पीरियड मिस होने पर कमर दर्द क्यों होता है

0
344

पीरियड मिस होने पर कमर दर्द क्यों होता है, यह प्रश्न कई बार उठता है लेकिन पीरियड मिस होने के बाद कमर दर्द होने के कई सारे कारण हो सकते हैं. विभिन्न अवस्थाओं में महिला को पीरियड मिस होने के बाद कमर दर्द होता है.

महिलाओं को पीरियड मिस किस कारण से हुआ है. इसका संबंध महिलाओं के कमर दर्द से हो सकता है. 

पीरियड मिस होने का कारण

  • महिलाओं को प्रेगनेंसी का होना या
  • हारमोंस की उथल-पुथल होता है.
  • कई बार कमजोर शरीर में भी पीरियड मिस हो जाते हैं.

तो सबसे पहले कमर दर्द के विषय में जानने के लिए महिलाओं को इस बात का पता लगाना काफी आवश्यक होता है कि उनके पीरियड मिस क्यों हो गए हैं.

कमर दर्द कैसा होता है

महिला को जो कमर दर्द हो रहा है वह कमर दर्द किस प्रकार का है जैसे कि —

  • रुक रुक कर होता है
  • एक ही स्थान पर होता है
  • दर्द कमर में अपना स्थान बदलता रहता है
  • दर्द गहरा होता है या
  • दर्द हल्का होता है

वर्तमान समय में यह रिसर्च का विषय है इससे भी डॉक्टर इस बात का आइडिया लगा सकते हैं कि दर्द का क्या कारण हो सकता है.

पीरियड मिस होने पर कमर दर्द क्यों होता है

पीरियड मिस होने पर कमर दर्द क्यों होता है – कारण

महिला की कमर से जुड़े बहुत सारे अंग होते हैं. उनमें से किसी में भी दर्द हो सकता है, और कभी-कभी यह भी होता है, कि केवल बाई चांस कमर दर्द पीरियड मिस होने के समय हो गया हो और इसका कोई संबंध पीरियड मिस होने से ना हो.

महिला के पीरियड मिस होने के समय शरीर में कई प्रकार की गतिविधियां एक साथ चलती हैं. इस वजह से काफी कारण होते हैं, जिनकी वजह से कमर दर्द हो सकता है.

पीरियड संकुचन के कारण दर्द

कभी-कभी लाइफस्टाइल समस्याओं की वजह से पीरियड मिस हो जाते हैं, और उसके पीछे कोई विशेष वजह नहीं होती है, और पीरियड आने वाले होते हैं, तो ऐसे में महिला के गर्भाशय में उससे जुड़ी मांसपेशियों में संकुचन होने लगता है. ताकि ब्लडलाइन पीरियड के रूप में बाहर आ सके.

उससे पहले भी इस प्रकार का दर्द होता है. हालांकि पीरियड का समय निकल चुका है. पीरियड मिस हो गए हैं. लेकिन यह एक प्रकार से पीरियड से पहले होने वाला दर्द होता है.

इंफेक्शन के कारण

कभी-कभी प्रेगनेंसी हो जाने पर इस प्रकार का दर्द हो सकता है. यह प्रेगनेंसी के नजरिए से ठीक नहीं होता है. गर्भवती होने पर महिला का इम्यून सिस्टम कमजोर माना जाता है, और कमजोर इम्यून सिस्टम की वजह से महिला को वेजाइनल इंफेक्शन के कारण कमर दर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है. इस प्रकार के दर्द में महिला को तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

कभी-कभी इस प्रकार का दर्द बुखार के साथ होता है तो यह प्रेगनेंसी में गर्भपात की तरफ इशारा करता है. अर्थात अगर इसे सीरियस नहीं लिया गया और इसका समय रहते इलाज नहीं किया गया तो गर्भपात हो सकता है.

मांसपेशियों में ऐंठन

हर महिला के शरीर पर प्रेगनेंसी हारमोंस का अलग-अलग प्रभाव नजर आता है. कुछ शरीर प्रेगनेंसी हारमोंस के प्रति अधिक सेंसिटिव होते हैं और कुछ शरीर कम सेंसेटिव होते हैं.

जो शरीर इन हारमोंस के प्रति अधिक सेंसिटिव होते हैं, उन्हें प्रेगनेंसी के लक्षण अधिक नजर आते हैं. कभी-कभी इनकी वजह से मांसपेशियों में ऐंठन की समस्या आ जाती है. उस परिस्थिति में अगर किसी कारणवश हल्का सा भी प्रेशर कमर पर आता है, तो दर्द महसूस होता है.

एंडोमेट्रियोसिस

कुछ महिलाओं को एंडोमेट्रियोसिस की समस्या होती है जिन महिलाओं को यह समस्या होती है उन्हें अक्सर पीरियड से पहले या पीरियड मिस हो जाने के बाद तीव्र कमर दर्द की समस्या देखने में आती है. इसके लिए तुरंत डॉक्टर से ट्रीटमेंट लेना चाहिए.

कमजोरी के कारण

कमजोरी के कारण कमर दर्द होना काफी सामान्य है. क्योंकि हमारी कमर की मांसपेशियों पर हमारे शरीर की एक्टिविटी काफी हद तक निर्भर करती हैं. एक तरह से कमर को हमारा आधार माना जा सकता है.

अगर महिला का शरीर कमजोर है. ताकत की कमी है. खून की कमी है, तो शारीरिक क्षमता से अधिक कार्य कर लेने पर कमर दर्द की समस्या हो जाती है, और अक्सर शरीर में खून की कमी और कमजोरी की वजह से पीरियड भी मिस हो जाते हैं, और इस दौरान कमर दर्द भी हो सकता है.

पीरियड मिस होने के बाद कमर दर्द के घरेलू उपाय

पीरियड मिस होने के बाद या प्रेगनेंसी हो जाने के बाद कमर दर्द क्यों हो रहा है. बिना चेकअप के या बिना किसी एक्सपर्ट एडवाइज के आप यह पता नहीं लगा सकते हैं, कि यह वास्तव में सामान्य है, या किसी गंभीर खतरे की तरफ इशारा कर रहा है.

  • लेकिन जैसे ही कमर दर्द होता है तो आप गर्म पानी की बोतल से या हीटिंग पैड से कमर के निचले हिस्से की सिकाई करें.
  • अगर यह कंफर्म है कि प्रेगनेंसी नहीं है तो गर्म पानी से नहाएंगे तो आपको राहत मिलेगी
  • आप कमर के निचले हिस्से की मालिश कर सकते हैं
  • एक्सपर्ट से पूछ व्यायाम कर सकते हैं. कुछ एक्सरसाइज कर सकते हैं.
  • डॉक्टर की सलाह पर मेडिसन या कुछ सप्लीमेंट प्रयोग कर सकते हैं.

निष्कर्ष

पीरियड मिस किस कारण से हुए हैं. इसका पता लगाना काफी आवश्यक होता है.
उसके बाद होने वाले कमर दर्द का ट्रीटमेंट अवश्य ले.
क्योंकि कमर दर्द होने के कुछ सामान्य कारण होते हैं, तो कुछ गंभीर परिस्थितियों में भी कमर दर्द  लक्षण के रूप में नजर आता है.
इसलिए इस समस्या को हल्के में नहीं ले और इसका सही प्रकार से इलाज कराएं और अपना ध्यान रखें.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें