Header Ads

प्रेगनेंसी में इन 12 बातों का ध्यान जरूर रखें

 प्रेगनेंसी के दौरान घर के कामकाज को लेकर क्या प्रेगनेंसी के दौरान घर का कामकाज करना खतरनाक हो सकता है इस संबंध में हम आपसे चर्चा करने जा रहे हैं
कौन-कौन से काम गर्भवती महिला घर में कर सकती है और किन-किन कामों से महिलाओं को परहेज करना चाहिए कुछ काम ऐसे भी होते हैं जो आसान होते हैं लेकिन उन से भी परहेज करना चाहिए.

किसी भी महिला को प्रेगनेंसी के दौरान काफी संभलकर रहने की आवश्यकता होती है. कुछ काम तो ऐसे होते हैं जो बिल्कुल भी नहीं करने चाहिए और कुछ काम को करने में कुछ सावधानी रखने की आवश्यकता होती है.

take care during pregnancy


केमिकल उत्पाद से सफाई :

किसी भी गर्भवती स्त्री को अपने गर्भकाल के दौरान किसी भी प्रकार के केमिकल पदार्थ से सफाई करने से बचना चाहिए और जिन पदार्थों से गैस निकलती है उनका तो प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए. हां बाकी पदार्थ जो केमिकल वाले होते हैं और वह सफाई में प्रयोग आ रहे हैं जैसे कुछ लिक्विड होते हैं तो उनका प्रयोग करने से पहले कुछ सावधानी अवश्य रखें जैसे कि उन्हें रबर के दस्ताने पहनकर ही इस तरह का कार्य करना चाहिए और झुकना बिल्कुल भी नहीं है.

सबसे अच्छा तो यही रहता है कि आप प्राकृतिक तत्वों का प्रयोग सफाई के लिए करें जैसे कि आप बेकिंग सोडा या सिरके का प्रयोग कर सकती हैं.

पालतू जीव जंतुओं का मल साफ करना:

किसी भी गर्भवती स्त्री को अपने पालतू बिल्ली या पोते या दूसरे प्रकार के पालतू जीव इन का मल साफ करने से बचना चाहिए, या फिर बहुत ज्यादा सावधानी रखने की आवश्यकता होती है. प्लास्टिक के दस्ताने पहनकर ही यह कार्य करें. जैसे कि बिल्ली होती है तो उसके मल में परजीवी भी हो सकता है दूसरे प्रकार के पशु पक्षी होते हैं उनके मल में भी परजीवी होने की संभावना होती है. यह आपकी और आपके गर्भस्थ शिशु को काफी नुकसान पहुंचा सकता है. यह गलती से भी आपके शरीर में प्रविष्ट नहीं करना चाहिए.

वजनी सामान:

घर में सफाई करते समय या घर को व्यवस्थित करते समय घर में रखे हुए बजनी सामान को महिलाओं को सोच समझकर ही उठाना चाहिए. महिला अपने डॉक्टर से इस बात को जान सकती है कि वह गर्भावस्था के दौरान कितना वजन उठा सकती है. उसी के अनुसार वह वजन को उठाएं कभी-कभी वजन उठाने से महिला का जो गुरुत्वाकर्षण का केंद्र होता है वह बदल जाता है जिसकी वजह से उसका बैलेंस बिगड़ सकता है. और वह गिर सकती है इसलिए महिला को वजन संभल कर ही उठाना चाहिए. हमारा आपको सजेशन है आपको सलाह है आप भारी फर्नीचर को सरकार ने का प्रयास कुछ ना करें इससे आपकी कमर पर और अधिक दबाव पड़ेगा मांसपेशियों पर दबाव पड़ेगा बच्चे पर दबाव पड़ेगा.
 भारी सिलेंडर हुआ
किराने का थैला जो काफी वजनी हो
पानी की भरी बाल्टी या
आपका बड़ा बच्चा हो इन सब को उठाने से बचें.

झाड़ू पोछा:

यह एक ऐसा कार्य है जो कि हर घर में अनिवार्य रूप से रोज होता है और अधिकतर घरों में यह कार्य महिलाओं को ही करना होता है. प्रेगनेंसी के अलग-अलग हिस्से में झाड़ू पोछा करना बताया जाता है और विशेष समय पर झाड़ू पोछा करने से मना भी किया जाता है. इसलिए आप इस संबंध में अपने डॉक्टर से अवश्य सलाह करें कि वह कब कब झाड़ू पोछा कर सकती है और किस प्रकार से कर सकती है किस एंगल से कर सकती है और किस महीने उसे इस कार्य से परहेज करना है.

संतुलन बनाने वाले कार्य:

संतुलन बनाने वाले कार्य संतुलन बनाने वाले कार्य मुख्यतः सफाई के कार्य ही होते हैं जब महिला किसी कुर्सी पर स्टूल पर ऊंची जगह पर सफाई करने की कोशिश करती है तो उसमें संतुलन की आवश्यकता होती है इस प्रकार के कार्य महिलाओं को पहले दिन से और आखिरी दिन तक बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए अंतिम के पांच छह महीने तो महिला का गुरुत्वाकर्षण केंद्र ही काफी बदल जाता है तो उसके अनुसार जो उसका असंतुलन होता है वह असल में कहीं और होता है तो परेशानी हो सकती है.

कुछ और बातों पर भी महिलाओं को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है


प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को सीढ़ी पर चढ़ने और उतरने से जितना हो सके उतना बचना चाहिए क्योंकि एक समय के बाद सीढ़ी दिखाई देना भी बंद हो जाता है. इसलिए संभल कर चलें और उतरे कोशिश करें कि यह कार्य ना करना पड़े तो ज्यादा अच्छा है.

जिन महिलाओं को बिजली का कार्य आता है उनके लिए तो विशेष इस बात को बताया जाता है कि उन्हें भूल कर भी बिजली का काम नहीं करना है. बिजली का करंट कितना नुकसान पहुंचा सकता है इस बात का अंदाजा आपको अवश्य होगा.

अगर गंदे पंखे, खिड़की या शीशे आपको अच्छे नहीं लग रहे हैं, तो अपनी कामवाली बाई से उन्हें साफ करने को कहें.

अगर आपको जमीन से कुछ उठाना है तो रुकने के बजाय पैरों पर बैठकर उठाएं.

खाना बनाते समय आपको ऐसे व्यंजन बनाने चाहिए जो आसानी से और जल्दी बन जाते हैं

आपको ज्यादा समय खड़ा रहना भी ठीक नहीं रहता है ज्यादा समय आपका बैठना भी ठीक नहीं रहता है इसलिए आप समय-समय पर अपनी स्थिति को अवश्य बदलती रहे.

अगर आप गर्भवती है तो घर के दूसरे सदस्य आपके कार्यों में आपका हाथ बताएं यह आपको सुनिश्चित करना चाहिए और यह आपका हक भी है अगर ऐसा नहीं है तो आपको अपने पति से और घरवालों से इस संबंध में बात भी करनी चाहिए.

No comments

Powered by Blogger.