Header Ads

अगर प्रेगनेंसी में अंडे खाते हैं तो इन बातों का ध्यान जरूर रखें

 प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं को अपने भोज्य पदार्थ को लेकर काफी सावधान रहने की आवश्यकता होती है प्रेगनेंसी में महिला कुछ भी चीज बिना सोचे समझे नहीं खा सकती है ऐसे ही एक सुपर फूड है जिसे हम अंडा कहते हैं यह प्रेगनेंसी के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है लेकिन इसे भी खाने में सावधान रखनी पड़ती

क्या गर्भवती महिलाएं अंडे खा सकती हैं
क्या अंडा खाना फायदेमंद है
एक दिन में कितने अंडे खा सकती है
कैसे चुने सही अंडा
अंडे खाने में क्या खतरा


इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी खाएं या नहीं खाएं
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान मिट्टी खाना
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में अनार खाए या नहीं खाए
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान मिठाई खाने की लालसा
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में नींद पर्याप्त सोना क्यों जरूरी है

क्या गर्भवती महिलाएं अंडे खा सकती हैं - Can pregnant women eat eggs

आपके मन में पहला सवाल यही आएगा कि किया गर्भवती स्त्रियां अंडे को खा सकती है, तो इस सवाल का जवाब यही है, कि गर्भवती स्त्रियां अंडे को खा सकती हैं. यह काफी पौष्टिक माना जाता है, लेकिन इसे बहुत अच्छी तरह से पका कर ही खाना चाहिए. क्योंकि अंडे में बैक्टीरिया होने का खतरा रहता है. इसलिए इसका अच्छे से पका होना बहुत जरूरी होता है.

क्या अंडा खाना फायदेमंद है - Is it beneficial to eat eggs

प्रेगनेंसी के द्वारा अंडा खाने में थोड़ा रिस्क तो है, लेकिन इसके फायदे भी काफी लाजवाब होते हैं आइए एक नजर डालते हैं.

भ्रूण के मस्तिष्क के विकास के लिए अर्थात गर्भ शिशु के मस्तिष्क के विकास के लिए अंडा एक सुपरफूड माना जाता है.

अगर महिला अंडे का सेवन करती है तो उन्हें सावधानीपूर्वक अंडे का सेवन गर्भावस्था के दौरान जरूर करना चाहिए. क्या सावधानियां है इस पर आगे हम चर्चा करेंगे.

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को कैल्शियम आयरन और फोलिक एसिड के सप्लीमेंट अर्थात अनुपूरक डॉक्टर्स लिखते हैं लेकिन विटामिन ए भी बहुत जरूरी पोषक तत्व होता है. इसके लिए डॉक्टर चाहते हैं कि इसकी पूर्ति महिलाएं अपने भोज्य पदार्थों से करें इसके लिए आप अंडे का सेवन कर सकती हैं.

अंडे के अंदर कैल्शियम भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसलिए अंडे खाने वाली महिला के शिशु में हड्डियों का विकास काफी समृद्ध तरीके से होता है.

अंडे में आयोडीन की मात्रा भी पाई जाती है जिसकी वजह से गर्भस्थ शिशु कई मानसिक और शारीरिक बीमारियों से बच जाता है.

एक दिन में कितने अंडे खा सकती है - How many eggs can Pregnant eat in a day

कोई भी गर्भवती स्त्री 1 दिन में दो अंडे अपने भोज्य पदार्थों में शामिल कर सकती है. वैसे हर गर्भवती स्त्री के लिए यह एक समान नहीं है. अगर आप अपने डॉक्टर से इस संबंध में सलाह लेंगे तो वह कई सारे पहलुओं पर ध्यान रखते हुए आपको अंडे की मात्रा नियत करेंगे. 

अंडा खाना गर्भावस्था के दौरान सुरक्षित तो माना जाता है, लेकिन इसे चुनने में भी हमें सावधानी रखने की आवश्यकता होती है.

कैसे चुने सही अंडा- How to choose the right egg

ग्रामीण क्षेत्रों में तो मुर्गी पालकों से ही अंडे खरीद ले जाते हैं. इस वजह से ज्यादा ध्यान रखने की आवश्यकता नहीं होती है. बस थोड़ी बहुत बातें ध्यान में रखें जैसे कि --
अंडे ताजे होने चाहिए. 


इन्हें भी पढ़ें : पहले 3 माह में मिसकैरेज होने के कुछ मुख्य कारण पार्ट -1
इन्हें भी पढ़ें : गर्भ में शिशु की हलचल कब कम हो जाती है क्या कारण है
इन्हें भी पढ़ें : स्तनपान कराने से माँ को होने वाले लाभ
इन्हें भी पढ़ें : भ्रूण में धड़कन होते हुए भी कभी-कभी क्यों नहीं सुनाई पड़ती है
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में मुंहासों के क्या कारण है और प्राकृतिक तरीकों से कैसे मुहांसों से बचा जाए


अंडा किसी भी प्रकार से टूटा हुआ नहीं होना चाहिए.
अगर महिलाएं किसी बड़े शहर में रह रही है तो उन्हें कुछ विशेष बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता होती है जैसे कि -----
वह कोशिश करें कि ऑर्गेनिक अंडे ही खरीदें आजकल तो डुप्लीकेट अंडे भी मार्केट में आ रहे हैं ध्यान रहे.
अगर ऑर्गेनिक अंडे ना मिले तो अच्छे से पैक किए हुए अंडे ही उन्हें खरीदने चाहिए.

 
अगर आप पैक वाले अंडे ले रहे हैं तो उसकी एक्सपायरी डेट जरूर होती है उसे जरूर चेक करें.
 रेफ्रिजरेटेड  या पाश्चराइज्ड अंडे ही खरीदना बेहतर रहता है.


जब आप अंडा लेकर आएं, तो उसे पानी में डालकर चेक करें.अगर अंडा पानी में तैर जाए, तो समझे कि अंडा ताजा नहीं है, और अगर डूब जाए तो मतलब अंडा ताजा है. 

अंडे खाने में क्या खतरा - What is the harm of eating eggs in pregnancy

हमने अपने पुराने वीडियोस में चर्चा विस्तृत तरीके से की हैं . अंडे खाने से क्या जोखिम हो सकते हैं. क्यों होता है थोड़ा सा हम बता देते हैं दर्शकों ने वह वीडियोस नहीं देखे हैं. अंडे के अंदर हैं सालमोनेला जैसा हानिकारक बैक्टीरिया हो सकता है जो गर्भपात का कारण बन जाता है. और कई बार कुछ महिलाओं को अंडा खाने से एलर्जी की समस्या हो सकती है और उन्हें एलर्जी होने की वजह से इस शिशु को भी एलर्जी हो सकती है.


संक्रमण से बचने के लिए कुछ सावधानियां आप रख सकते हैं जैसे कि अंडे को हमेशा ऑपरेट करने से पहले अर्थात छूने से पहले, उसका भोजन बनाने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह धोएं.  क्योंकि हाथों के बैक्टीरिया बहुत जल्दी अंडे पर चले जाते हैं.


अंडे को किसी दूसरे भोजन के साथ ना रखें जैसे कि आप फ्रिज में रख देते हैं. अलग ही रखें.
अंडे को हमेशा कोशिश करें फ्रिज में ही रखें.


अंडे को फ्रिज से निकाल कर तुरंत उसे ना पकाएं. कुछ देर उसे बाहर रखें. उसका तापमान सामान्य होने दें तभी प्रयोग करें. 


अगर किसी अंडे से बदबू आए या अंडे को पकाने के बाद बदबू आए, तो उसका सेवन न करें.
अगर बाहर कहीं खाना खाने जाएं, तो बाहर के अंडे का सेवन न करें.

No comments

Powered by Blogger.