Header Ads

कोरोना वायरस की होम्योपैथी मेडिसन - Homeopathy medicine of corona virus

कोई भी गर्भवती स्त्री कोरोना वायरस के खतरे से अपने आपको होम्योपैथिक मेडिसन द्वारा किस प्रकार से दूर रख सकती है. दोस्तों यह कोई सर्टिफाइड मेडिसन नहीं है. क्योंकि कोरोना इतना नया है कि इंसानों पर रिसर्च करने के लिए काफी समय की आवश्यकता होती है. लेकिन यह मेडिसन दूसरे प्रकार के कोरोना टाइप वायरस पर अपना इफेक्ट दिखा चुकी है. इसलिए इसे कोरोना का इलाज माना जा रहा है.

दोस्तों इस मेडिसन को लेकर चर्चा करें उससे पहले हम कोरोनावायरस पर थोड़ी सी चर्चा कर लेते हैं आपको भी मजा जरूर आएगा और एक हकीकत से आपको रूबरू होंगे.

Homeopathy medicine of corona virus


यह कोरोना आज के समय में तीसरे वर्ल्ड वार की तरह नजर आ रहा है जिससे पूरी दुनिया सेहमी हुई है. यहां पर एक बात बहुत ही अलग है जो हम आपसे शेयर करना चाह रहे हैं,

आज तक क्या होता था कि जब भी कोई संकट आता था तो गरीब आदमी सबसे ज्यादा पिस्ता था, लेकिन कोरोना के संकट में वह आदमी सबसे ज्यादा पीस रहा है जो सबसे ज्यादा अमीर है पैसे वाला है यह बात पहली बार नजर आ रही है.
हालांकि गरीब आदमी को उतना संकट आज भी है जितना संकट और आपदाओं में होता था, लेकिन इस बार अमीर आदमी भी उसके बराबर पिस रहा है बल्कि थोड़ा ज्यादा पिस रहा है.

इन्हें भी पढ़ें : क्या प्रेगनेंसी में कोरोना वायरस ज्यादा खतरनाक है – Corona during Pregnancy

इसी कारण भारत सरकार भी बहुत ज्यादा एक्टिव मोड में नजर आ रही है वरना ऐसी आपदाएं तो भारत में आती रहती हैं पिछले साल चमकी बुखार चला था किसी के कान पर जूं तक नहीं रेंगी थी और बहुत से गरीब लोग इसका शिकार बने लेकिन इस बार अमीर आदमी शिकार बन रहा है तो सरकार सिर पर पैर रख कर काम कर रही है.
क्योंकि सबसे ज्यादा खतरा तो यहां सरकार के मंत्रियों को ही है. सरकार के आदमियों को ही है, सरकार के अधिकारियों को है, इसलिए सब सर पर पैर रखकर काम कर रहे हैं. अच्छी बात है. टॉपिक पर वापस आते हैं.

कोरोना वायरस की होम्योपैथी मेडिसन

दोस्तों किस प्रकार से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है इसको लेकर आप सभी जानते होंगे. इसमें बचाव ही इलाज है, और किस प्रकार से बचाव हो सकता है इसका प्रचार जोर-शोर से पिछले कुछ महीनों से लगातार चल रहा है और आप भी जानते होंगे.

इन्हें भी पढ़ें : करोना वायरस और हमारी सोच - करोना कैसे हो कंट्रोल - Corona Virus and Indians

लगातार व्हाट्सएप पर एक मैसेज भी चल रहा है कि होम्योपैथी में इसका एक इलाज है असल में यह इलाज नहीं है. एक मेडिसन है जिसे आर्सेनिक एल्बम के नाम से जाना जाता है. अगर इसको पहले ले लिया जाए तो फिर किसी भी प्रकार का संक्रमण जल्दी से शरीर पर अटैक नहीं करता है. अब करो ना वायरस को लेकर इसे टेस्ट तो नहीं किया गया है, लेकिन काफी दूसरे प्रकार के वायरस पर इसका प्रयोग किया गया है तो माना जा रहा है कि यह आपकी सहायता कर सकती है, तो आप इस मेडिसन को किसी भी मेडिकल स्टोर से जो कि होम्योपैथी मेडिकल स्टोर है उससे प्राप्त कर सकते हैं.



जहां हम इतने सारे उपचार करोना को लेकर कर रहे हैं. वहां पर इसका प्रयोग करने में भी कोई बुराई नहीं है. गर्भवती महिलाएं डॉक्टर से पूछ कर इसका प्रयोग कर सकते हैं. बस इस मेडिसन की खास बात यही है कि आपको कोरोना नहीं होना चाहिए उसको होने से पहले इसे लेना है. माना जा रहा है कोरोना नहीं होगा. अगर कोरोना किसी कारणवश हो चुका है, तो फिर यह असरदार नहीं नहीं है.

यह मेडिसन अलग-अलग पावर में आती है अर्थात अलग-अलग क्षमताओं में यह दवाई मार्केट में अवेलेबल है, यह 30 की क्षमता में है, 200 की क्षमता में है और इससे भी अधिक क्षमता में यह प्राप्त हो सकती है और 30 से कम क्षमता में भी है.

होम्योपैथी में कोई भी मेडिसन अगर अलग-अलग पावर की होती है तो उसे लेने का तरीका भी अलग अलग होता है जैसे कि कुछ दवाइयां कम पावर की है तो रोज ली जा सकती हैं अधिक पावर की दवाइयां हफ्ते भर के बाद और कुछ अधिक पावर की मेडिसन 1 महीने के बाद भी ली जाती है.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए - Pregnancy care Tips Part #17
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए - Pregnancy Tips Part #18

इस तरीके को आप किसी भी होम्योपैथी डॉक्टर से जो कि आपके आसपास बड़ी आसानी से मिल जाएंगे, उनसे पूछ कर ग्रहण कर सकते हैं.

 यह गर्भवती स्त्री के लिए आवश्यक है साथ ही साथ हर एक व्यक्ति के लिए भी आवश्यक है. होम्योपैथी मेडिसिन लेने के कुछ नियम भी होते हैं आधा घंटे आगे और पीछे कुछ नहीं खाना होता है. इस बारे में भी आप होम्योपैथी डॉक्टर से पता करें और सावधानी के साथ आप इसका प्रयोग कर सकते हैं.

इस संबंध में आप और अधिक जानकारी अपने आसपास किसी होम्योपैथिक डॉक्टर से ले सकते हैं.

No comments

Powered by Blogger.