पेन किलर खाने के नुकसान – प्रेगनेंसी पर प्रभाव

0
32
पेन किलर खाने के नुकसान - प्रेगनेंसी पर प्रभाव
पेन किलर खाने के नुकसान काफी सारे हैं, लेकिन हम यहां प्रेगनेंसी के संदर्भ में पेन किलर गोली के नुकसान को लेकर चर्चा कर रहे हैं. अगर आप प्रेगनेंसी चाहते हैं तो क्या आपको पेन किलर खाने से बचना चाहिए.

प्रेगनेंसी के लिए एक प्रॉपर चैन से गुजर ना होता है. जिसकी हर एक कड़ी का मजबूत होना के अधिक आवश्यकता है. अगर प्रेगनेंसी की राह में कोई सी भी कड़ी कमजोर रह जाती है तो प्रेगनेंसी में समस्या आती है.

पति या पत्नी या दोनों ही अनजाने में एक काम ऐसा करते हैं जिसकी वजह से उनकी प्रेग्नेंसी पर काफी ज्यादा प्रभाव नजर आता है.  आजकल हर व्यक्ति इस काम को अनजाने में ही करता है, लेकिन अगर वह परिवार प्रेगनेंसी के लिए सोच रहा होता है, तो फिर उसे इसकी वजह से काफी समस्याएं आती है.

पेन किलर खाने के नुकसान - प्रेगनेंसी पर प्रभाव

आजकल अक्सर पुरुषों को या महिलाओं को शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द होना एक आम समस्या बन गई और सबसे बड़ी बात यह है कि भारत में चिकित्सा भी अत्यधिक महंगी होती जा रही है. ऐसे में ज्ञान के अभाव में कभी-कभी दंपत्ति अपनी प्रेगनेंसी को लेकर नुकसान कर बैठते हैं.

जब शरीर में अक्सर दर्द रहता है, तो इसके लिए पेन किलर का इस्तेमाल दंपत्ति करने लगते हैं. चाहे वह पति हो या वह पत्नी हो अगर वह पेन किलर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो यह उनके लिए काफी घातक होता है.

पेन किलर खाने के नुकसान

असल में होता क्या है, कि जब भी किसी अंग में दर्द होता है तो व्यक्ति पेन किलर खा लेता है. पेन किलर लेने से हमारा नर्वस सिस्टम कार्य करना बंद कर देता है और दर्द महसूस होना बंद हो जाता है हालांकि दर्द की समस्या तब भी होती है लेकिन व्यक्ति को दर्द महसूस नहीं होता है और इस बीच हमारा शरीर दर्द को कम करने के लिए कार्य भी करता है तो हमें कभी-कभी ऐसा लगता है कि पेन किलर खा लेने की वजह से मेरी समस्या ठीक हो गई है.

हालांकि पेन किलर कभी भी दर्द की समस्या को ठीक नहीं करता है. मात्र उसका एहसास ही खत्म करता है, और जब एक बार दर्द की दवा लेने से उन्हें आराम का आभास होता है, तो वह डॉक्टर की सलाह के बिना ही पेन किलर लेने लगते हैं.

इसके पीछे परिवार की मजबूरी भी होती है, एक तो डॉक्टर के पास जाने का समय नहीं होता है. हिंदुस्तान में वैसे ही डॉक्टर की काफी कमी है.

दूसरी बात डॉक्टर की फीस भी अब काफी ज्यादा हो गई है, और पेन किलर की गोली बहुत कम कीमत में प्राप्त हो जाती है, और कहीं भी मिल जाती है. ऐसे में यह एक काफी सूटेबल ऑप्शन नजर आता है.

आपको जानकर हैरानी होगी कि पेन किलर हमेशा लेना अवॉइड करना चाहिए जब दर्द बिल्कुल भी सहन नहीं हो रहा होता है, तभी डॉक्टर की सलाह पर इसका इस्तेमाल करना चाहिए. अगर दंपत्ति संतान प्राप्ति की कोशिश कर रहा है. उसके लिए अत्यधिक घातक सिद्ध होती हैं.

FEATURED

30+नेचुरल स्पर्म बूस्टर
(टेस्टोस्टरॉन)

  • आयुर्वेदिक
  • जड़ी बूटियों से निर्मित
  • ब्रांडेड
  • कस्टमर रिव्यूज
  • बजट में (नो एक्स्ट्रा कॉस्ट)

अगर पुरुष लगातार पेन किलर का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो पेन किलर पुरुषों के स्पर्म की क्वालिटी को कमजोर करती हैं. उनकी जीवन ऊर्जा को कम कर देती है, तो इस वजह से प्रेगनेंसी होने में काफी समस्या आती है.

अगर महिलाएं लगातार पेन किलर का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो शरीर में भी पेन किलर का जबरदस्त प्रभाव नजर आता है. इससे महिला के अंडों की क्वालिटी खराब होती है. दूसरा महिला के ओवुलेशन पीरियड भी अनियमित हो जाते हैं.

महिला के शरीर में प्रेगनेंसी के लिए जो भी प्रोसेस शुरू के दिन से लेकर डिलीवरी के दिन तक होती है. उसमें प्रेगनेंसी हारमोंस का महत्वपूर्ण रोल होता है. अगर महिला पेन किलर का इस्तेमाल करती है, तो महिला के शरीर में हारमोंस के उत्पादन पर प्रभाव पड़ता है. इस वजह से एक तो प्रेगनेंसी नहीं होती है. अगर प्रेगनेंसी किसी कारण से हो भी जाए तो फिर मिसकैरेज की संभावना बहुत ज्यादा बन जाती है.

पेन किलर खाने के नुकसान बचने के उपाय

पेन किलर खाने के नुकसान को जानते हुए, इसे खाने से बचना चाहिए. अगर शरीर में दर्द की समस्या है तो फिर इसके लिए पेन किलर के क्या क्या ऑप्शन हो सकते हैं, जो नुकसान नहीं के बराबर देंइसे खाने से बचना चाहिए.

लेकिन अगर शरीर में दर्द की समस्या है, तो फिर इसके लिए पेन किलर के क्या क्या ऑप्शन हो सकते हैं, जो नुकसान नहीं के बराबर दें.

सबसे पहले तो आपको यह जानने की कोशिश करनी चाहिए कि आपको जो दर्द हो रहा है उसका क्या कारण है और उसे दूर करने की कोशिश करें. यही सबसे अच्छा उपाय है . अगर आपको कारण पता चल जाए तो उसके लिए नेचुरल तरीके से भी आप उपाय ले सकते हैं. अगर यह दर्द आपकी लाइफ स्टाइल की वजह से है तो लाइफ स्टाइल में थोड़ा सा परिवर्तन करके आप समस्या को दूर कर सकते हैं.

 दूसरा अगर आपको लगातार दर्द की शिकायत है चाहे शरीर के किसी भी अंग में दर्द की शिकायत हो. सर दर्द हो, हाथ दर्द हो, पैर दर्द हो, पीठ दर्द हो.

 इसके लिए आपको डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए, अगर आप दर्द के लिए दवाई चला रहे हैं, तो डॉक्टर को यह जरूर बताएं कि आप प्रेगनेंसी के लिए भी कोशिश कर रहे हैं.

पेन किलर एलोपैथिक के अंदर ली जाती है. अगर आपको दर्द की समस्या है, तो आप होम्योपैथी या नेचुरोपैथी या आयुर्वेदिक पैथी में भी अपनी समस्या को तलाश कर सकते हैं.

पेन किलर खाने के नुकसान से बचने के लिए आप इन छोटे-छोटे उपायों को प्रयोग में लाते हैं तो यह पेन किलर आपकी प्रेगनेंसी में बाधा उत्पन्न नहीं कर पाएगा.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें