ में बेटा है

  • दोस्तों अगर महिला को बच्चे के होने का एहसास अपने पेट के दाहिने हिस्से में ज्यादा होता है, तो यह लड़का होने की निशानी है.अगर महिला को यही एहसास बाई तरफ होता है. तो यह लड़की होने की निशानी है. यह एहसास होता कब है.

    एक एग्जांपल से समझ लेते हैं. जैसे कि महिला खाना खा लेती है. उसके बाद पेट में जगह कम पड़ने लगती है. तो ऐसे में अगर बच्चा सिकुड़ कर दाहिनी तरफ आ जाता है, या बाई तरफ आ जाता है. इस एहसास से हम लड़का या लड़की होने का पता लगाते हैं.

garbh me ladka hone ke lakshan


You May Also Like : ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार गर्भ में पुत्र होने की पहचान

  • अगर प्रेगनेंसी के दौरान महिला को आलस्य थकान बहुत ज्यादा महसूस होती है, महिला सौभाग्यशाली है, यह घर में एक प्यारी सी बिटिया होने की निशानी माना जाता है.

    अगर वही अपेक्षाकृत महिला को थकान नहीं लगती है, अधिकतर समय महिला अपने आप को फ्रेश महसूस करती है, तो महिला भाग्यशाली है उसके यहां एक बेटे का जन्म होने वाला है.गर्भ में लड़का होने का संकेत है.

Maternity Belt (4.3/5)

Maternity Belt (4.3/5)

 

Stretch Mark Cream for Pregnancy(4.7/5)

Stretch Mark Cream for Pregnancy(4.7/5)

 

To Be Moms Laddu - RAGI(4.6/5)

To Be Moms Laddu – RAGI(4.6/5)

 

Protinex Mama - Chocolate(4.4/5)

Protinex Mama – Chocolate(4.4/5)

 

Horlicks Health Drink for Pregnancy(4.4/5)

Horlicks Health Drink for Pregnancy(4.4/5)

 

Pregnancy pillow

Pregnancy pillow

 

You May Also Like : महिला के फेस की रीडिंग करके कैसे जाने गर्भ में लड़का है या लड़की है


  • दोस्तों वैसे तो जो पॉइंट हम बताने जा रहे हैं यह अलग-अलग महिलाओं में थोड़ा अलग अलग टाइम पर होता है. ओवरऑल अगर हम बात करें, महिला के गर्भ में मूवमेंट, बच्चे की मूवमेंट 5 महीने के आसपास शुरू होती है, तो यह अक्सर लड़का होने के संकेत होते हैं.अगर यही मूवमेंट महिला के गर्भ में 5 महीने से पहले शुरू हो जाए. तीसरे महीने के अंत में या चौथे महीने में शुरू हो जाती है.  यह लड़की होने के संकेत माने जाते हैं. क्योंकि बेबी गर्ल, बेबी ब्वॉय से ज्यादा एक्टिव होती है. यह एक्टिवनेस गर्भ से ही कायम रहती है.

You May Also Like : मनचाही संतान प्राप्ति का सही टाइम ये है


gender prediction test at home


You May Also Like : महिला के पेशाब के रंग से कैसे जाने गर्भ में क्या पल रहा है

You May Also Like : स्तन के आकार से जाने गर्भ में लड़का है या लड़की


  • महिला के कमर को देखकर भी इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है, कि महिला के गर्भ में लड़का है या लड़की.अगर महिला की कमर में चर्बी बढ़ी हुई है. और यह चर्बी पेट के चारों तरफ नहीं है. यह लड़का होने का संकेत होता है.

    अगर वही चर्बी कमर पर बिल्कुल भी नहीं है. यह चर्बी पेट पर है. पेट के चारों ओर है.  यह लड़की होने की निशानी होती है. महिला इस स्थिति में गोल मटोल लगती है.

दोस्तों महिला के शरीर में आने वाले लक्षणों को देखकर हम शायद इस बात का पता लगाने की महिला के घर में कौन सी संतान है. लेकिन दोस्तों यह भी उतना ही जरूरी है, कि हमें उसके स्वास्थ्य का संपूर्ण ध्यान रखना है. उसके पोषण का विशेष ध्यान रखना आवश्यक होता है.

धीरे-धीरे समय के साथ ऐसा बदलाव आ रहा है, कि लड़का और लड़की में अंतर समाप्त हो रहा है. साथ ही साथ हमारी युवा पीढ़ी भी दोनों में अब अंतर करना छोड़ रही है, जोकि अत्यंत सराहनीय कदम है.
 

हम आपके सामने नानी मां के द्वारा या कह सकते हैं, कि बुजुर्ग महिलाओं के द्वारा किस प्रकार से महिलाओं को देखकर वह इस बात का पता बता देती थी कि महिला के गर्भ में पुत्र या पुत्री .

आज हम अपने इस आर्टिकल में गर्भ में बेटा होने के 4 लक्षण और गर्भ में बेटी होने के 4 लक्षण के विषय में जानकारी देंगे. ताकि आप भी उनके द्वारा पता लगाए जाने वाले तरीके से पता लगा सके कि महिला के गर्भ में क्या है.

दोस्तों यह सारे के सारे लक्षण एक्सपीरियंस के आधार पर अनुभव के आधार पर दिए जा रहे हैं. जो कि हमारे समाज में प्राचीन समय से प्रचलित हैं. इनका कोई भी वैज्ञानिक आधार नहीं है.

लेकिन इन्हें समाज में काफी सटीक माना जाता है. साथ ही साथ हम यह भी बता दें कि हमारा उद्देश्य बिल्कुल भी लड़का या लड़की में अंतर करना नहीं है. मात्र उत्सुकता को देखते हुए और प्राचीन सामाजिक ज्ञान को बांटने के उद्देश्य से यह आर्टिकल दिया है.

You May Also Like : गर्भ में पुत्र या पुत्री होने के सटीक 4 लक्षण


यह सिर्फ महिला जो कि प्रेग्नेंट है, उसकी इच्छा होती है, कि उसके घर परिवार की इच्छा होती है, कि घर में कौन सा मेहमान आने वाला है.  वह इस बात को लेकर आईडिया लगा सकते हैं, और आने वाले मेहमान के लिए तैयारियां कर सकें.

symptoms of baby girl during pregnancy

 

 Click For 100+ Gifts For Pregnant Women >>

You May Also Like : दादी मां के सटीक उपाय से जानिए गर्भ में बेटा है या बेटी

You May Also Like : बच्चे की धड़कन और महिला के पेट से कैसे पता करे गर्भ में बेटा है

  • दोस्तों अगर महिला को बच्चे के होने का एहसास अपने पेट के दाहिने हिस्से में ज्यादा होता है, तो यह लड़का होने की निशानी है.अगर महिला को यही एहसास बाई तरफ होता है. तो यह लड़की होने की निशानी है. यह एहसास होता कब है.एक एग्जांपल से समझ लेते हैं. जैसे कि महिला खाना खा लेती है. उसके बाद पेट में जगह कम पड़ने लगती है. तो ऐसे में अगर बच्चा सिकुड़ कर दाहिनी तरफ आ जाता है, या बाई तरफ आ जाता है. इस एहसास से हम लड़का या लड़की होने का पता लगाते हैं.
garbh me ladka hone ke lakshan


You May Also Like : ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार गर्भ में पुत्र होने की पहचान

  • अगर प्रेगनेंसी के दौरान महिला को आलस्य थकान बहुत ज्यादा महसूस होती है, महिला सौभाग्यशाली है, यह घर में एक प्यारी सी बिटिया होने की निशानी माना जाता है.

    अगर वही अपेक्षाकृत महिला को थकान नहीं लगती है, अधिकतर समय महिला अपने आप को फ्रेश महसूस करती है, तो महिला भाग्यशाली है उसके यहां एक बेटे का जन्म होने वाला है.गर्भ में लड़का होने का संकेत है.

You May Also Like : महिला के फेस की रीडिंग करके कैसे जाने गर्भ में लड़का है या लड़की है

  • दोस्तों वैसे तो जो पॉइंट हम बताने जा रहे हैं यह अलग-अलग महिलाओं में थोड़ा अलग अलग टाइम पर होता है. ओवरऑल अगर हम बात करें, महिला के गर्भ में मूवमेंट, बच्चे की मूवमेंट 5 महीने के आसपास शुरू होती है, तो यह अक्सर लड़का होने के संकेत होते हैं.अगर यही मूवमेंट महिला के गर्भ में 5 महीने से पहले शुरू हो जाए. तीसरे महीने के अंत में या चौथे महीने में शुरू हो जाती है.  यह लड़की होने के संकेत माने जाते हैं. क्योंकि बेबी गर्ल, बेबी ब्वॉय से ज्यादा एक्टिव होती है. यह एक्टिवनेस गर्भ से ही कायम रहती है.

You May Also Like : मनचाही संतान प्राप्ति का सही टाइम ये है

gender prediction test at home


You May Also Like : महिला के पेशाब के रंग से कैसे जाने गर्भ में क्या पल रहा है

You May Also Like : स्तन के आकार से जाने गर्भ में लड़का है या लड़की

  • महिला के कमर को देखकर भी इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है, कि महिला के गर्भ में लड़का है या लड़की.अगर महिला की कमर में चर्बी बढ़ी हुई है. और यह चर्बी पेट के चारों तरफ नहीं है. यह लड़का होने का संकेत होता है.अगर वही चर्बी कमर पर बिल्कुल भी नहीं है. यह चर्बी पेट पर है. पेट के चारों ओर है.  यह लड़की होने की निशानी होती है. महिला इस स्थिति में गोल मटोल लगती है.

दोस्तों महिला के शरीर में आने वाले लक्षणों को देखकर हम शायद इस बात का पता लगाने की महिला के घर में कौन सी संतान है. लेकिन दोस्तों यह भी उतना ही जरूरी है, कि हमें उसके स्वास्थ्य का संपूर्ण ध्यान रखना है. उसके पोषण का विशेष ध्यान रखना आवश्यक होता है.

धीरे-धीरे समय के साथ ऐसा बदलाव आ रहा है, कि लड़का और लड़की में अंतर समाप्त हो रहा है. साथ ही साथ हमारी युवा पीढ़ी भी दोनों में अब अंतर करना छोड़ रही है, जोकि अत्यंत सराहनीय कदम है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें