तीसरे महीने गर्भ में शिशु का विकास – Baby Growth in 3rd Month

0
440
 हम आपको तीसरे महीने में शिशु का विकास आपके  गर्भ में किस तरह से होता है. कौन-कौन से अंग उसके विकसित होने लगते हैं इस संबंध में चर्चा करने वाले हैं.

हम आपको 9वे हफ्ते से लेकर 12 हफ्ते तक बच्चे के विकास में के संबंध में चर्चा करेंगे, तीसरे महीने में शिशु के विकास पर चर्चा करते हैं.

9th month fetus development in womb 


इन्हें भी पढ़ें : तीसरे महीने महिला के शरीर में बदलाव और बच्चे का विकास

इन्हें भी पढ़ें : तीसरे महीने प्रेगनेंसी के लक्षण

9 वां हफ्ता

आठवें हफ्ते में आपका शिशु अब अपनी कोहनियां और घुटनें मोड़ सकता है। उसकी मुखाकृति अब धीरे-धीरे अधिक स्पष्ट होती जा रही है, क्योंकि उसका ऊपरी जबड़ा और नाक अब आकार लेने लगे हैं। उसका माप अब राजमा के बराबर है।
नवे हफ्ते के संबंध में विस्तृत चर्चा करते हैं.

8 हफ्ते तक शिशु का विकास एम्ब्रेयोनिक चरण में होता है जिसमें कोशिकाएं शिशु के तंत्रिका तंत्र, मस्तिष्क और उसके शरीर के दूसरे हिस्से सभी मुख्य अंगो के रूप में विकसित होती हैं. इस हफ्ते से आपका शिशु भ्रूणीय चरण (फीटल स्टेज) में प्रवेश करेगा जो विकास उसके जन्म तक जारी रहेगा.

इस हफ्ते भ्रूण का आकार मनुष्य जैसा दिखने लगेगा इस हफ्ते के अंत तक वह लगभग 2.3 सेंटीमीटर लंबा हो गया है, और उसका वजन भी अब 2 ग्राम के आसपास है और उसका साइज एक अंगूर के समान आप मान सकते हैं. शिशु के कान बनने लगे हैं थोड़ा स्पष्ट दिखने लगे हैं उसके के केशकूप  भी अब बनने लगे हैं. उसके मुंह में जीप का विकास हो रहा है, स्वाद कालिकाएं उभरना शुरू हो चुकी है. जल्द ही मसूड़ों  पर बल्ब के आकार के अंकुर फूटने लगेंगे जहां उसके दूध के दांत बनेंगे.

इस हफ्ते से शिशु के गुप्तांग बनना शुरू हो गए हैं उसके हाथ पैरों का विकास तो हो ही रहा था अब उसके टेक्ने और कलाइयां अधिक विकसित हो चुकी है और हाथ और पैरों में उंगलियां भी स्पष्ट दिखाई दे सकती है और अब उसकी भुजाएं और कोनी मुड़ सकती है.

10th month fetus development in womb

10 वां हफ्ता

दसवीं हफ्ते में शिशु की सीधी लंबाई में 3.1 सेंटीमीटर मान सकते हैं लगभग 1.2 इंच हो गई है और उसका वजन 4 ग्राम के आसपास है, लेकिन अभी उसका माथा उभरा हुआ है लेकिन कान का बाहरी हिस्सा स्पष्ट दिखाई पड़ता है, विकसित हो चुका है. लेकिन गर्दन में झुकाव है ठुड्डी  छाती की तरफ है, और अभी उसकी पलकें बंद है. शिशु की पलके 27 वें सप्ताह बीत जाने से पहले नहीं खुलती हैं.

अब आप स्पष्ट रूप से कह सकते हैं शिशु का हृदय विकसित हो चुका है. उसकी उंगलियां स्पष्ट नजर आ रही है उन पर नाखून तक आने लगे हैं .  उसके पेट की मांसपेशियां डेवलप हो रही है. वह छोटा जरूर है लेकिन काफी क्रियाशील और फुर्तीला होता है. वह अपने अंगों को हिला दुला सकता है.

11th month fetus development in womb

इन्हें भी पढ़ें : चौथे महीने गर्भ में बच्चे के विकास और शरीर में बदलाव

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के चौथे महीने गर्भ में शिशु का विकास

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान आवश्यक योगा- 5 months pregnant yoga

इन्हें भी पढ़ें : पांचवे महीने में महिला को कैसा भोजन खाना चाहिए

11 वां हफ्ता

11 वे हफ्ते में शिशु की लंबाई 4.1 सेंटीमीटर या कह सकते हैं 1.6 इंच के आसपास होती है. वह एक अंजीर के दाने के बराबर हो चुका है थोड़ा छोटा बड़ा भी हो सकता है यह लंबाई उसकी सर से लेकर नितंब तक की होती है.

जहां तक बच्चे के विकास का सवाल है तो उसकी नसें और धमनिया बन रही है बच्चे की त्वचा इतनी पतली है कि उसके आसपास के विकास को देखा जा सकता है. शिशु का मुंह लगभग तैयार हो चुका है तालु की हड्डियां एक साथ जुड़ रही है शिशु के दूध के दांत बनने लगे हैं साथ ही साथ मसूड़े भी विकसित हो रहे हैं शिशु की आंखें बंद है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह सो रहा है  वह बहुत चपलता के साथ अपने हाथ पांव हिलाकर उन्हें लचीला बना रहा है. वह भी बहुत छोटा है और इस वजह से आप उसकी इन हरकतों को महसूस नहीं कर पाएंगी उसके हाथ पैर की उंगलियां जो एक दूसरे से जुड़ी हुई थी, अब तक आते-आते अलग हो चुकी हैं.

12th month fetus development in womb

12 वां हफ्ता

इस हफ्ते तक बच्चे के हाथ पैर काफी ज्यादा विकसित हो चुके हैं और शिशु की लंबाई सर से लेकर नितंब तक माने तो अर्थात पैर को छोड़ दें तो उसकी लंबाई 5.4 सेंटीमीटर के आसपास होती है और इंच के अंदर 2.1 इंच मान सकते हैं.  इसे करीब करीब आप एक छोटे नींबू जितना बड़ा मान सकते हैं, और इस समय बच्चे का वजन 14 ग्राम तक होता है बच्चे की हड्डियां विकसित होना शुरू हो जाएंगी. उत्तकों को हड्डियां जितना कठोर बनने की प्रक्रिया में काफी लंबा समय लगता है वह प्रक्रिया लगभग शुरू हो चुकी है वास्तव में शिशु की हड्डियां अभी पूरी तरह से विकसित नहीं होती है जब तक कि वह 20 से 30 साल तक का नहीं हो जाता तब तक विकास होता ही है.

शिशु दिन-प्रतिदिन मनुष्य के आकार में ढलता जा रहा है उसका सिर भी मनुष्य के सिर जैसा धीरे-धीरे हो रहा है उसकी आंखें नजदीक आ रही है वह अपनी उंगलियों को इकट्ठा करके बंद कर सकता है चूसने के लिए अपने मुंह की मांसपेशियों का इस्तेमाल करने लगा है. शिशु की क्रियाएं और ज्यादा प्रखर होती जा रही हैं
अगर आप अपने पेट पर धप्पा लगाएं तुम्हें रिएक्शन देता है. वह रिएक्शन देता है लेकिन उसके रिएक्शन या उसका हिलना डुलना आप महसूस नहीं कर पाएंगे आप केवल इस वक्त अल्ट्रासाउंड स्कैन के माध्यम से ही उसे हिलता दुलता देख सकती हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें