जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय – 3 best tips

0
220

उन महिलाओं के लिए लेकर आए हैं, जो जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय तलाश रही है.

जिन्हें प्रेगनेंसी होने में किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है.  प्रेगनेंसी सामान्यतः हो जाती है तो फिर कोई समस्या ही नहीं है लेकिन जब कोशिश करने के बाद भी प्रेगनेंसी नहीं हो रही होती है, तो फिर बहुत सारी छोटी छोटी बातों का ध्यान रखना आवश्यक हो जाता है.

जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय

जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय के अंतर्गत एक उपाय बताया जाता है यदि गर्भ धारण करना है, तो कूल्हों के नीचे तकिया रखकर गर्भधारण की कोशिश करनी चाहिए. इससे गर्भधारण जल्दी हो जाता है.

 इस बात में कितनी सच्चाई है. यह बात कहां तक फिट बैठती है.

कुछ स्टडीज से यह संकेत मिलता है, कि कूल्हों के नीचे तकिया रखने से आपके गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है. आप इस तरीके को आजमा सकती हैं, क्योंकि इससे आपको कोई नुकसान नहीं पहुँचेगा.

कुछ परिस्थितियों में से काफी लाभ मिलता है. वह कौन-कौन सी परिस्थितियां हैं, और कितनी देर तक आपको इस अवस्था में रहना है, बात कर लेते हैं.

जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय

वजाइनल पीएच

जैसा कि हमने काफी सारे वीडियोस में पहले भी बताया है कि महिला की योनि का वातावरण एसिडिक होता है. जिसकी वजह से स्पर्म का वहां रह पाना काफी मुश्किल हो जाता है. क्योंकि हमारे शरीर का एक प्राकृतिक गुण है, कि वह शरीर में आने वाले हर एक वस्तु को अपना दुश्मन समझता है. और उससे लड़कर उसे समाप्त करने की चेष्टा करता है.

भोजन के अलावा कुछ भी अगर हमारे शरीर में आता है, तो हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली उसका विरोध करती है.
ऐसे ही जब शुक्राणु महिला के शरीर में प्रवेश करते हैं, तो उन्हें भी समाप्त करने की कोशिश की जाती है. इसलिए महिला के शरीर में फैलोपियन ट्यूब तक बहुत ही कम शुक्राणु पहुंच पाते हैं.

हालांकि सर्वाइकल म्यूकस एसिडिक वातावरण में होने वाले डैमेज को रोकने में मदद करता है. लेकिन डैमेज इस बात पर निर्भर करता है, कि ऐसे एसिडिक वातावरण कितना स्ट्रांग है, और सर्वाइकल म्यूकस कितनी मात्रा में उपस्थित है.

यहां सबसे महत्वपूर्ण चीज है ग्रेविटी अगर शुक्राणुओं को ग्रेविटी का सहारा मिल जाता है, तो वह जल्दी से फैलोपियन ट्यूब में पहुंचकर अपने कार्य को अंजाम दे सकते हैं. अगर महिला कमर के नीचे तकिया लगा दी है, तो ग्रेविटी का सहारा शुक्राणुओं को मिल जाता है.

शुक्राणु की क्वालिटी

 स्पर्म की क्वालिटी कभी-कभी प्रेगनेंसी इस वजह से नहीं होती है, कि पुरुष के स्पर्म की क्वालिटी थोड़ा वीक होती है. उनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. जिसकी वजह से वह महिला के शरीर में इस एसिडिक वातावरण में सरवाइव नहीं कर पाते हैं, और फैलोपियन ट्यूब तक स्पर्म नहीं पहुंच पाता है.

ऐसे में महिला के शरीर में सब कुछ सही होते हुए भी प्रेगनेंसी नहीं होती है.  अगर महिला कमर के नीचे तकिए का इस्तेमाल करती है, तो वह इस वातावरण के संपर्क में काफी कम आएंगे, और कम समय में फैलोपियन ट्यूब तक पहुंच सकते हैं.

सर्वाइकल म्यूकस कम होना

हर महिला का शरीर का कंस्ट्रक्शन और फॉरमेशन अलग अलग होता है. शरीर के गुण धर्म अलग होते हैं. महिला अलग-अलग प्रकार के वातावरण में रहती है और अलग प्रकार का भोजन ग्रहण करती है. अर्थात लाइफस्टाइल अलग होता है.

ऐसे में काफी सारी परिस्थितियां हैं, जिसमें महिला के शरीर में सर्वाइकल म्यूकस आवश्यकता से कम बन सकता है. ऐसे में योनि में उपस्थित एसिडिक मीडियम के अंदर शुक्राणु कम सर्वाइकल म्यूकस की वजह से अपने आप को जीवित रख पाने में सक्षम नहीं होते हैं. अगर महिला कमर के नीचे तकिया का इस्तेमाल करती है, तो स्पर्म इस वातावरण के संपर्क में कम से कम आएंगे.

बहुत से स्पर्म महिला के इस एसिडिक वातावरण के संपर्क में आए बिना ही आगे बढ़ सकते हैं. महिला को प्रेगनेंसी होने की संभावना काफी अधिक बढ़ जाती है.

कुल मिलाकर यहां पर यह बात समझ में आती है, कि अगर महिला प्रेगनेंसी के लिए संबंध स्थापित करते समय कूल्हे के नीचे तकिया का इस्तेमाल करती है, तो वह उसके लिए काफी लाभदायक रहेगा.

——

यह ठीक कुछ जल्दी प्रेग्नेंट होने के उपाय अगर आप जल्दी प्रेग्नेंट होना चाहती है, तो आप इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखें. अगर आपका कोई प्रश्न है, तो आप कमेंट के माध्यम से उनसे जुड़ सकते हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें