प्रेगनेंसी में जीरा पानी के 5 फायदे

0
70

प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सी चीजें बहुत ही सोच समझकर खानी पीनी चाहिए. आज हम आपके सामने हमारी ही रसोई में पाया जाने वाला एक मसाला जिसे हम जीरा कहते हैं. उसके द्वारा तैयार जीरा पानी के 5 बड़े फायदे प्रेगनेंसी के दौरान क्या होते हैं.  इस पर आपको बताने वाले हैं.
जीरा पानी कैसे तैयार करें इस पर भी बात करेंगे .

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि हमारे खाने के स्वाद को, उसके जायके को बढ़ाने के लिए जीरे का प्रयोग पूरे भारतवर्ष में हर रोज किया जाता है,  इसके बिना हमारी हमारे प्रत्येक भोजन का स्वाद बेअसर है.

हम कुछ ऐसा कह सकते हैं, कि जीरे के बिना हर भोज्य पदार्थ को अधूरा सा माना जाता है.

प्रेगनेंसी के दौरान भी जीरा पानी के काफी फायदे माने जाते हैं इनमें से पांच बड़े फायदों की चर्चा हम कर रहे हैं.

5 big benefits of cumin water during pregnancy |  प्रेगनेंसी में जीरा पानी के 5 बड़े फायदे
 

प्रेगनेंसी लक्षणों में कमी

प्रारंभ के 3 महीने में किसी भी गर्भवती स्त्री को काफी ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता है ऐसे में मॉर्निंग सिकनेस भूख ना लगना कब्ज की समस्या और बार बार उल्टी होने जैसा एहसास होना इन सब में जीरा पानी काफी लाभदायक माना जाता है.

अगर महिला को प्रेगनेंसी के दौरान गैस और कब्ज की समस्या नजर आती है, तो जीरा पानी पीने से इन समस्याओं में काफी राहत नजर आती है क्योंकि यह भोजन को पचाने में काफी मदद करता है.

अगर महिला को उल्टी की समस्या या बार-बार उल्टी होने जैसा एहसास हो रहा है, तो किसी भी जिले के बारीक चूर्ण को एक गिलास पानी में मिलाकर उसमें सेंधा नमक और नींबू मिलाकर पीने से काफी राहत मिलती है.

इसके लिए आप छोटा आधा चम्मच पिसा जीरा, आधा नींबू और स्वादानुसार नमक मिलाकर पी ले.

इन्हें भी पढ़ें : गोंद या गोंद कतीरा के लड्डू

इन्हें भी पढ़ें : गर्भवती महिला अगर ड्राइविंग करें

इन्हें भी पढ़ें : 4 सफेद जहर जो आप रोज खाते हैं

इन्हें भी पढ़ें : पेट में गैस का मुख्य कारण

जन्म दोष होने का खतरा कम होता है

अगर गर्भवती माता रोजाना जीरा पानी अपने भोजन में शामिल करती है तो
इससे बच्चे को जन्म दोष होने का खतरा कम होता है.

डिलीवरी भी आसानी से हो जाती है .

आयरन और कैल्शियम से भरपूर जीरा पानी माताओं को उनके दूध को बढ़ाने में मदद करता है .

इससे जेस्टेशनल डायबिटीज के खतरे को भी कम किया जा सकता है.

संक्रमण को रोकने में काफी

जीरा पानी काफी पौष्टिक होता है इसके अंदर विटामिन ए विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं. इसका सेवन करने से शरीर से सभी प्रकार के विषैले तत्व धीरे-धीरे बाहर आने लगते हैं, और ऐसा होने पर शरीर की प्रतिरोधक क्षमता काफी बढ़ जाती है. तो कह सकते हैं कि यह किसी भी प्रकार के संक्रमण को रोकने में काफी मदद करता है.

Pregnancy Special Trail Mix

Pregnancy Special Trail Mix

Dry Fruits Moms Superfood Trail Mix

Dry Fruits Moms Superfood Trail Mix

Protinex Mama (Chocolate)

Protinex Mama (Chocolate)

एनीमिया का खतरा समाप्त हो जाता है

जीरा पानी आयरन का बहुत अच्छा स्रोत माना जाता है किसी भी गर्भवती स्त्री को आयरन की पूर्ति के लिए इसका प्रयोग करना चाहिए इससे एनीमिया का खतरा , एनीमिया अर्थात खून की कमी का खतरा समाप्त हो जाता है.

असल में आयरन, शरीर के अंदर ब्लड सेल हिमोग्लोबिन को बनाने में काफी मदद करता है. इसलिए एनीमिया का खतरा समाप्त हो जाता है.  इसके लिए महिला को सुबह रोज एक गिलास जीरा पानी का सेवन करना चाहिए.

हाई बीपी को कंट्रोल करें

प्रेगनेंसी के दौरान हार्मोनल उत्तल पुथल और अन्य शारीरिक समस्याओं के कारण महिला को मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ जाता है जिसकी वजह से महिला का ब्लड प्रेशर अनियंत्रित हो जाता है.

जीरा पानी के अंदर पोटेशियम की उचित मात्रा पाई जाती है जिसकी वजह से यह हाई बीपी की समस्या में अर्थात हाई बीपी को कंट्रोल करने में काफी मदद करता है.

जीरा पानी में विद्यमान पोटेशियम जो होता है वह कोशिकाओं के उत्पादन और ब्लड प्रेशर के साथ-साथ हृदय गति को भी संयमित करने में मदद करता है.

अब आप समझ गए होंगे कि जीरा पानी गर्भवती स्त्री के लिए कितना फायदेमंद होता है आप अपने डॉक्टर से सलाह करके जीरा पानी का प्रयोग अपनी प्रेगनेंसी के दौरान कर सकती हैं. अगर किसी महिला को जीरे से एलर्जी है तो वह जीरे का प्रयोग ना करें.

इन्हें भी पढ़ें : सफेद जहर : मैदा और मिलावटी दूध

इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में कुछ भोजन बच्चे के रंग को साफ करते हैं

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में चावल खाने के फायदे और नुकसान

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में चुकंदर खाने के 11 फायदे

जीरा पानी कैसे तैयार करें

जीरा पानी तैयार करना काफी आसान होता है इसके लिए आपको तीन चम्मच जीरा लेना है उसको लगभग डेढ़ लीटर पानी में मिला लें और 1.5 लीटर पानी को 5 मिनट तक उबालें. उसके बाद इस मिश्रण को छानकर वेस्टिज बाहर निकाल दें और पानी को ठंडा होने दें  इसे किसी साफ बोतल में भर लें और पूरे दिन भर में आपको यह पीना है.

हर खाद्य पदार्थ हर व्यक्ति को सूट नहीं करता है इसलिए आप अपने डॉक्टर से भी इस संबंध में एक बार जरूर पूछें . वैसे जीरे से किसी भी प्रकार की समस्या किसी भी गर्भवती स्त्री को ना के बराबर ही होती है लेकिन फिर भी डॉक्टर से सलाह लेने में कोई बुराई नहीं होती है

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें