गर्भपात के लिए घरेलू उपाय

0
17

 हम पीरियड को कैसे लाएं इस संबंध में चर्चा कर रहे हैं. दोस्तों बहुत-सी महिलाओं को कभी-कभी पीरियड नहीं होने की वजह से यह लगने लगता है कि कहीं वह गर्भवती तो नहीं हो गई. असल में पीरियड नहीं आने की वजह महिलाओं के हारमोंस में अनियमितता और प्रेगनेंसी दोनों ही होती है.

अगर महिलाओं को प्रेगनेंसी हो गई है और वह प्रेगनेंसी नहीं चाहती है तो यह काफी समस्या वाली बात हो जाती है तो हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिनकी सहायता से आप अपनी प्रेगनेंसी को समाप्त कर सकते हैं और अगर पीरियड भी रुके हैं तो वह भी आ जाते हैं.

इन छोटी-छोटी मगर कारगर उपायों को जाने उससे पहले आपको कुछ छोटी-छोटी बातों को जरूर जाना चाहिए, ताकि आप जो चाह रहे हैं, वह सफलतापूर्वक हो सके.

गर्भपात के लिए घरेलू उपाय

 सबसे पहले तो हम आपको यह बता दें कि घरेलू उपाय बहुत ज्यादा इफेक्टिव नहीं होते. यह प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में ही काम करते हैं. बाद में यह जल्दी से काम नहीं करते हैं. इसका मुख्य कारण यह है कि जैसे-जैसे गर्भावस्था बढ़ती जाती है वैसे-वैसे शरीर गर्भ में शिशु की सुरक्षा को भी मजबूत करता जाता है, और गर्भस्थ शिशु मजबूत और ताकतवर होता जाता है. इसलिए मात्र शुरूआती समय के लिए ही यह उपाय है.

अगर आपने गर्भस्थ शिशु के लिए घरेलू उपाय अपना लिए हैं और गर्भपात नहीं हुआ तो फिर आप उसे करवाएं जरूर चाहे आप डॉक्टर की मदद ले.

 क्योंकि घरेलू उपाय करने से गर्भ शिशु को नुकसान हो सकता है और ऐसा शिशु जन्म ले तो आपको फिर जीवन भर परेशानी का सामना करना पड़ता है.

पीरियड्स का नहीं आना मुख्यतः हारमोंस में अनियमितता की वजह से ही होता है इसलिए आप यह नहीं माने की प्रेगनेंसी ही हो गई है. ऐसी अवस्था में घरेलू उपाय करने में कोई बुराई नहीं होती.

अगर आपको लगता है कि आप गर्भवती हो सकती है और आपकी पीरियड आने में समय है तो आप इन घरेलू उपायों को आने से पहले ही शुरू कर दें , ताकि आपके पीरियड समय पर आ जाएं. अगर कुछ अनवांटेड है तो वह भी समाप्त हो जाता है और नेचुरल तरीके से समाप्त होता है.

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि बार-बार अबॉर्शन कराने से महिला के मां बनने की क्षमता में कमी आने लगती है. क्योंकि आप एक नेचुरल प्रोसेस को बार-बार ब्रेक कर रहे हैं. इसलिए कमी आती है सबसे अच्छा यही है कि आप सुरक्षा के साथ  संबंध को आगे बढ़ाएं.

अगर आपके पीरियड्स नहीं आ रहे हैं या आपको थोड़ा सा भी संदेह है कि आप गर्भवती हो सकती हैं तो आप बिल्कुल शुरुआती समय में इन उपायों को अपनाएं.

आप पीरियड लाने के लिए मेथी दाने के पानी, गुड, अदरक और मसालेदार भोजन का इस्तेमाल कर सकती है, इससे क्या होगा कि आपके शरीर में गर्मी बढ़ेगी गर्मी बढ़ने से पीरियड्स आने की संभावना बहुत ज्यादा पड़ जाती है, तो शरीर में गर्मी बढ़ाने के जो जो भी तरीके हैं.

आप उन्हें पीरियड लाने के लिए अपना सकते हैं. यही इसका आधार है. थोड़ा इस बात का भी ध्यान रखें कि पानी कम ही पी है. क्योंकि पानी शरीर की गर्मी को शांत करने का कार्य करता है.

आप रात भर दो चम्मच मेथी दाने को एक गिलास पानी में भिगो कर रखें, और सुबह उस पानी को उबाल ले. जब वह कप रह जाए तो उसे खाली पेट  धीरे-धीरे पी ले. यह आपको 5 से 7 दिन तक करना है अगर इस बीच पीरियड आ जाए छोड़ दे.

इन 7 दिन तक आप रोजाना हैवी कसरत कर सकती हैं हैवी सामान उठा सकती हैं थोड़ा अपनी एक्टिविटी बढ़ा दीजिए यह भी आपकी मदद करेगा.

सुबह-सुबह आप एक गिलास पानी में एक चम्मच हल्दी मिला लें और उसे एक बार उबालने और गुनगुना होने पर धीरे-धीरे उसे पीले यह भी खाली पेट लेना है ताकि आपके शरीर में गर्मी बढ़ सके यह भी आप 3 से 7 दिन तक अकॉर्डिंग्ली कर सकते हैं.

आप लगभग 50 ग्राम अदरक को या उससे थोड़ा सा कम कर ले कृष कर ले और उसे पानी में उबालें. उसे भी आप सुबह के नंबर में ले सकते हैं. इससे भी शरीर की गर्मी बढ़ेगी और पीरियड्स आने की संभावना बन जाएगी और शुरुआती समय में प्रेगनेंसी हो तो वह भी नेचुरल तरीके से समाप्त हो जाएगी.

—-

आप सुबह के नंबर में लगभग 50 ग्राम गुड पानी के साथ रोजाना खाना शुरू करें. यह भी काफी कारगर है.

आप एक छोटी सी बात का ध्यान रखें. अगर आपको किसी भी प्रकार के खाद्य पदार्थ से दो कि हमने अभी आपको बताए हैं उन से एलर्जी है तो आप उनका इस्तेमाल बिल्कुल नहीं करें आप दूसरा उपाय अपनाएं अगर आपको कोई उपाय अपनाते समय किसी भी प्रकार की सेहत से संबंधित परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तो आप उसे तुरंत रोक दें.

आप अपनी सुविधा अनुसार 1 से ज्यादा उपाय भी अपना सकते हैं.
जैसे कि आप मेथी का पानी ले रहे हैं साथ में आप दिन में दो-तीन बार गुड भी लेते हैं और मसालेदार भोजन भी खा रहे हैं. पानी भी कम ले रहे हैं, और थोड़ा कसरत या दौड़ भी रहे हैं. भारी समान उठा रहे हैं. तो कलेक्टिवली सब काम करने से आपकी समस्या का समाधान बड़ी आसानी से हो जाता है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें