Header Ads


Pregnancy Care items

तरबूज प्रेगनेंसी में तरबूज | 10 benefits and 5 Loss

प्रेगनेंसी के दौरान तरबूज खाने को लेकर आप तरबूज से होने वाले फायदों को पूरी तरह से प्राप्त कर सकंी और उसके नुकसान भी जान पाए.


Advantages and disadvantages of eating watermelon in pregnancy

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में गुड़ खाने के फायदे नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में पास्ता खाना चाहिए
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था के दौरान चाट, गोलगप्पे और स्ट्रीट फूड खाना सुरक्षित है
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान किन खाद्य पदार्थों का सेवन सुरक्षित नहीं है
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में सोडायुक्त पेय और सॉफ्ट ड्रिंक्स पीना सुरक्षित है

प्रेगनेंसी में तरबूज खाने के फायदे


तरबूज की खास बात यह होती है कि यह ठंडी प्रकृति का होता है. इस वजह से यह प्रेगनेंसी के दौरान महिला को होने वाली एसिडिटी, जलन से काफी राहत पहुंचाने का कार्य करता है. बार-बार सीने में होने वाली जलन में राहत मिलती है.

अक्सर देखा जाता है कि प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के हाथ पैर में सूजन की समस्या हो जाती है. जिसे एडिमा कहा जाता है. तरबूज के अंदर anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं. यह सूजन को कम करने में मदद कर सकता है.

अक्सर गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को मूत्र मार्ग में संक्रमण की शिकायत रहती है तरबूज वहां की काफी फायदेमंद होता है यह संक्रमण को कम करने में मदद करता है.

तरबूज के अंदर बहुत अच्छी मात्रा में पानी पाया जाता है इसके एवं से महिला को डिहाइड्रेशन की समस्या में काफी राहत मिलती है शरीर में तरलता बनी रहती है.

अक्सर महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान मॉर्निंग सिकनेस की समस्या नजर आती है तरबूज खाने से मॉर्निंग सिकनेस की समस्या में कमी देखी गई है.

तरबूज के अंदर कैल्शियम फॉस्फोरस मैग्नीशियम आदि तत्वों काफी अच्छी मात्रा में होते हैं जो बच्चे की हड्डियों के विकास में काफी महत्वपूर्ण होते हैं तरबूज का सेवन करने से मां और बच्चे दोनों की हड्डियां मजबूत बनती है

तरबूज मिनरल्स का खजाना होता है इस कारण से यह बहुत सारे कार्यों में फायदा करता है. अक्सर देखा गया है कि महिलाओं की त्वचा प्रेगनेंसी के दौरान अपनी चमक खो देती है, और काफी सारी स्किन प्रॉब्लम नजर आने लगती है. ऐसे में तरबूज इन सभी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है.

जैसा कि हमने पिछले वीडियो में बताया है कि तरबूज के अंदर फाइबर और पानी अच्छी मात्रा में होता है. इसी कारण से यह कब्ज की समस्या में तुरंत राहत देने का कार्य करता है. यह शरीर में तरलता बनाए रखता है.

तरबूज के अंदर काफी अच्छी मात्रा में मिनरल्स और विटामिन होते हैं जिसके बल पर यह है गर्भवती स्त्री की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने का कार्य करता हैं.  इसकी वजह से छोटे-मोटे रोग महिला को नहीं लगते हैं संक्रमण में भी राहत मिलती है.

इन्हें भी पढ़ें : क्या गाजर खाना प्रेगनेंसी में सुरक्षित है
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी की कर रही है प्लानिंग तो अभी से खाना शुरू कर दें ये 7 चीजें
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में शहद का सेवन कितना फायदेमंद
इन्हें भी पढ़ें : क्या प्रेगनेंसी में घी खाना फायदेमंद होता है
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में दही खाना चाहिए कि नहीं खाना चाहिए

प्रेगनेंसी में तरबूज से होने वाले नुकसान


प्रेगनेंसी के दौरान अगर महिला को खांसी जुखाम की समस्या है बुखार की समस्या है तो महिला को तरबूज नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह ठंडी प्रकृति का होता है.

अगर किसी भी गर्भवती महिला को तरबूज से एलर्जी है तो उसे तरबूज का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए.

अगर कोई भी गर्भवती स्त्री मधुमेह की समस्या से पीड़ित है तो तरबूज खाने से उसे अवश्य नुकसान होगा.

तरबूज में विटामिन सी की मात्रा अधिक होती है अधिक मात्रा शरीर में चले जाने के कारण कभी-कभी पेट में ऐठन और मरोड़ की समस्या उत्पन्न हो सकती है.

तरबूज में नियासिन नाम का विटामिन होता है अगर आप तरबूज ज्यादा खा लेंगे तो यह कभी-कभी मतली और मॉर्निंग सिकनेस की समस्या को बढ़ा सकता है. साथ ही यह लीवर पर भी असर डालता है.

No comments

Powered by Blogger.