बच्चे के गले में गर्भनाल फंसने के कारण और लक्षण

0
18

कई बार गर्भस्थ शिशु के गले में गर्भनाल हंसने की समस्या का सामना करना पड़ता है. हालांकि रिसर्च के अनुसार 3 में से एक बच्चे के गले में गर्भनाल फंसने की समस्या होती ही है, लेकिन अधिकतर मामलों में इसका कोई भी प्रभाव बच्चे की सेहत पर और डिलीवरी पर नजर नहीं आता.

कुछ विशेष परिस्थितियों में ही कॉम्प्लिकेशन नजर आती है. बच्चे पर प्रभाव आता है. और सिजेरियन बेबी की डिलीवरी की आवश्यकता पड़ती है.

आज हम बात करेंगे कि बच्चे के गले में गर्भनाल फंसने के क्या कारण है. और बच्चे के गले में गर्भनाल फंसती है तो उस के कौन-कौन से लक्षण नजर आते हैं.

गर्भनाल किसी भी बच्चे के गले में फंसने के कुछ कारण नजर आते हैं, जो इस प्रकार से आपके सामने हैं.

बच्चे के गले में गर्भनाल फंसने के कारण और लक्षण

गर्भनाल पर जैली कम बनना

गर्भनाल पर एक जैली जैसा पदार्थ होता है. जिसका काम यही होता है, कि वह गर्भनाल को बच्चे के शरीर पर कसने से बचाए. अगर किसी कारणवश की जैली आवश्यकता से कम मात्रा में बन रही है, तो उस परिस्थिति में गर्भनाल बच्चे के गले में फंस सकती हैं.  क्योंकि यह जैली एक फिसलन पैदा करती है, और बच्चे के शरीर पर कसने से गर्भनाल को बचाती है. अगर यह कम है तो बहुत अधिक संभावना रहती है, कि यह बच्चे के शरीर पर लिपट जाए.

एमनियोटिक द्रव अधिक होना

अगर गर्भ थैली में एमनियोटिक द्रव कुछ अधिक मात्रा में होता है तो बच्चे को घूमने के लिए अधिक स्थान मिल जाता है. जिसकी वजह से कभी कभी गर्भनाल बच्चे के शरीर से या गर्दन से लिपट सकती है.

शिशु का अधिक क्रियाशील होना

जो शिशु गर्भावस्था के दौरान अधिक क्रियाशील होते हैं, अधिक मूवमेंट करते हैं. इस बात की संभावना काफी अधिक रहती है, कि वह इस प्रकार से क्रियाशील रहे की गर्भनाल  उनके शरीर से निपट सकती हैं, तो अधिक क्रियाशील शिशु के साथ भी यह समस्या आती है.

गर्भनाल की लंबाई

अगर किसी किसी महिला के शरीर में गर्भनाल की लंबाई आवश्यकता से थोड़ी सी भी अधिक होती है. तो उस अवस्था में अधिक लंबी गर्भनाल बच्चे के चारों तरफ लिपट सकती है. उसकी गर्दन के आसपास लिपट सकती है. इस परिस्थिति में भी न्युकल कॉर्ड  या डबल न्युकल कॉर्ड की समस्या नजर आती है.

एकाधिक गर्भावस्था की वजह से

गर्भ में जुड़वां बच्चे होने की वजह से गर्भनाल (अम्बिलिकल कॉर्ड) भी दो होती हैं। गर्भाशय में दो बच्चों के मूवमेंट की वजह से कॉर्ड्स का एक दूसरे से उलझना ज्यादा संभव है. इससे अधिक गंभीर खतरे नहीं हैं पर यदि जुड़वां बच्चों की एमनियोटिक थैली एक ही है तो इसकी वजह से गर्भनाल  कुछ हद तक उलझ सकती है और किसी भी बच्चे के गले में फंस सकती है.

गर्भनाल फंसने से क्या लक्षण नजर आते हैं

बच्चे के मूवमेंट कम हो सकते हैं

गर्भावस्था के 34 हफ्ते के बाद बच्चे के मूवमेंट अपेक्षा कृत अर्थात जितने होते हैं उससे काफी कम नजर आ रहे तो ऐसा हो सकता है कि बच्चे के गले में गर्भनाल फस गई हो उस वक्त आपको चेकअप कराना अत्यधिक आवश्यक होता है.

अगर इस वक्त अर्थात नवे महीने में आपको बच्चे के मोमेंट में काफी ज्यादा परिवर्तन नजर आ रहा है काफी कम नजर आ रहे हैं तो ऐसा हो सकता है कि गर्भनाल फंसने के कारण बच्चे को परेशानी हो. इस दौरान गर्भनाल गले में फसना काफी नुकसानदायक माना जाता है. क्योंकि बच्चे का आकार भी काफी बड़ा हो चुका है. इसलिए इसे गंभीरता से लेना चाहिए.

बच्चे का तेजी से फड़कना

गर्भनाल गले में फंसने की वजह से बच्चे को घुटन महसूस हो सकती है. इस वजह से बच्चा एक्टिविटी तो कम करेगा, लेकिन कभी-कभी बहुत तेजी से फड़क सकता है, तो इसे थोड़ा गंभीरता से लेना चाहिए.

हार्ट रेट अब्नॉर्मल होना

जब गर्भनाल बच्चे के गले में फस जाती है, तो उस अवस्था में बच्चे को सांस लेने में और रक्त संचार में काफी ज्यादा कठिनाई का अनुभव हो सकता है. ऐसे में बच्चे की हार्ट बीट को ऑब्जर्व करना चाहिए. ऐसे में अगर हार्ट बीट नॉर्मल नहीं है तो यह समस्या का संकेत होती है.

हालांकि इस समस्या के काफी सारे कारण हो सकते हैं लेकिन गर्भनाल गले में फंसने की वजह से भी ऐसा होता है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें