🟡 प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है

0
141
प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है

अक्सर प्रेगनेंसी के दौरान पेशाब का रंग बदल जाता है, और यह प्रश्न उठता है कि प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है.
प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग एकदम से हर महिला के लिए एक जैसा नहीं होता है. यह महिला के आचार, विचार, सेहत, भोजन और लाइफस्टाइल पर बहुत अधिक निर्भर करता है.


प्रेगनेंसी के दौरान महिला के पेशाब का रंग वास्तव में बदल जाता है. इसके पीछे कुछ विशेष कारण होते हैं.
छोटी सी बात हमें यह समझने वाली है, कि जब महिला गर्भवती होती है तो महिला के शरीर में एक नन्ही सी जान पल रही होती है. उसकी सुरक्षा के लिए भी शरीर को काफी कार्य करना पड़ता है.


जब महिला गर्भवती होती तो बहुत सारे हार्मोन शरीर की सफाई का कार्य करने लगते हैं. बहुत सारी डेड सेल्स शरीर के विभिन्न हिस्सों से शरीर से बाहर निकालने की प्रोसेस शुरू हो जाती है. पेशाब एक ऐसा माध्यम है जो शरीर के अपशिष्ट पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने का कार्य करता है. ऐसे में विशेषकर गर्भावस्था में पेशाब का रंग बदल जाता है.

क्या गर्भावस्था में पेशाब का रंग बदल जाता है

किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के पेशाब का रंग हल्का ट्रांसपेरेंट या हल्के पीले रंग का होता है. अगर किसी कारणवश व्यक्ति के शरीर में पानी की कमी हो जाती है, तो पेशाब का रंग पीले रंग का भी हो जाता है, या किसी विशेष मेडिसिन का प्रयोग अगर पुरुष या महिला कर रही है, तो उस अवस्था में भी पेशाब का रंग बदल जाता है.


परंतु प्रेगनेंसी के दौरान शरीर के अंदर विभिन्न अंगों में और ब्लड के अंदर डेड सेल्स को बाहर निकालने का कार्य शरीर करना शुरू कर देता है जो लगातार पूरी प्रेगनेंसी के दौरान चलता है. ऐसे में गर्भावस्था में पेशाब का रंग सामान्य रंग से बदल जाता है.
पेशाब पीला होने का कारण पिग्मेंट यूरोक्रोम भी हो सकता है जिसे ‘यूरोबिलिन’ भी कहा जाता है. जब शरीर डेड लाल कोशिकाओं से हीमोग्लोबिन निकालता है, उससे यूरोबिलिन बनता है. इसके कारण से पेशाब का रंग बदल जाता है.

प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है

प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग पीला क्यों होता है 🟡🟡

महिला अगर प्रेगनेंसी के लिए कोशिश कर रही है और उसके पेशाब का रंग पीला हो जाता है तो उसे प्रेगनेंसी की एक निशानी माना जाता है. अर्थात गर्भावस्था में पेशाब का रंग पीला होना गर्भावस्था होने की एक निशानी समाज में माना जाता है.

शरीर के अंदर स्थित डेड कोशिकाओं को ढूंढ ढूंढ कर शरीर से बाहर निकाला जाता है और शरीर को स्वच्छ और साफ करने का कार्य कई प्रकार के हार्मोन के द्वारा किया जाता है डैड लाल मृत कोशिकाएं भी पेशाब के रंग को हल्का पीला करने में मदद करती है. जब तक यह कोशिकाएं पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर होती रहती है तब तक पेशाब का रंग पीला बना रहता है.
डेड लाल कोशिकाओं से हीमोग्लोबिन निकालता है, उससे यूरोबिलिन बनता है. इसके कारण से पेशाब के रंग में पीलापन बढ़ जाता है.

गर्भावस्था में पेशाब का रंग पीला होने के मुख्य कारण

पेशाब के दौरान प्रेगनेंसी की वजह से महिला के पेशाब का रंग पीला नहीं होता है. इसके बहुत सारे कारण होते हैं. जिन पर एक नजर डाल देते हैं.

प्रसवपूर्व मल्टीविटामिन फॉर अदर टेबलेट

प्रेगनेंसी होने के तुरंत बाद महिला की डाइट में काफी सारे मल्टीविटामिन, फोलिक एसिड, कैल्शियम और आयरन की टेबलेट जुड़ जाती हैं, इनके कंपोजीशन की वजह से भी महिला के पेशाब का रंग बदल जाता है.

अधिक प्रेगनेंसी स्टाइलिश मैक्सी ड्रेस देखने के लिए इमेज पर क्लिक करें>>

प्रेगनेंसी में महिला का आहार

महिला का आहार प्रेगनेंसी के दौरान महिला के आहार का प्रकार पूर्ण रूप से बदल जाता है. महिला की डाइट में फल फ्रूट डेयरी प्रोडक्ट और काफी स्वास्थ्य वर्धक खाद्य पदार्थ शामिल हो जाते हैं. जिन्हें महिला अब तक नहीं ले रही थी. ऐसे में महिला के पेशाब का रंग बदल सकता है.

डिहाईड्रेशन

अक्सर प्रेगनेंसी के दौरान महिला को अक्सर प्रेगनेंसी के दौरान महिला को डिहाइड्रेशन की समस्या होने की शिकायत रहती है. क्योंकि महिला को सामान्य अवस्था से अधिक पानी की आवश्यकता शरीर में प्रेगनेंसी के दौरान पड़ती है, और महिला मुख्यतः अपनी पानी पीने की आदतों को नहीं बदलती है.
ऐसे में डिहाइड्रेशन के कारण भी पेशाब का रंग बदल जाता है.

किडनी का प्रॉपर तरीके से काम नहीं करना

कई बार ऐसी समस्या आ जाती है कि महिला की किडनी प्रॉपर तरीके से काम नहीं कर पाती है. वह सफाई का कार्य करती है, और वह अपना कार्य ठीक प्रकार से नहीं कर पाती है. इस कारण से यूरिन का भी रंग बदल जाता है.

मूत्र मार्ग में संक्रमण

प्रेगनेंसी के दौरान महिला के इम्यून सिस्टम का कार्य काफी अधिक बढ़ जाता है. महिला का इम्यून सिस्टम मुख्य रूप से गर्भस्थ शिशु की सुरक्षा के लिए कार्य करता है, और महिला की सुरक्षा कमजोर हो जाती है. जिस कारण से महिला को इंफेक्शन होने का खतरा काफी अधिक हो जाता है.
अक्सर महिला को यूरिनल इंफेक्शन होने की संभावना बहुत अधिक हो जाती है, और इस प्रकार का इन्फेक्शन होने से भी पेशाब के रंग में परिवर्तन आ जाता है.

मल्टीविटामिन(s)

4.3

शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है उसकी पूर्ति के लिए आप मल्टीविटामिंस का प्रयोग कर सकते हैं. यह महिलाओं की ऊर्जा फ्लैक्सिबिलिटी और मजबूती को वापस लाएगा.

  • Your brand choice
  • Your product in your budget
  • Customer reviews
  • Ayurvedic products
  • Must Know About Multivitamins
  • Refund policy on health products is less
Check Current Price

पेशाब में ब्लड आना

प्रेगनेंसी के दौरान कई प्रकार की समस्याएं महिलाओं को हो सकती हैं. हार्मोन डिसबैलेंस होने की वजह से भी और भी दूसरी समस्याओं के कारण महिला को यूरिन में हल्का ब्लड आ सकता है. जिसके कारण पेशाब का रंग बदल जाता है.

पथरी होना

यह भी एक ऐसी समस्या है जिसकी वजह से यूरिन का रंग बदल सकता है पथरी की वजह से संबंधित अंग अपने कार्य को ठीक प्रकार से नहीं कर पाते हैं जिसके कारण से पेशाब का रंग बदल जाता है.

निष्कर्ष

प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है, इसको बिल्कुल भी निश्चित नहीं किया जा सकता है.
इंफेक्शन की वजह से महिला के पेशाब के रंग में लालिमा आ सकती है. वहीं ब्लड में आने की वजह से भी पेशाब में लालिमा आ जाती है.
इंफेक्शन के कारण यूरिन में गुलाबी रंग नजर आ सकता है और जब शरीर की सफाई हो रही होती है तो उस वक्त पेशाब के रंग में पीलापन आ जाता है. वहीं अगर डिहाइड्रेशन की समस्या है, तब भी पेशाब का रंग बदल जाता है. पीलापन आ जाता है.
ऐसे में प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग कैसा होता है. इस बात को निश्चित रूप से सही-सही बता पाना काफी मुश्किल है. लेकिन मुख्यतः प्रेगनेंसी में पेशाब का रंग सामान्य अवस्था की तुलना में थोड़ा अधिक पीला नजर आता है.

Q. गर्भावस्था में पेशाब का रंग कैसा होता है?

Ans : गर्भावस्था में पेशाब का रंग कैसा होता है, जैसा कि हमने अभी ऊपर चर्चा की है, कि बिल्कुल भी निश्चित नहीं किया जा सकता कि महिला के पेशाब का रंग कैसा होगा. लेकिन मुख्यतः एहसान देखा गया है, कि सामान्य अवस्था में जब महिला एकदम स्वस्थ होती है. उस अवस्था में भी महिला के पेशाब के रंग में पीलापन अधिक आ जाता है. हालांकि मल्टीविटामिन और किसी इंफेक्शन की वजह से या रोग की वजह से महिला के यूरिन कारण दूसरे कलर का भी हो सकता है.
इस संबंध में हमने विस्तृत चर्चा गर्भावस्था में पेशाब का रंग पीला होने के मुख्य कारण स्तंभ में विस्तृत रूप से की है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें