Header Ads

प्रेगनेंसी में गुड़ खाते हैं इन बातों का ध्यान रखें

प्रेगनेंसी के दौरान क्या महिला को गुड़ खाना चाहिए.
आज के हमारे टॉपिक हैं ---
क्या प्रेगनेंसी में गुड़ खाएं 
प्रेगनेंसी में गुड़ खाएं तो कितनी मात्रा में खाना चाहिए 
प्रेगनेंसी में गुड़ कब खाना चाहिए 
गुण में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं 
गुड़ खाते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए 
कैसे गुड़ को अपने भोजन में शामिल करें 


क्या प्रेगनेंसी में गुड़ खाएं - Kya Pregnancy me Gur Khana Theak Hai

दोस्तों जहां तक प्रेगनेंसी के दौरान गुड़ खाने की बात है तो प्रेगनेंसी के दौरान गुड़ को खाया जा सकता है. और गुड़ को हम पहले दिन से ही अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं. ऐसा कुछ भी नहीं है कि किसी विशेष महीने से गुड़को खाना चाहिए या किसी विशेष महीने में गुण नहीं खाना चाहिए.
पहले महीने से लेकर 9 वें  महीने तक आप कभी भी गुड़ का सेवन कर सकती हैं.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में गुड़ खाने के फायदे नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में पास्ता खाना चाहिए


गुड़ के पोषक तत्व - Gur ki Nutrition Value

दोस्तों और खाद्य पदार्थों की तरह गुड़ के अंदर बहुत ज्यादा पोषक तत्व तो नहीं पाए जाते हैं. इसके अंदर आयरन और सोडियम भरपूर मात्रा में होता है. इससे आपको ऊर्जा और कार्बोहाइड्रेट भी प्राप्त होते हैं साथ ही साथ इसमें शुगर भी अच्छी मात्रा में होती है.

प्रेगनेंसी में गुड़ खाएं तो कितनी मात्रा में खाना चाहिए - Pregnancy me Kitna Gur Khana Chaheye

प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में आयरन की पूर्ति के लिए गुरु को खाया जा सकता है. किसी भी गर्भवती महिला को 50 ग्राम से लेकर 60 ग्राम तक 1 दिन में गुड़ का सेवन करना चाहिए और लगभग रोज महिला गुड़ का सेवन कर सकती है.

प्रेगनेंसी में गुड़ कब खाना चाहिए - Pregnancy me Kab Gur Khana Hai

किसी भी गर्भवती स्त्री को पहली दो तिमाही में आरंभ की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है. इसलिए अपने डॉक्टर की सलाह पर महिला अपने शरीर के नेचर अनुसार अपने फूड हैबिट के अनुसार गुड़ का सेवन कर सकती है, और आवश्यकतानुसार तीसरी तिमाही में भी महिला गुण अपने भोजन में शामिल कर सकती है. आप इस बात का विशेष ध्यान रखें कहीं आपको गुड़ की वजह से मतली या उल्टी की समस्या नहीं होनी चाहिए.


इन्हें भी पढ़ें : गर्भ में बेटा या बेटी जानने के 6 तरीके
इन्हें भी पढ़ें : क्या माया कैलेंडर के अनुसार के जेंडर प्रेडिक्शन कर सकते हैं


गुड़ कैसे खाएं - Pregnancy me Gur kaise Khana Hai


  • आप गुड़ को सीधे खा सकते हैं. 
  • इसे दूध के साथ भी खाया जा सकता है 
  • चाय में चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करना श्रेष्ठ कर रहता है ,चीनी तो वैसे भी बहुत खतरनाक होती है.
  • गुड़ की चाशनी बनाकर कई प्रकार के पकवान में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है 
  • कुछ लोग गुड़ की खीर भी बना कर खाते हैं 
  • गुड़ को कई प्रकार के मिष्ठान में प्रयोग किया जा सकता है जैसे की गुड़ पट्टी पापड़ी इत्यादि या लड्डुओं में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.

इन्हें भी पढ़ें : पुत्र प्राप्ति की चमत्कारी प्राचीन औषधि
इन्हें भी पढ़ें : गर्भ में पुत्र प्राप्ति का उपाय - गाय का दूध


गुड़ खाते समय क्या सावधानी रखें - Pregnancy me Gur khana me Precaution 


  • हिंदुस्तान के अंदर गुड़ को काफी हाइजेनिक तरीके से तैयार नहीं किया जा सकता है, इस को तैयार करते समय धूल मिट्टी के कण इस पर लगे हो सकते हैं. तो खरीदते समय और खाते समय इस बात का ध्यान रखें, गुड़ साफ हो.
  • अगर गुड़ चिपचिपा है तो यह खाने योग्य नहीं होता है.
  • खरीदते समय इस बात का ध्यान रखें गुड़ पर मुखिया ना बैठी हूं यह आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है.
  • पैकेट वाला गुड़ ही खरीदें, खुला नहीं खरीदें, और पैकेट के गुड़ पर एक्सपायर डेट होती है तो उसे भी एक बार जरूर चेक कर ले.


No comments

Powered by Blogger.