Header Ads

प्रेगनेंसी के शुरुआती 11 लक्षण - Part #2

नमस्कार दोस्तों आज आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपके लिए 11 ऐसी टिप्स लेकर आए हैं जिससे आप बड़ी आसानी से यह जान सकती हैं कि आप गर्भवती है कि नहीं है।

pregnancy symptoms

इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था के प्रथम सप्ताह में नजर आने वाले लक्षण
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी से बचने के घरेलू उपाय
इन्हें भी पढ़ें : अल्कोहल से जेंडर प्रिडिक्शन 1 मिनट में
इन्हें भी पढ़ें : बेकिंग सोडा और यूरिन से कैसे करते हैं जेंडर प्रेडिक्शन केवल 1 मिनट में - Gender prediction



प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण - Early signs of Pregnancy


पेशाब में समस्या

जब महिला गर्भवती होती है तो उसके शरीर से अधिक मात्रा में पेशाब निकलती है, क्योंकि किडनी दोगुना काम करती है। इस अवस्था में कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन नामक हारमोन शरीर में बनता है जो पेल्विक भाग में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है। इस दौरान आपका शरीर अतिरिक्त तरल पदार्थ उत्पादित करता है जिससे मूत्राशय पर दबाव पड़ता है और आपको बार - बार पेशाब के लिए जाना पड़ता है। इसीलिए, महिला को हर दूसरे मिनट में पेशाब लगती है।

ब्लड़ स्पॉट आना 

आपके पीरियडस के दिन आने वाले है और आप प्रेग्नेंट हो जाती है ऐसे में कभी - कभी स्पॉटिंग की दिक्कत आ ही जाती है। यह सामान्य से काफी हल्का होता है क्योंकि इस अवस्था में निषेचित अंडा, गर्भाशय की दीवार को गिरा देते है जिससे थोडी सी ब्लीडिंग होती है। कई बार महिलाएं इसे लेकर भ्रमित हो जाती हैं कि उन्हें पीरियड्स हो चुके हैं ऐसे में उन्हें ख्याल तक नहीं रहता कि वो मां बनने वाली हैं।
अगर आपको इस बारे में कोई टेंशन हो, तो अपनी डॉक्टर से सलाह लें।

पीठदर्द 

प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण में पीठ दर्द होना भी होता है क्योंकि हार्मोनल परिवर्तन के कारण हड्डियों के लिगामेंट थोड़े से लूज हो जाते हैं जिसके कारण यह दर्द महसूस होता है।

मुहांसे

चेहरे पर अचानक से मुहांसों की तादाद बढ़ जाना भी प्रेग्नेंसी की तरफ इशारा करता है। मुहांसे दूर करने वाली कई दवाओं में विटामिन ए की ज्यादा मात्रा होती है, जो बच्चो में जन्म दोष की वजह बनती है। ऐसी स्थिति में हमेशा डॉक्टर के परामर्श के अनुसार ही दवा लेना चाहिए।

मतली आना 

अधिकाश: महिलाओं को गर्भावस्था के शुरूआती समय में सुबह - सुबह मतली आने की समस्या सबसे ज्यादा होती है। कई महिलाओं को सुबह, दोपहर और रात के दौरान भी मतली आती है ऐसा उनके शरीर में होने वाले परिवर्तनों के कारण होता है।

स्तनों में भारीपन 

अगर आपको अपने स्तनों का साइज थोड़ा सा बढ़ा हुआ लग रहा है या थोड़े से थोड़ा सा भारीपन महसूस हो रहा है तो हो सकता है कि आप प्रेग्नेंट हो।

इन्हें भी पढ़ें : गर्भ में बेटा या बेटी जानने का मिस्र का तरीका
इन्हें भी पढ़ें : चाइना में बच्चे का जेंडर पता करने के कुछ प्राचीन तरीके
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में शहद का सेवन कितना फायदेमंद
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में दी जाने वाली बेस्ट ड्रिंक




signs of pregnancy

गैस और एसिडिटी की समस्या

प्रेग्नेंसी के समय गैस और एसिडिटी की समस्या होना एक सामान्य बात है यह शरीर की इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाने की वजह से होता है, प्रेगनेंसी में इम्यून सिस्टम थोड़ा कमजोर हो ही जाता है।



मॉर्निंग सिकनेस

मॉर्निंग सिकनेस का होना भी प्रेग्नेंसी के खास लक्षणों में से एक है। इस दौरान आपको सुबह जल्दी उठने में बहुत आलस आता है। अगर आपको अचानक यह समस्या लगने लगती है तो आप प्रेगनेंट हो सकती है।


इन्हें भी पढ़ें : स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने के लिए ट्राई करें ये 3 घरेलू नुस्खे
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंट न हो पाना एक कारण आप का भोजन
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सफर करें तो रखें इन बातों का ख्याल
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में लेटते समय किन बातों का ध्यान रखें
इन्हें भी पढ़ें : वर्षा ऋतु में गर्भ की देखभाल कैसे करें

कब्ज की समस्या

प्रेग्नेंसी के समय कब्ज की शिकायत अक्सर महिलाओं को हो जाती है अगर आपको यह समस्या लगातार बनी हुई है तो आप प्रेग्नेंट हो ऐसा संभव है।

सीने में जलन

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी के समय सीने में जलन महसूस होती है अगर आपके साथ भी है समस्या का अचानक आई है तो हो सकता है कि आप प्रेग्नेंट हो.

symptoms of pregnancy in first month

खाने की इच्छा होना

प्रेगनेंसी के समय हार्मोनल परिवर्तन के कारण कभी कभी महिलाओं की किसी विशेष चीज को खाने की बड़ी ही तीव्र इच्छा होती है
जैसे की आइसक्रीम खाने की इच्छा या किसी खट्टी चीज या मीठा खाने की इच्छा अचानक से बढ़ जाती है



No comments

Powered by Blogger.