अमेरिकन देशों में जेंडर प्रेडिक्शन के घरेलू तरीके | Homemade Methods of Gender Prediction in American Countries

 भारत में ही जेंडर डिक्शन को लेकर लोग उत्तेजित नहीं होते हैं, बल्कि विश्व के हर देश में जेंडर प्रिडिक्शन (gender prediction) को लेकर काफी उत्तेजना देखी जाती है.

 ऐसे ही कुछ जेंडर प्रिडिक्शन का तरीका विदेशों में प्रयोग होता है. जिसकी चर्चा हम यहां कर रहे हैं. आप इस आर्टिकल को मनोरंजन के दृष्टिकोण से ही देखें. आइए जानते हैं, वह कौन-कौन से तरीके हैं, जो विदेशों में जेंडर प्रिडिक्शन (gender prediction) के लिए होम रेमेडी की तरह प्रयोग किए जाते हैं.

 

अमेरिकन देशों में जेंडर प्रेडिक्शन के घरेलू तरीके | Homemade Methods of Gender Prediction in American Countries

चेहरे को देखकर जेंडर प्रिडिक्शन

कुछ अमेरिकन कंट्रीज में माना जाता है जब महिला के गर्भ में लड़की होती है तो धीरे-धीरे महिला का चेहरा गोल मटोल होने लगता है. अगर महिला का चेहरा सामान्य बना रहता है. उसके चेहरे में किसी भी प्रकार का परिवर्तन नहीं आता है, तो यह माना जाता है, कि महिला के गर्भ में एक लड़का है.

कमर का आकार देखकर जेंडर प्रिडिक्शन (Gender Prediction)

अगर महिला के चेहरे में किसी भी प्रकार का परिवर्तन नहीं आए, और महिला की कमर गोल मटोल नजर आने लगे, और पेट आगे की तरफ अधिक उभार लिए हुए नजर आता है, तो यह गर्भ में लड़का होने की निशानी मानी जाती है.

मिलन के समय के अनुसार जेंडर प्रिडिक्शन (Gender Prediction)

संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ देशों में या कुछ हिस्सों में यह माना जाता है, कि अगर गर्भधारण किसी कारणवश रात को 12:00 बजे के बाद होता है, तो फिर गर्भ में लड़की होने की संभावना सबसे अधिक होती है. लेकिन आपको प्रेम संबंध स्पेशल संतान प्राप्ति के लिए ही बनाने होंगे.

मक्का के दाने से जेंडर प्रिडिक्शन (Gender Prediction)

प्राचीन समय में अमेरिकन देशों में एक और तरीका प्रचलित है, जो काफी समय लेता है. माना जाता है, अगर महिला खेत में कुछ मक्के के दाने डाल दे . उनकी सिंचाई अपने यूरिन से करती है. जब मक्का का पेड़ बड़ा हो जाएगा और उस पर मक्का आएंगी तो उसके कलर से गर्भ में स्थापित जेंडर का पता चल जाता है.

यूरिन से सिंचाई के बाद आने वाली मक्का के कान अगर काला रंग लिए होते हैं, तो गर्भ में एक लड़का होता है. मक्का के फल में अगर रंग का परिवर्तन नजर नहीं आता है, तो यह गर्भ में एक लड़की है. ऐसा माना जाता है.

लेकिन वहां एक बात यह भी मानी जाती है कितने घंटे के दौरान मक्के का सेवन नहीं करना चाहिए और आप भी इस बात का ध्यान रखें.

छुरी कांटा से जेंडर प्रिडिक्शन (Gender Prediction)

मक्का के दाने से जेंडर प्रिडिक्शन अमेरिकन देशों में एक और दूसरा फनी तरीका है. जिसके माध्यम से जेंडर प्रिडिक्शन किया जाता है. खाने की टेबल पर दो चेयर लगाई जाती हैं. एक चेयर के नीचे चम्मच छिपा दी जाती है.

 दूसरी चेयर के नीचे कांटा छुपा दिया जाता है. महिला को खाना खाने के लिए बुलाया जाता है. महिला बैठने के लिए जिस भी चेयर को चुनती है उसके आधार पर जेंडर प्रिडिक्शन किया जाता है.

अगर महिला खाना उस चेयर पर बैठकर खाती है जिसके नीचे चम्मच छिपा है, तो महिला के गर्भ में एक लड़की होगी, ऐसा माना जाता है.

 अगर महिला उस चेयर पर खाना खाने बैठती है जिसके नीचे कांटा लगा है, या कांटा छिपा है. माना जाता है, महिला के गर्भ में एक लड़का है.

 

दुनिया के प्रत्येक देश में जेंडर प्रिडिक्शन के प्रति लोगों का इतना रुझान इसलिए नजर आता है, कि व्यक्ति हमेशा यह जानना चाहता है कि जो चीज छिपी है. वह क्या है?

 और दूसरा इसके पीछे कोई कारण नहीं होता है. इसलिए इस प्रकार के अलग-अलग तरीके प्रयोग में लाए जाते हैं.

 हालांकि यह तरीके बिल्कुल भी 100% काम नहीं करते हैं, और इनके आधार पर जेंडर प्रेडिक्शन करके किसी भी प्रकार का निर्णय लेना एक गलत निर्णय साबित होता है .

Post a Comment

Previous Post Next Post

India's Best Deal