Dragon fruit during pregnancy | गर्भावस्था के दौरान ड्रैगन फ्रूट

हम एक फ्रूट जिसे हम ड्रैगन फ्रूट या पिताया के नाम से जानते हैं, उसके संबंध में चर्चा करने जा रहे हैं. दोस्तों इस फ्रूट के बारे में अक्सर लोग नहीं जानते हैं, या काफी कम लोग जानते हैं. प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान कई प्रकार की क्रेविंग हो सकती हैं.
 

कुछ विशेष खाने की इच्छा या विशेष गंध से उन्हें प्यार हो सकता है. उनमें से ही एक ड्रैगन फ्रूट है जिसे महिला कभी-कभी खाना पसंद करती हैं, लेकिन आपको इसके बारे में सभी प्रकार की नॉलेज होनी चाहिए. यह प्रेगनेंसी में खाया जा सकता है या नहीं खाया जा सकता है, और भी बहुत कुछ.

ड्रैगन फ्रूट क्या होता है. ड्रैगन फ्रूट की न्यूट्रिशन वैल्यू क्या है. क्या गर्भावस्था के दौरान ड्रैगन फूड खाना सुरक्षित होता है. प्रेगनेंसी के दौरान क्या-क्या फायदे हो सकते हैं. ड्रैगन फ्रूट को अपने भोजन में किस प्रकार से शामिल किया जा सकता है. 

 

Dragon fruit during pregnancy | गर्भावस्था के दौरान ड्रैगन फ्रूट

ड्रैगन फ्रूट क्या होता है

दोस्तों जैसे कि इस फल का नाम ड्रैगन फ्रूट या पिताया है, लेकिन हम आपको यह बता दें कि इसका चाइना से कोई भी संबंध नहीं है. 

यह फल मुख्य रूप से दक्षिण अमेरिका और मेक्सिको में पाया जाता है. अमेरिका के भी कुछ हिस्सों में मिलता है, और यह इंडिया में भी पाया जाता है. 

यह काफी आकर्षक फ्रूट है. ड्रैगन फ्रूट सुपरफूड माना जाता है. इसके कई सारे हेल्थ बेनिफिट होते हैं. आप चाहे तो इसे ऑनलाइन भी मंगवा सकते हैं. खट्टे मीठे स्वाद में यह आता है, और काफी हद तक खाने में कीवी जैसा ही लगता है.

ड्रैगन फ्रूट की न्यूट्रिशन वैल्यू

ड्रैगन फ्रूट पोषक तत्वों से भरपूर फल होता है. यह महिला के साथ साथ बच्चे के विकास में भी काफी ज्यादा मदद करता है. ड्रैगन फूड के अंदर मौजूद कार्बोहाइड्रेट से प्रेग्नेंट महिला को काफी ज्यादा एनर्जी प्राप्त होती है. 

ड्रैगन फ्रूट में कैल्शियम भी पर्याप्त मात्रा में होता है, जो बच्चे की हड्डी के विकास में और मस्तिष्क के विकास में मदद करता है. 

कैल्शियम की प्रचुर मात्रा महिला और बच्चे के प्रतिरोधक तंत्र को भी मजबूत रखती है. इसके अलावा इसके अंदर पोटेशियम और आयरन जैसे खनिज होते हैं. प्रोटीन भी उचित मात्रा में होता है.


पिताया के अंदर फोलिक एसिड उचित मात्रा में होता है, जो बच्चे के नर्वस सिस्टम के विकास में मदद करता है.

 साथ ही साथ इसके अंदर विटामिन सी, बीटा-कैरोटीन,  फाइबर इत्यादि उचित मात्रा में होते हैं. इसके अंदर लाइकोपीन भी पाया जाता है, जोकि ड्रैगन फ्रूट को खास बनाता है. यह हृदय समस्याओं, ब्लड प्रेशर और कैंसर जैसी समस्याओं को रोकने में मदद करता है.


अब तक हमने इस फल के बारे में जितना भी बताया है इससे इस बात को स्पष्ट रूप से बल मिलता है कि यह प्रेगनेंसी के दौरान खाना काफी फायदेमंद रहता है.


ड्रैगन फ्रूट के फायदे

एक गर्भवती महिला के लिए उसके शरीर में फैट की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है हालांकि फैट एक निश्चित मात्रा में ही चाहिए होता है. जो उन्हें दिन भर एनर्जी देने का काम करता है। 

मेटाबोलिज्म को बनाए रखने मदद करता है . अगर महिला पहले से ही मोटापे का शिकार है तो यह फल नहीं खाए लेकिन अगर महिला का वजन उचित है तो उसे इस फल का प्रयोग जरूर करना चाहिए. 


यह फल गर्भवती महिला को एनर्जी देने का कार्य करता है, क्योंकि इसके अंदर अच्छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है.

ड्रैगन फ्रूट के अंदर एंटीबैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं, जो महिला के शरीर को संक्रमण से बचाते हैं. साथ ही साथ भ्रूण को भी संक्रमण के खतरे से सुरक्षित रखते हैं.


ड्रैगन फ्रूट के अंदर पाया जाने वाला फाइबर महिला को कब्ज से राहत प्रदान करता है.

ड्रैगन फ्रूट में आयरन भी होता है, जो महिला की रेड ब्लड सेल को बढ़ाकर शरीर के अंदर ऑक्सीजन की आपूर्ति को सुनिश्चित करता है, बढ़ाता है.

बच्चे की हड्डियां कैल्शियम और फास्फोरस दोनों से मजबूत बनती है. ड्रैगन फूड के अंदर फास्फोरस की अच्छी मात्रा पाई जाती है.

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर के कारण प्री-एक्लेमप्सिया का खतरा काफी ज्यादा नजर आता है. ड्रैगन फ्रूट उच्च रक्तचाप को स्टेबल करता है. 

यह ब्लड शुगर को भी कंट्रोल करने का कार्य करता है. इससे महिलाओं को कॉम्प्लिकेशंस की संभावना काफी कम हो जाती है.


कैसे खाए ड्रैगन फ्रूट

ड्रैगन फ्रूट सामान्य फलों की तरह कच्चा भी खाया जा सकता है आप इसका जूस निकालकर भी पी सकते हैं और उसको सलाद के रूप में भी अपने भोजन में शामिल किया जा सकता है.

Post a Comment

Previous Post Next Post