पुत्र प्राप्ति के लिए घरेलू उपाय – Putra Prapti Part #2

0
780
नमस्कार दोस्तों आज हम अपने इस POST के माध्यम से आपको पुत्र प्राप्ति के लिए घरेलू उपाय बताने की कोशिश कर रहे हैं इस माध्यम से हंड्रेड परसेंट तो नहीं लेकिन आप लगभग 99% पुत्र प्राप्त कर सकते हो. इसकी व्याख्या वैज्ञानिक नजरिए से भी की जा सकती है.
पुराने समय की बात छोड़ दे तो  आज के समय में महिलाएं पुरुष के साथ कंधा मिलाकर उनके बराबर खड़ी हैं.
आज के समय में दोनों में कोई अंतर नहीं है, लेकिन अगर किसी व्यक्ति के यहां पुत्री होती है, तो उसे पुत्र प्राप्ति की इच्छा होती है.
जिसे पुत्र होता है वहां पुत्री प्राप्ति की इच्छा रखता है. इसी श्रंखला में आज हम आपको गर्भ में पुत्र प्राप्ति के उपाय के संबंध में चर्चा करने जा रहे हैं. यह पुत्र प्राप्ति के सरल उपायों में से एक पाए हैं. आप इसे पुत्र प्राप्ति के लिए टोटका नहीं कह सकते हैं.

 

You May Also Like : मनचाही संतान प्राप्ति का प्राचीन तरीका – part #3
You May Also Like : इसे खाने से बांझ को भी पुत्र पैदा होता है – Putra Prapti Part #1

हम सभी जानते हैं कि पीरियड आने के बाद महिला को शुरू के 15 से 16 दिन तक प्रेगनेंट होने के चांस बहुत ज्यादा रहते हैं, और इन्हीं दिनों महिलाएं प्रेग्नेंट होती है.

 
थोड़ा सा गहराई में बातें करें तो महिलाएं ओवुलेशन पीरियड में प्रेग्नेंट होती है, अगर आपको पुत्र प्राप्ति करनी है तो आपको इस ओवुलेशन पीरियड का ध्यान रखना है.
महिला का ओवुलेशन पीरियड कब आता है. जिन महिलाओं के पीरियड अनियमित नहीं होते हैं, उनका ओवुलेशन तो फिक्स होता है. उनके लिए यह है तरीका बड़ा कारगर है. लेकिन जिन महिलाओं के पीरियड अनियमित होते हैं, उनके लिए यह कार्य नहीं कर पाएगा.
क्योंकि अनियमित पीरियड की वजह से ओवुलेशन टाइम भी अनियमित हो जाता है.

 

garbh me ladka hone ka tarika

महिलाओं को पीरियड 3 दिन से लेकर 6 से 7 दिन तक हो सकते हैं इसी के अनुसार उनका ओवुलेशन पीरियड भी फिक्स होता है.

You May Also Like : पुत्र प्राप्ति के लिए फेमस आयुर्वेदिक औषधि – बांझपन भी दूर होता है,

हम एग्जांपल के तौर पर ले लेते हैं कि महिला के पीरियड 5 दिन तक चलते हैं इस आधार पर अधिकतर महिलाओं का ओवुलेशन पीरियड 12वे दिन से लेकर 16वे दिन तक होता है.

ओवुलेशन पीरियड होता क्या है इन 4 से 5 दिनों तक महिला की ओवरी से अंडे फैलोपियन ट्यूब द्वारा गर्भाशय में आते हैं जहां वे स्पर्म के संपर्क में आकर गर्भ का निर्माण करते हैं.

ऐसी अवस्था में पुत्र या पुत्री में से एक संतान आपको प्राप्त होगी यहीं पर छोटा सा लॉजिक है.

एक्स(X) क्रोमोसोम जोकि पुत्री प्राप्ति के लिए रिस्पांसिबल है. वह महिला के शरीर में 3 से लेकर 5 दिन तक एक्टिव रह सकता है अगर ओवुलेशन पीरियड से पहले मिलन होता है तो पुत्री प्राप्ति के चांसेस लगभग 100% होते हैं.

जिन लोगों को पुत्री प्राप्ति की इच्छा है वह महिला के पीरियड समाप्त होने के बाद 6 दिन तक मिलन करते हैं तो पुत्री प्राप्ति के चांस होते हैं.

 

 
 

You May Also Like : महिला के चलने, उठने बैठने से कैसे पता करे गर्भ में लड़का है या लड़की

वाई(Y) क्रोमोसोम जोकि पुत्र प्राप्ति के लिए रिस्पांसिबल है वह महिला के शरीर में लगभग 24 से 36 घंटे तक एक्टिव रहता है.

तो अगर मिलन ओवुलेशन पीरियड में होगा तो पुत्र प्राप्ति के चांस अधिक होते हैं. आप बोलेंगे यह तो 50-50% होंगे लेकिन हम आपको बता दें वाई(Y) क्रोमोसोम एक्स(X) क्रोमोसोम की तुलना में बहुत ज्यादा एक्टिव होता है, भले ही उसकी लाइफ कम हो, लेकिन उसकी गति काफी तेज होती है. वह तेजी से आगे बढ़ कर प्रेगनेंसी करने में सक्षम होता है, और आपको एक पुत्र प्राप्ति की ओर ले जाने में मदद करता है.  जिसकी वजह से ओवुलेशन पीरियड में मिलन होता है तो पुत्र प्राप्ति के चांसेस बहुत ज्यादा होते हैं.

 
यहां आप एक बात का ध्यान अवश्य रखें आप वैल्यूएशन पीरियड से जितना पहले समय पहले संतान प्राप्ति के लिए मिलन करेंगे. उतना ही ज्यादा आपका पुत्री प्राप्ति का चांस अधिक रहता है.
 
यह जो तरीका है यह 100% पुत्र प्राप्ति का वैज्ञानिक तरीका आप मान सकते हैं. इसे आप आसानी से आजमा सकते हैं, और मनचाही संतान प्राप्त कर सकते हैं.
 
 TAG :
बेटा प्राप्ति के उपाय, putra prapti ke achuk upay, पुत्र प्राप्ति के लिए गर्भधारण कब करें?, putra prapti ke totke, पुत्र प्राप्ति के घरेलू उपाय, गर्भ में पुत्र प्राप्ति के उपाय, पुत्र प्राप्ति के सरल उपाय, पुत्र प्राप्ति के लिए घरेलू उपाय, पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाने से पुत्र की प्राप्ति होती है?, pregnancy me putra prapti ke upay, ladka hone ke totke,  पुत्र प्राप्ति के लिए डेट कैसे निकाले, पुत्र प्राप्ति के लिए गर्भधारण कब करें, beta prapti ke upay, putra prapti ke liye gharelu upay
 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें