Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शनिवार, 20 जुलाई 2019

क्या गर्भावस्था में अंडा खा सकते हैं – Step by Step Information

नमस्कार दोस्तों प्रेगनेंसी का समय कैसा समय होता है जिसमें महिला की बहुत ज्यादा ध्यान रखने की आवश्यकता होती है, कुछ भी खाद्य पदार्थ चाहे वह कितना भी पोस्टिक क्यों ना हो बिना सोचे समझे खाने या पीने के लिए नहीं दिया जा सकता है क्योंकि कई बार कुछ खाद्य पदार्थों की पौष्टिक होते हैं वह भी प्रेगनेंसी को नुकसान पहुंचा सकते हैं क्योंकि इस समय महिला का इम्यून सिस्टम थोड़ा कमजोर होता है इस वजह से खाने-पीने में कई प्रकार की सावधानियां रखी जाती है | ऐसे ही एक खाद्य पदार्थ है जो कि सुपर फूड के नाम से जाना जाता है जिसे हम अंडा कहते हैं वह भी बिना सोचे समझे किसी भी गर्भवती महिला को नहीं दिया जाता हैं, हम सभी जानते हैं कि अंडा एक पोषक तत्व से भरपूर खाद्य पदार्थ हैं
आज हम अंडे को लेकर रोशनी  डालने की कोशिश कर रहे हैं जिससे कि गर्भवती महिला को अपना भोजन करने में आसानी हो
हम चर्चा करेंगे कि
अंडे में कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं
क्या इसे प्रेगनेंसी में खाया जा सकता है
अगर खाया जा सकता है तो किस प्रकार से खाना चाहिए
इससे क्या क्या खतरे होते हैं क्या नुकसान हो सकता है.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में दही खाना चाहिए कि नहीं खाना चाहिए
You May Also Like : प्रेगनेंसी में शहद का सेवन कितना फायदेमंद


raw egg pregnancy, best foods for pregnancy, eating eggs when pregnant


सभी जानते हैं कि अंडा खाना कितना फायदेमंद होता है। अंडे को यूं ही सूपरफूड नहीं कहा गया है। अंडे में बहुत सारा प्रोटीन, फैट, मिनरल और अन्य पोषक तत्व पाया जाता है। अंडे में सेलेनियम, जस्ता, विटामिन जैसे ए और डी होते हैं जो कि गर्भावस्था के दौरान आवश्यक हैं.

एक अंडे में 65 प्रतिशत पानी, 10.8 प्रतिशत वसा, 10.8 प्रतिशत खनिज और 12.1 प्रतिशत प्रोटीन व सारे खनिज लवण पाए जाते हैं, जो आसानी से पच जाते हैं। इसमें प्रचुर लौह तत्व भी पाए जाते हैं, जो खून बनाने में सहायक होता है। गर्भवती महिला, बच्चे, बूढ़े और बीमार लोगों के लिए अंडा संतुलित आहार है।
प्रेगनेंसी के समय कुछ स्वास्थ्य वर्धक आहार होते हैं जिन्हें जरुर खाने चाहिये। अंडे में पाए जाने वाले पोषण संबंधी लाभों को की वजह से ही हर डॉक्टर बोलते हैं कि गर्भवती महिला को अंडा जरुर खाना चाहिये। कोलेस्ट्रॉल की समस्या का मतलब मोटापे से है क्योंकि और अधिक मोटापा बढ़ जाने से प्रेगनेंसी में डिलीवरी संबंधी परेशानियां हो सकती हैं –
You May Also Like : प्रेगनेंसी में क्यूं खाना चाहिये फूलगोभी
You May Also Like : 35 के बाद प्रेग्नेंट होने के 15 टिप्स पार्ट #2


कोलेस्ट्रॉल का सोर्स
अगर गर्भवती महिला का ब्लड कोलेस्ट्रॉल स्तर सामान्य है तो वह दिन में एक या दो अंडा खा सकती है. अंडे में कुछ मात्रा में सैचुरेटेड फैट भी होता है. अगर महिला का कोलेस्ट्रॉल लेवल अधिक है तो उसे जर्दी वाला (पीला हिस्सा) भाग नहीं खाना चाहिए.

is egg good for pregnancy, best food during pregnancy


प्रोटीन का खजाना
अंडे में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो गर्भावस्था के दौरान लिया जाना बहुत आवश्यक है. गर्भ में पल रहे बच्चे की हर कोशिका प्रोटीन से बनती है. ऐसे में गर्भवती महिला अगर अंडे खाती है तो भ्रूण का विकास बेहतर तरीके से होता है.

कैलोरी का माध्यम
एक गर्भवती महिला को एक दिन में दो सौ से 300 तक एडिशनल कैलोरी लेनी चाहिए. इससे उसे और बच्चे, दोनों को पोषण मिलता है. अंडे में करीब 70 कैलोरी होती है जो मां और बच्चे दोनों को एनर्जी देती है.
You May Also Like : जानें क्यों प्रेगनेंसी में सौंफ खाने से किया जाता है मना
You May Also Like : प्रेगनेंसी के शुरुआती 11 लक्षण - Part #2


दिमागी विकास के लिए
अंडे में 12 विटामिनों का पैकेज होता है और साथ ही कई तरह के लवण भी होते हैं. इसमें मौजूद choline और ओमेगा-3 फैटी एसिड बच्चे के संपूर्ण विकास को बढ़ावा देते हैं. इसके सेवन से बच्चे को मानसिक बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है और उसका दिमागी विकास भी होता है.

pregnant lady food,things to eat when pregnant


जब अंडे खाने की बात आती है, तो वहां सावधानी भी बरतनी चाहिए। क्योंकि जहां वे बहुत पौष्टिक होते हैं, वहीं ग़लत तरीके से नहीं पकाने से वे आपके इंस्टेटाइन या आंतों में इंफेक्शन का कारण बन सकते हैं.
कच्चे या कम पके हुए अंडे साल्मोनेला इंफेक्शन से जुड़े हुए हैं, जो मतली, उल्टी, पेट में ऐंठन और डायरिया जैसी समस्याओं का कारण बनते हैं जो फूड पॉयजनिंग के लक्षण हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें