Header Ads

प्रेगनेंसी में आइसक्रीम खाने के फायदे और नुकसान | कौन सी आइसक्रीम खाएं कौन सी नहीं | Eat ice cream during pregnancy

 क्या प्रेगनेंसी के दौरान आइसक्रीम खाए
प्रेगनेंसी के दौरान आइसक्रीम खाने को लेकर चर्चा करने जा रहे हैं. कभी-कभी क्रेविंग के चलते महिलाएं आइसक्रीम खाने के प्रति ज्यादा सजग हो जाती है. आज हम चर्चा करेंगे ---


क्या प्रेगनेंसी के दौरान आइसक्रीम खाना सुरक्षित होता है
1 दिन में कितनी आज के दिन प्रेगनेंसी के दौरान खा सकते हैं.
आइसक्रीम की न्यूट्रिशन वैल्यू .
प्रेगनेंसी में आइसक्रीम खाने की इच्छा क्यों होती है .
आइसक्रीम खाने के क्या दुष्प्रभाव होते हैं .
कौन सी आइसक्रीम खाना ठीक रहता है और
आइसक्रीम खाते समय किन किन बातों का ध्यान रखें आदि

Eat ice cream during pregnancy


क्या प्रेगनेंसी के दौरान आइसक्रीम खाना सुरक्षित होता है

मुख्यतः आइसक्रीम दूध और शक्कर की बनी होती है लेकिन आजकल आइसक्रीम में केमिकल का भी प्रयोग काफी ज्यादा होने लगा है दूध और शक्कर की बनी आइसक्रीम खाने में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होती है. क्योंकि यह प्रेगनेंसी के दौरान खाना सुरक्षित माना जाता है. बस गर्भवती स्त्री को आइसक्रीम खाने से पहले यह बात जरूर ध्यान में रखनी चाहिए कि आइसक्रीम पाश्चुरीकृत दूध (pasteurized milk) से बनी हो . पाश्चराइजेशन वह प्रक्रिया है जिसके अंदर दूध को एक निश्चित तापमान तक गर्म करके उसके अंदर उपस्थित हानिकारक बैक्टीरिया को समाप्त कर दिया जाता है.

1 दिन में कितनी आज के दिन प्रेगनेंसी के दौरान खा सकते हैं

किसी गर्भवती स्त्री को या किसी ऐसी स्त्री को जो कि गर्भवती नहीं है रोज आइसक्रीम खाना सही नहीं होता यह हानिकारक होती है. लेकिन कितनी मात्रा में आइसक्रीम खानी चाहिए इस पर कोई भी रिसर्च उपलब्ध नहीं है तो आप अपने डॉक्टर से एक बार इस संबंध में सलाह कर सकते हैं. वह आपकी सेहत आपकी प्रेगनेंसी के नीचे को देखते हुए आपको बताएगा.

आइसक्रीम खाने की इच्छा

 दोस्तों किसी भी गर्भवती स्त्री को फूड क्रेविंग के चलते आइसक्रीम खाने की इच्छा हो सकती है. यह जरूरी नहीं कि केवल आइसक्रीम खाने की इच्छा हो, किसी भी अन्य चीज का स्वाद महिलाओं को पसंद आ सकता है. जिन महिलाओं को आइसक्रीम पसंद है जरूरी नहीं कि उन्हें ही आइसक्रीम खाने की इच्छा प्रेगनेंसी के दौरान होने लगे, बल्कि ऐसी महिलाओं को भी आइसक्रीम का स्वाद प्रेगनेंसी के दौरान पसंद आ सकता है, जो पहले आइसक्रीम खाना पसंद नहीं करती.

आइसक्रीम न्यूट्रिशन वैल्यू

हर आइसक्रीम की न्यूट्रिशन वैल्यू अलग-अलग होती है यह इस बात पर निर्भर करता है कि उसे किस तरह से तैयार किया गया है किन किन पदार्थों का यूज़ उसके अंदर किया गया है हम आपसे साधारण वनीला आइसक्रीम की न्यूट्रिशन वैल्यू शेयर कर रहे हैं.
आइसक्रीम के अंदर पानी, उर्जा, प्रोटीन, शुगर, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट और फैट सभी कुछ होता है. मिनरल्स की बात करें तो इसके अंदर बहुत सारे मिनरल्स होते हैं जैसे कि फ्लोराइड, मैग्नीज, कॉपर सिलेनियम , सोडियम, जिंक, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन और कैल्शियम इत्यादि कैल्शियम बहुत ज्यादा मात्रा में होता है.
लगभग हर प्रकार का आवश्यक विटामिन भी आइसक्रीम के अंदर पाया जाता है जैसे कि विटामिन सी, राइबोफ्लेविन, थियामिन, नियासिन, विटामिन B6, विटामिन B12, विटामिन A ,विटामिन D, विटामिन K इत्यादि .

आइसक्रीम के दुष्प्रभाव

आइसक्रीम से जेस्टेशनल डायबिटीज होने का खतरा काफी ज्यादा होता है क्योंकि इसमें काफी ज्यादा शुगर पाया जाता है.
अगर दूध सही ढंग से पका हुआ इस्तेमाल नहीं किया जाता है तो लिस्टेरिया संक्रमण यह एक प्रकार का बैक्टीरियल संक्रमण होता है इसका खतरा हो जाता है .
आइसक्रीम में कार्बोहाइड्रेट की काफी ज्यादा मात्रा पाई जाती है. इस वजह से यह वजन काफी तेजी से बढ़ता है. अगर आपका वजन पहले से ही ज्यादा है तो यह नुकसानदायक है.

कौन सी आइसक्रीम खाए

आजकल आइसक्रीम काफी ज्यादा केमिकल का प्रयोग करके और अलग-अलग पदार्थों को प्रयोग करके बनाई जाती है. जिसमें अनेक प्रकार के फ्लेवर मार्केट में अवेलेबल है. लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान सभी प्रकार की आइसक्रीम  खाना ठीक नहीं होता है. आपको सिंपल साधारण वनीला, चॉकलेट या स्ट्रॉबेरी आइसक्रीम खाना ही सही रहता है जो दूध और शक्कर से बनी होती है.
आइसक्रीम खाते वक्त ध्यान रखने योग्य बातें
सबसे पहले तो आप कोशिश करें कि आज क्रीम स्वयं घर पर अपने हाथों से बना कर खाएं
आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि आइसक्रीम में कच्चे अंडे का प्रयोग न किया गया हो
आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि कच्चे दूध का प्रयोग आइसक्रीम में ना किया गया हो, पहले दूध को उबालकर ठंडा करके आइसक्रीम में डाला गया हो.
अगर आप बाजार से आज क्रीम खरीद रही है तो अच्छी क्वालिटी की ब्रांडेड आइसक्रीम ही खरीदें लोकल माल ना खरीदें.

No comments

Powered by Blogger.