Header Ads

प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी खाएं या नहीं खाएं - Pregnancy me Patta Gobhi

पत्ता गोभी प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी खाएं या नहीं खाएं

हम चर्चा करने वाले प्रेग्नेंसी के समय पत्ता गोभी खाने को लेकर, दोस्तों यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसे सब्जी की श्रेणी में रखा जाता है, और यह विंटर सीजन में मार्केट में दिखाई पड़ती है..
आज हम चर्चा करने वाले हैं ---
क्या प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी खाई जा सकती है 
प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी खाने के फायदे 
पत्ता गोभी खाने के नुकसान 
प्रेगनेंसी के दौरान कितनी पत्ता गोभी खा सकते हैं 
प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी कब से खाएं
पत्ता गोभी को कैसे अपने भोजन में शामिल करें
पत्ता गोभी में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं 
तथा दूसरी जरूरी बातों पर हम चर्चा करेंगे…


प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी खाएं या नहीं खाएं  -  Pregnancy me Patta Gobhi

क्या प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी खाई जा सकती है - Kya Pregnancy me Patta Gobhi Kha Sakte hai

दोस्तों पत्ता गोभी जाड़ों में आने वाली एक सब्जी है जिसे बादी श्रेणी में रखा जाता है. अर्थात इसे गैस बनाने वाली सब्जी भी कहा जाता है. प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी को खाया जा सकता है, लेकिन इसे कम ही मात्रा में खाना चाहिए. आपके लिए क्या उचित मात्रा होगी इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से पूछ सकते हैं.
पत्ता गोभी को कम खाने का मुख्य कारण इस पर अत्यधिक किया जाने वाला कीटनाशक दवाओं का प्रयोग है साथ ही साथ इसे फंगस लगने का भी काफी ज्यादा डर रहता है. इसलिए इसे अच्छी तरह से धोकर और अच्छी तरह से पका कर ही खाना चाहिए.

इन्हें भी पढ़ें : फोलिक एसिड की कमी से नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान आवश्यक योगा
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान चाय पीना
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के छठे महीने में क्या खाएं क्या ना खाएं
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में अमरूद खाते हैं इन बातों का ध्यान रखें

पत्ता गोभी में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं - Patta Gobhi ki Nutrition Value

पत्ता गोभी के अंदर काफी सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे कि पत्ता गोभी के अंदर विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, फ़ोलिड एसिड, मिनरल्स की भी काफी लंबी लाइन है जो कि पत्ता गोभी के अंदर होती है, इसमें क्लोरीन और सल्फर, आयरन, पोटेशियम, फॉस्फोरस, जिंक और मैग्नीशियम इत्यादि मिनरल्स पाए जाते हैं.

प्रेगनेंसी के दौरान कितनी पत्ता गोभी खा सकते हैं - Pregnancy me Kitna Patta Gobhi Khana hai

पत्ता गोभी की एक्चुअल मात्रा आपके लिए कितनी होगी यह आपके शारीरिक संगठन, आपकी प्रेगनेंसी के नेचर और आपकी फूड हैबिट पर काफी हद तक निर्भर करती है. लेकिन फिर भी आप एक कप पत्ता गोभी अर्थात एक कप अच्छे से पकी हुई पत्ता गोभी प्रेगनेंसी के दौरान 1 दिन में खा सकती हैं.

प्रेगनेंसी में पत्ता गोभी कब से खाएं - Pregnancy me Patta Gobhi Kab Khana hai

प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी के बारे में कुछ भी स्पेसिफिक बात नजर नहीं आई है. कोई Research नहीं की गई है. जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि पत्ता गोभी प्रेगनेंसी में कब खानी चाहिए, कब नहीं खानी चाहिए. आप कभी भी अपनी सहूलियत के हिसाब से पत्ता गोभी प्रेगनेंसी के दौरान खा सकती हैं. बस एक छोटी सी बात का ध्यान रखें आप ताजी हरी पत्ता गोभी ही खाएं. यहां हमारा कहने का मतलब यह है कि कोल्ड स्टोरेज की पत्ता गोभी खाने से बचें अर्थात विंटर सीजन में ही पत्ता गोभी का सेवन करें और आप प्रेगनेंसी के दौरान कभी भी इसका सेवन कर सकती हैं.

पत्ता गोभी को कैसे अपने भोजन में शामिल करें - Patta Gobhi ko Kaise Bhojan me Shamil kare

पत्ता गोभी को कई प्रकार से अपने भोजन में शामिल किया जा सकता है मुख्यतः उत्तर भारत के अंदर पत्ता गोभी को सब्जी के रूप में प्रयोग किया जाता है .

आलू के साथ पत्ता गोभी की सब्जी बनाई जाती है और पत्ता गोभी को मिक्स वेज में भी प्रयोग किया जाता है.
आप पत्ता गोभी को सलाद के रूप में भी अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं.

पत्ता गोभी का जूस भी बनाकर पिया जा सकता है.

फास्ट फूड में ग्रीन वेस्ट के रूप में पत्ता गोभी का प्रयोग भोजन में किया जाता है बस ध्यान रखें यह सब आप अपने घर पर ही तैयार करें.

हर क्षेत्र में अपने भोजन का अलग प्रकार का पैटर्न होता है उसके अनुसार भी महिला पत्ता गोभी अपने भोजन में शामिल कर सकती है.

पत्ता गोभी के फायदे - Pregnancy me Patta Gobhi ke Fayade

मुझे के दौरान पत्ता गोभी खाने के कई सारे फायदे नजर आते हैं

- पत्ता गोभी के अंदर फोलिक एसिड पाया जाता है जो कि नई ब्लड सेल्स को बनाने के लिए काफी महत्वपूर्ण तत्व होता है.
- अक्सर प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में सूजन की समस्या नजर आती है अगर महिला पत्ता गोभी का सेवन करती है तो इस प्रकार की समस्या में काफी कमी देखने में आती है.
- पत्ता गोभी का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान करने से मूत्र संबंधी समस्याओं में भी राहत नजर आती है.
- जो महिलाएं अधिक वजन रखती हैं या प्रेगनेंसी के दौरान उनका वजन कुछ ज्यादा ही हो जाता है तो उन्हें पत्ता गोभी का सेवन करना फायदेमंद होता है क्योंकि पत्ता गोभी में बहुत कम कैलोरीज होती है और उनका वेट नियंत्रित होने लगता है.
- पत्ता गोभी के अंदर काफी छारीय तत्व पाए जाते हैं. यह सारे तत्व ब्लड को प्यूरिफाई करने का कार्य करते हैं. प्रेगनेंसी के दौरान पत्ता गोभी का प्रयोग करने से ब्लड शुद्ध होने लगता है. और रक्त संबंधी सभी प्रकार के रोगों में कमी आती है.
- पत्ता गोभी में मौजूद फाइबर कब्ज संबंधी समस्याओं को दूर करने में काफी फायदेमंद होता है.
- पत्ता गोभी में पाए जाने वाले मैग्नीशियम आयरन और पोटेशियम जैसे तत्व रक्त संबंधी दूसरी परेशानियों को भी दूर करने में सहायता करते हैं यह सब रक्तचाप को भी नियंत्रित करने में मदद करते हैं.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में अंजीर खाने के फायदे और नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : क्या प्रेगनेंसी में सेब खाना चाहिए
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में कौन सी मछली खाएं, कौन सी नहीं खाएं
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में केला खाने को लेकर जरूरी जानकारी
इन्हें भी पढ़ें : कीवी खाने के फायदे और नुकसान

पत्ता गोभी के नुकसान - Pregnancy me Patta Gobhi ke Nuksan 

पत्ता गोभी के कोई खास नुकसान तो सामने नजर नहीं आते हैं अगर उसे सीमित मात्रा में ही खाया जाए अगर आप गोभी को सही ढंग से धोकर और पकाकर नहीं खाते हैं तो संक्रमण का डर रहता है .
दूसरी बात अगर आपको पत्ता गोभी से किसी भी प्रकार की एलर्जी है तो आ पत्तागोभी ना खाएं यह प्रेग्नेंसी के समय नुकसानदायक हो सकता है.

तीसरी बात अगर आपका वजन प्रेगनेंसी के दौरान कम चल रहा है तो पत्ता गोभी खाने से क्योंकि पत्ता गोभी में काफी कम कैलोरी होती है तो यह पेट को कम करने के काम में भी आती है.

महिला को गैस एसिडिटी जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। और गैस होने के कारण खट्टी डकार व् उल्टी आदि की परेशानी हो सकती है.

No comments

Powered by Blogger.