Header Ads


Pregnancy Care items

गर्भावस्था में कुछ भोजन बच्चे के रंग को साफ करते हैं

 हम चर्चा करने जा रहे हैं कि प्रेगनेंसी के दौरान ऐसी क्या-क्या चीजें खाई जाए जिससे कि बच्चा सुंदर पैदा हो. बच्चे का रंग साफ हो.

बच्चे का रंग  काफी हद तक माता-पिता के जींस पर निर्भर करता है, लेकिन कुछ हद तक अपने भोजन का ध्यान रखने से कुछ चीजों को कुछ हद तक कंट्रोल किया जा सकता है. 19-20% का फर्क लाया जा सकता है, जो अपने आप में काफी बड़ी बात है.

आज हम बात करेंगे बच्चे का रंग किस बात पर निर्भर करता है.
कौन-कौन से खाद्य पदार्थ हमारी मदद कर सकते हैं.
अगर आप चाहते हैं आपका बच्चा क्यूट हो, चमकती, दमकती त्वचा का मालिक हो. सुंदर लगे, तो अपने भोजन में कुछ खाद्य पदार्थों को अवश्य शामिल करें.


गर्भावस्था में कुछ भोजन बच्चे के रंग को साफ करते हैं

बच्चे का रंग किस बात पर निर्भर करता है


अगर आप ऐसे क्षेत्र में रहते हैं, जहां पर पराबैंगनी किरणों का खतरा ज्यादा रहता है , तो आपका रंग ज्यादा डार्क होगा. अगर आप ऐसे क्षेत्र में रहते हैं, जहां पर इन पराबैंगनी या अल्ट्रावायलेट किरणों से आपका सामना कम पड़ता है, तो उस क्षेत्र के लोग गोरे रंग के होंगे.

यहां पर आप यह भी कह सकते हैं, कि अगर आप धूप में ज्यादा निकलते हैं, जिसके अंदर अल्ट्रावायलेट किरणें होती हैं, तो आपका रंग सांवला होगा.

अगर आप हमेशा घर के अंदर ही रहते हैं. सूर्य से आपका सामना ना के बराबर होता है, तो आपका रंग काफी हद तक साफ होगा. इस बात का अनुभव हर व्यक्ति अपने जीवन में करता है.

आपकी त्वचा की यही प्रकृति आपके जींस के माध्यम से आपके बच्चे में ट्रांसफर होती है. क्योंकि आप जिस वातावरण में रहते हैं, बच्चा भी उसी वातावरण में रहेगा. इस बात की संभावना है, तो आपके बच्चे की त्वचा की प्रकृति भी आपकी त्वचा की प्रकृति जैसी ही होगी.

आप बहुत ज्यादा तो बच्चे की त्वचा के रंग को परिवर्तित नहीं कर सकते हैं, लेकिन बच्चे की सुंदरता को बढ़ा सकते हैं . सुंदरता का संबंध कभी भी रंग से नहीं होता है. बल्कि त्वचा की कांति से होता है, और बच्चा जितना अच्छा पोषण माता के शरीर के अंदर प्राप्त करता है. वह पोषण जिंदगी भर उसके साथ रहता है.

अगर आप चाहते हैं आपका बच्चा क्यूट हो. चमकती, दमकती त्वचा का मालिक हो. सुंदर लगे, तो अपने भोजन में कुछ खाद्य पदार्थों को अवश्य शामिल करें.

प्रेगनेंसी में कच्चा भोजन खाएं

महिला को पौष्टिक भोजन खाना बहुत ज्यादा आवश्यक है महिला जो जो भोजन कच्चा खा सकती है अर्थात जो सब्जियां कच्चे खा सकती है उसे जरूर खानी चाहिए यह उसके बच्चे के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद है.

प्रेगनेंसी में बादाम का सेवन

प्रेग्नेंसी में बादाम का सेवन करने से शिशु के रंग पर असर पड़ता है. उसका रंग निखरता है. साथ ही शिशु के सही विकास के लिए भी बादाम फायदेमंद होता है.

प्रेगनेंसी में अनार का जूस

गर्भवती स्त्री को अपने भोजन के माध्यम से अनार का सेवन करना चाहिए अनार का जूस पीना चाहिए अनार का जूस पीने से बच्चे का रंग निखरता है बच्चा स्वस्थ पैदा होता है शिशु और मां दोनों की हड्डियां भी मजबूत रहती हैं.

प्रेगनेंसी में चुकंदर का जूस

गर्भवती स्त्री को अपने भोजन के माध्यम से चुकंदर का जूस भी पीना चाहिए यह भी रक्त की मात्रा को शरीर में बढ़ाता है और पैदा होने के बाद भी त्वचा की कांति बनी रहती है.

प्रेगनेंसी में गाजर का जूस

गाजर का जूस भी महिला को बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है लेकिन गाजर हमेशा विंटर सीजन में ही मिलती है और पैदा होती है तो उस वक्त यह जूस पीना सही रहता है अगर हम बेमौसम सब्जी का प्रयोग भोजन में करते हैं तो उसमें वह बात नहीं होती.

कुछ मात्रा में अंगूर खाएं

प्रेगनेंसी के दौरान अंगूर सोच समझ के खाने चाहिए लेकिन आप प्रेगनेंसी में काले अंगूर का सेवन सीमित मात्रा में कर सकती हैं यह रक्त को शुद्ध करता है और कई प्रकार की बीमारियों से भी रक्षा करता है रक्त शुद्ध मतलब सुंदर त्वचा.

केसर वाला दूध

हमारे भारतवर्ष में मान्यता है अगर गर्भवती स्त्री केसर दूध का प्रयोग प्रेगनेंसी के दौरान करती है तो उसके होने वाले बच्चे का रंग का हिस्सा होता है अभी प्रयोग करें इसका भी प्रयोग करें.

रसीले संतरे का प्रयोग

रसीले ऑरेंज का प्रयोग महिला को अपने भोजन के माध्यम से करना चाहिए उसका गूदा भी खाना चाहिए इससे विटामिन सी की प्राप्ति होती है जो बच्चे की त्वचा को निखरता है.

ताजा नारियल पानी

गर्भवती स्त्री को ताजे नारियल का पानी पीना चाहिए और नारियल का गूदा भी खाना चाहिए इसमें पोटेशियम होता है जो बच्चे की त्वचा और बाल दोनों के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी होता है.  क्यूट बेबी चाहिए तो उसके लिए बच्चे के बाल भी काफी मायने रखते हैं.

कच्चा नारियल और मिश्री

प्रेगनेंसी के दौरान कच्चे नारियल को मिश्री के साथ चबा चबा कर खाने से बच्चा सुंदर पैदा होता है ऐसा माना जाता है.

अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान सही तरीके से इन सब का प्रयोग करेंगे, तो इसका फरक आपके गर्भस्थ शिशु के रंग पर जरूर नजर आएगा.



No comments

Powered by Blogger.