Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शनिवार, 31 अगस्त 2019

बेकिंग सोडा से गर्भावस्था परीक्षण कैसे करते हैं

नमस्कार दोस्तों अपने POST के माध्यम से आज हम आपको बताने वाले हैं, अगर किसी महिला को शक हो रहा है कि वह प्रेग्नेंट है कि नहीं  तो घर पर ही इस बात का कैसे पता लगाएं . असुरक्षित तरीके से मेल कर लेने पर शक होता है या पीरियड मिस हो जाने के कारण अगर इस बात का शक हो कि वह प्रेग्नेंट है कि नहीं उसके लिए कुछ घरेलू तरीके हैं आज हम उन्हीं में से एक तरीके पर चर्चा करेंगे क्योंकि कभी-कभी मार्केट से प्रेगनेंसी किट लेकर आने में भी झिझक महसूस होती है दोस्तों POST शुरू करते हैं -

घर पर सिरके से कैसे चेक करते हैं प्रेगनेंसी, pregnancy test at home

You May Also Like : पल्स विधि द्वारा जेंडर प्रिडिक्शन

आइए दोस्तों इस बात पर पहले चर्चा कर लेते हैं कि इस टेस्ट का आधार क्या है
जब महिलाएं प्रेग्नेंट होती है तभी प्रेग्नेंट होते हैं उनके शरीर में एक विशेष प्रकार के हार्मोन का प्रोडक्शन शुरू होता है, जो कि सिर्फ प्रेग्नेंट महिलाओं के शरीर में बनता है जिसे हम  ह्यूमन कोरिओनिक गोनाडोट्रोपिन अर्थात  एचसीजी (H.C.G.) हार्मोन कहते हैं,  जो गर्भावस्था के शुरूआत में फर्टिलाइजेशन के बाद अंडे को पोषण देने का काम करता है जिससे अंडा विकसित होता है. इस हारमोंस की उपस्थिति से ही हम यह जान पाते हैं कि महिला प्रेग्नेंट है कि नहीं.
You May Also Like : घर पर चीनी से प्रेगनेंसी कैसे चेक करें
You May Also Like : ब्लीचिंग पाउडर से जेंडर प्रिडिक्शन कैसे करते हैं


कितने दिनों बात कर सकते हैं यह एक टेस्ट
 जैसा की हमने पहले भी बताया है कि H.C.G. की उपस्थिति के आधार पर ही हम जान पाते हैं प्रेगनेंसी है कि नहीं . प्रेगनेंसी जिस दिन होती है उसके बाद 5 दिन  के बाद हम H.C.G. की उपस्थिति का पता लगा सकते हैं, कभी भी . H.C.G. की उपस्थिति महिला के ब्लड और यूरिन के अंदर होती है . Lab के द्वारा ब्लड या यूरिन के टेस्ट करा कर भी हम पता लगा सकते हैं प्रेगनेंसी है कि नहीं .
You May Also Like : बेकिंग सोडा से गर्भावस्था परीक्षण कैसे करते हैं

यहां एक बात यह समझने वाली है, अगर महिला को प्रेगनेंसी पीरियड समाप्त होने के बाद शुरू के 15 दिन के अंदर हो गई है, नेक्स्ट पीरियड आने से पहले ही हम पता लगा सकते हैं कि प्रेगनेंसी है कि नहीं, H.C.G.  हारमोंस फर्टिलाइजेशन के बाद 5 दिन के अंदर इतना एक्टिव हो जाता है कि उसकी प्रजेंस का पता लगाया जा सकता है.
कुछ महिलाओं में यह 15 से 20 दिन के बाद ही इतना एक्टिव होता है कि उसका पता लगाया जा सके .
अब आपको इतना तो पता चल गया होगा कि आप को टेस्ट करना कब है.
You May Also Like : प्रेगनेंसी के दौरान इन 17 बातों का ध्यान रखें - Part #1


how check i am pregnant hindi, how to know pregnancy in first week


इस परीक्षण के लिए आपको दो चीजों की आवश्यकता होती है जो बहुत ही आसानी से मिल जाती है  महिला का यूरिन और बेकिंग सोडा
You May Also Like : प्रेगनेंसी से बचने के घरेलू उपाय

घर पर ही बेकिंग सोडा और महिला के यूरिन की सहायता से भी प्रेगनेंसी का परीक्षण किया जा सकता है, इस तरह से प्रेगनेंसी टेस्ट करना बहुत ही आसान है, एक कांच के बर्तन में आप एक चम्मच बेकिंग सोडा ले लें, अब बेकिंग सोडा के अंदर लगभग 100 से 150ML तक यूरिन मिला दे  और 5 मिनट तक उसे देखें अगर आप को उसके अंदर बुलबुले उठते नजर आए या फिर उसका रंग आपको थोड़ा सा गुलाबी गुलाबी सा नजर आए या यह दोनों लक्षण नजर आते हैं तो आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं.
You May Also Like : अल्कोहल से जेंडर प्रिडिक्शन 1 मिनट में
You May Also Like : बेकिंग सोडा और यूरिन से कैसे करते हैं जेंडर प्रेडिक्शन केवल 1 मिनट में - Gender prediction


अगर यूरिन और बेकिंग सोडा को मिलाने पर बिल्कुल भी बुलबुले नहीं उठते हैं और ना ही उसके रंग में कोई परिवर्तन होता है तो टेस्ट नेगेटिव माना जाता है अर्थात महिला प्रेग्नेंट नहीं है बिल्कुल कंफर्म रिजल्ट के लिए आपको लगभग रोज सुबह के समय लगभग 3 दिन तक आप को टेस्ट करना उसके बाद ही आपको ही डिसीजन ले.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें