घर पर चीनी से प्रेगनेंसी कैसे चेक करें - Sugar se Gender Prediction Kaise Hota Hai

अगर किसी महिला को शक हो रहा है, कि वह प्रेग्नेंट कि नहीं  है. तो घर पर ही इस बात का कैसे पता लगाएं. 

तो घर पर ही चीनी से प्रेगनेंसी चेक कर सकते हैं.

असुरक्षित तरीके से मेल या पीरियड मिस हो जाने के कारण , इस बात का शक हो कि वह प्रेग्नेंट है . उसके लिए कुछ घरेलू तरीके हैं.

आज हम उन्हीं में से एक तरीके पर चर्चा करेंगे. क्योंकि कभी-कभी मार्केट से प्रेगनेंसी किट लेकर आने में भी झिझक महसूस होती है.
 

प्रेगनेंसी टेस्ट का आधार  


आइए दोस्तों इस बात पर पहले चर्चा कर लेते हैं कि इस टेस्ट का आधार क्या है

जब महिलाएं प्रेग्नेंट होती है. उनके शरीर में एक विशेष प्रकार के हार्मोन का प्रोडक्शन शुरू होता है. जो कि सिर्फ प्रेग्नेंट महिलाओं के शरीर में बनता है.

जिसे हम  ह्यूमन कोरिओनिक गोनाडोट्रोपिन अर्थात  एचसीजी (H.C.G.) हार्मोन कहते हैं. 

गर्भावस्था के शुरूआत में फर्टिलाइजेशन के बाद अंडे को पोषण देने का काम करता है. जिससे अंडा विकसित होता है. इस हारमोंस की उपस्थिति से ही हम यह जान पाते हैं, कि महिला प्रेग्नेंट है.
  
जैसा की हमने पहले भी बताया है, कि H.C.G. की उपस्थिति के आधार पर ही हम जान पाते हैं, प्रेगनेंसी है.  प्रेगनेंसी जिस दिन होती है, उसके बाद 5 दिन  के बाद हम H.C.G. की उपस्थिति का पता लगा सकते हैं.
 
H.C.G. की उपस्थिति महिला के ब्लड और यूरिन के अंदर होती है.  Lab के द्वारा ब्लड या यूरिन के टेस्ट करा कर भी हम प्रेगनेंसी कापता लगा सकते हैं.

यहां एक बात यह समझने वाली है, अगर महिला को प्रेगनेंसी पीरियड समाप्त होने के बाद शुरू के 15 दिन के अंदर हो गई है. नेक्स्ट पीरियड आने से पहले ही हम पता लगा सकते हैं, कि प्रेगनेंसी है कि नहीं है.

H.C.G.  हारमोंस फर्टिलाइजेशन के बाद 5 दिन के अंदर इतना एक्टिव हो जाता है, कि उसकी प्रजेंस का पता लगाया जा सकता है.

कुछ महिलाओं में यह 15 से 20 दिन के बाद ही इतना एक्टिव होता है, कि उसका पता लगाया जा सके.
अब आपको इतना तो पता चल गया होगा कि आप को टेस्ट करना कब है.


You May Also Like : घर पर टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी कैसे चेक करें
You May Also Like : गर्भावस्था के प्रथम सप्ताह में नजर आने वाले लक्षण
You May Also Like : प्रेगनेंसी से बचने के घरेलू उपाय
You May Also Like : गर्भ में पुत्र प्राप्ति का उपाय - गाय का दूध
 

प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करते हैं


मैं दो चीजों की आवश्यकता होती है महिला का यूरिन और चीनी

महिला का यूरिन सुबह सोकर उठने के बाद पहली बार का होना चाहिए.  अर्थात जब आप सुबह फ्रेश होने के लिए टॉयलेट जाती है, तो उस वक्त जो यूरिन रिलीज होगा, आप उसे कांच के गिलास में एकत्र कर ले.

दोस्तों इस प्रयोग में हमें चीनी की आवश्यकता होती है. आप आधा चम्मच चीनी एक डिस्पोजल में या कांच के गिलास में ले. अब इसके अंदर यूरिन डाल दें.  कुछ देर बाद अगर चीन इसके अंदर घुल जाती है. महिला प्रेग्नेंट नहीं है. यह इस बात का संकेत है.

अगर चीनी नहीं घुलती है. चीनी के चारों तरफ गुच्छे से बन जाते हैं, तो यह इस बात का सबूत है, कि महिला प्रेग्नेंट हो सकती है.

दोस्तों हमारा आपसे निवेदन है कि आप यह प्रयोग लगभग 3 दिन रोज़ सुबह कीजिए और तभी किसी नतीजे पर आप पहुंचे.

kaise jane pregnant hai ya nahi, मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं गर्भवती हूँ


प्रेगनेंसी टेस्ट का रिजल्ट इसमें प्रयोग होने वाले चीनी में उपस्थित एलिमेंट के ऊपर निर्भर करता है, और हम यह सुनिश्चित नहीं कर सकते कि इसके अंदर वही सब तत्व मौजूद है, एलिमेंट मौजूद है, जो प्रेगनेंसी रिजल्ट के लिए रिस्पॉन्सिबल है.
 
 आप इस बात को ध्यान रखें.  क्योंकि आजकल नई नई रिसर्च की वजह से प्रोडक्ट बदलते रहते हैं. लेकिन एक बार प्रयोग जरूर करें और कमेंट में हमें अपना एक्सपीरियंस शेयर करें.


जाने अमेजन पर ऑनलाइन प्रेगनेंसी किट को कैसे खरीदें, कहां से खरीदें और कीमत



Post a Comment

Previous Post Next Post

India's Best Deal