सूरजमुखी कराएगा अब आपको गर्भवती – Part #1

0
386

आजकल फर्टिलिटी की कैपेसिटी लगातार घटती चली जा रही है. महिलाओं की प्रजनन क्षमता कमजोर हो रही है, और साथ ही साथ पुरुषों में स्पर्म क्वांटिटी भी लगातार कम होती जा रही है. पिछले 25 वर्षों से इस विषय पर काफी ध्यान दिया जा रहा है इस संबंध में काफी रिसर्च भी हो रही है. 

यह देखा गया है कि पूरी दुनिया में, हर एक समाज के व्यक्ति की प्रजनन क्षमता लगातार कमजोर होती जा रही है.
इसके बहुत सारे कारण हैं. इसके काफी सारे कारण हैं जिन पर हमने समय-समय पर अपने इस ब्लॉग में चर्चा भी की है. लेकिन आज का हमारा विषय है, कि कमजोर होती हुई प्रजनन क्षमता को कैसे बढ़ाया जाए ताकि एक महिला कंसीव कर सकें.

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि भोजन के विकल्प कुछ गंभीर परिस्थितियों में भूमिका नहीं निभाते हैं, जो महिलाओं और पुरुषों में बांझपन का कारण बनते हैं.  

सूरजमुखी कराएगा अब आपको गर्भवती

यदि, उदाहरण के लिए, फैलोपियन ट्यूब अवरुद्ध हो जाते हैं, तो इस परिस्थिति में शुक्राणु अंडे तक नहीं पहुंच पाते हैं, तो ऐसे में आपका भोजन बंद नलिका को खोलने में सक्षम नहीं होगा.

सूरजमुखी के बीज आपकी प्रेगनेंसी को आगे बढ़ाने में आपकी मदद कर सकते हैं कुछ परिस्थितियों में जब प्रेगनेंसी नहीं हो रही होती है तो वहां पर सूरजमुखी के बीज काफी मदद कर सकते हैं.

अगर आप अनसोर्टेड भुना हुआ सूरजमुखी का बीज खाते हैं तो उसके अंदर विटामिन E प्रचुर मात्रा में होता है
सूरजमुखी में पाया जाने वाला विटामिन E पुरुषों के लिए अत्यधिक लाभकारी होता है. यह स्पर्म की संख्या को बढ़ाता है और स्पर्म की गतिशीलता को भी काफी ज्यादा बढ़ा देता है. 

इनकी गतिशीलता बढ़ने से महिला के शरीर के अंदर यह अगले तक अधिक तेज गति से कम समय में पहुंचकर प्रेगनेंसी को कंप्लीट करने में मदद करते हैं.

इसके अलावा सूरजमुखी के अंदर फोलेट और सेलेनियम पाया जाता है, जो महिला और पुरुष दोनों के लिए उनकी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण होता है.

सेलेनियम एंटीऑक्सिडेंट अंडे और शुक्राणुओं को मुक्त कणों से बचाने में मदद करता है. सेलेनियम का सामान्य स्तर पुरुषों में शुक्राणु गतिशीलता और महिलाओं में एस्ट्रोजन मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है.

और फोलेट को तो डॉक्टर प्रेगनेंसी के 3 महीने पहले से ही लेने की सलाह देते हैं तो आप समझ सकते हैं, कि यह प्रेगनेंसी में कितनी मदद करता है.

साथ ही साथ सूरजमुखी के बीजों के अंदर ओमेगा 6 फैटी एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है. ये महिला के शरीर को अंडे छोड़ने, गर्भाशय की तरफ रक्त के प्रवाह को बढ़ाने और हॉर्मोन को संतुलित करने में मदद करते हैं. 

सूरजमुखी में जस्ता होता है, एक खनिज जो पुरुष प्रजनन क्षमता के लिए महत्वपूर्ण है. शोध के अनुसार, यह खनिज शुक्राणु की मात्रा और इनकी गुणवत्ता बढ़ा सकता है. लगभग 100 ग्राम सूरजमुखी के बीज में 5 मिलीग्राम जस्ता होता है.

सूरजमुखी के बीज आहार में कैसे शामिल करें

  • सूरजमुखी के बीजों को आप रोजाना घर में बनने वाली सब्जी के अंदर छिड़ककर खा सकते हैं. सूरजमुखी के बीजों को आप रोस्टेड करके अपने नाश्ते में शामिल कर सकते हैं.सूरजमुखी के बीजों को आप चिवड़ा व अन्य पसंदीदा मिक्चर में भी डालकर उसकी पौष्टिक बढ़ा सकते हैं.
  • इन बीजों को किसी भी सॉफ्ट डिश को कुरकुरा बनाने के लिए उसमें डाला जा सकता हैं.
  • दही में डालकर खाने से दही का स्वद भी बढ़िया हो जाता है.
  • सैंडविच और पास्ता में इसे से डाला जा सकता है.
  • इसे आटे में मिलाकर इसकी रोटी या पराठे खाने से जरूरी विटामिन्स शरीर को मिलती हैं.

आप रोजाना आधा चम्मच सूरजमुखी के बीजों का सेवन लगातार करें यह आपके लिए अत्यधिक फायदेमंद रहेगा.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें