3 फलों की औषधि से पुत्र प्राप्ति की दवा – Putra Prepti ka upay

0
2641

अगर कोई दंपत्ति संतान प्राप्ति की इच्छा रखता है, और वह यह जानना चाहता है, कि पुत्र प्राप्ति के लिए हमें क्या खाना चाहिए. उसके लिए एक आयुर्वेदिक या देसी दवा हम लेकर आए हैं.हम आपके सामने पुत्र प्राप्ति की दवा एक आयुर्वेदिक योग लेकर आए हैं. यह योग 3 फलों से मिलकर बना हुआ है. जिसका उपयोग करने से पुत्र प्राप्ति संभव हो जाती है.

जिन महिलाओं को पुत्रियां ही होती हैं, और वह एक पुत्र की चाहत रखती है. उन्हें इस नुस्खे को एक बार जरूर अपनाना चाहिए.बहुत ही आसान है.
हम आपको  उन तीनों फलों की पहचान बताएंगे.
उनसे कैसे नुस्खा तैयार किया जाता है. इस संबंध में भी चर्चा करेंगे.
उसका प्रयोग कैसे और कब करना चाहिए.

इस पर भी चर्चा करेंगे..

teen phal, putra prapti

  Click For 100+ Gifts For Pregnant Women >>


You May Also Like : पुत्र प्राप्ति का प्राचीन उपाय – मोर पंख
You May Also Like : प्रेग्नेंट हो जाने के बाद नारियल द्वारा पुत्र प्राप्ति का तरीका

दोस्तों यह तीनो के तीनो फल प्राचीन समय से भारत की धरती पर पैदा होते आ रहे हैं. यह फल ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी आसानी से मिल जाते हैं.

यह बड़े यूनिक फल है. मुख्य रूप से यह जड़ी बूटियों के रूप में ही प्रयोग में आते हैं.

पहला फल :  गूलर

गूलर प्राचीन समय से ही भारत में पाया जाता है.
इस पर फूल नहीं आते. इसकी शाखाओं में से फल उत्पन्न होते हैं.फल गोल-गोल अंजीर की तरह होते हैं. इसमें से सफेद-सफेद दूध निकलता है.
इसके और भी बहुत सारे नाम भारत में प्रचलित है, जो कि आपकी स्क्रीन पर डिस्प्ले हो रहे हैं.

संस्कृत – काकोदुम्बरी,
हिंदी – कठूमर,
बं- काकडुमुर, कालाउम्बर तथा बोखाडा,
गुजराती- टेडौम्बरो,
अरबी – तनवरि,
फारसी – अंजीरेदस्ती,
अंग्रेजी – किगूटी

मल्टीविटामिन(s)

4.3

शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है उसकी पूर्ति के लिए आप मल्टीविटामिंस का प्रयोग कर सकते हैं. यह महिलाओं की ऊर्जा फ्लैक्सिबिलिटी और मजबूती को वापस लाएगा.

  • Your brand choice
  • Your product in your budget
  • Customer reviews
  • Ayurvedic products
  • Must Know About Multivitamins
  • Refund policy on health products is less
Check Current Price

अश्वगंधा कैप्सूल

  • Ready to Eat
  • Branded / in Budget
  • User Review

अश्वगंधा टेबलेट

  • Ready to Eat
  • Branded / in Budget
  • User Review

प्राचीन समय से ही गूलर का भारतीय सभ्यता में काफी महत्व है. इसकी लकड़ियों का प्रयोग हवन में भी किया जाता है. इसका फल, लकड़ी और छाल औषधि के रूप में भी काम आते हैं.

दूसरा फल : पाकर

पाकर का फल : पाकर का फल भी गूलर के फल की तरह तने पर ही आता है.  यह देखने में भी गुलर की तरह ही लगता है.  पश्चिमी बंगाल में यह बहुतायत में पाए जाते हैं.
इस फल को इंग्लिश में green Burmese Grapes कहते हैं.

You May Also Like : प्रेगनेंसी होने के बाद पुत्र प्राप्ति की आयुर्वेदिक औषधि
You May Also Like : पुत्र प्राप्ति के लिए फेमस आयुर्वेदिक औषधि – बांझपन भी दूर होता है,

तीसरा फल : पीपल

पीपल का फल : भारत के प्रत्येक हिस्से में पाया जाता है. खासकर यह देवालय में तो होते ही हैं.

पुत्र प्राप्ति का उपाय (putra prapti ka upay) या आयुर्वेदिक उपाय या आयुर्वेदिक नुस्खा इस प्रकार से है …

पुत्र प्राप्ति की दवा कैसे तैयार करें

अगर यह वृक्ष आपके आसपास है, तो आप इन के फल को प्राप्त कर ले. अगर आप इन के फल को प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं. यह आपको किसी पंसारी के यहां या जड़ी-बूटी विक्रेता के यहां बड़ी आसानी से मिल सकते हैं.
अगर आपके पास ताजे फल है तो आप इन्हें 7 – 8 दिन सुखा लें.सूख जाने के बाद इन्हें बारिक कूट लें, और फिर तीनों को बराबर बराबर मात्रा में आपस में मिला ले.

आप की औषधि तैयार है. कई बार इसे लोग कहते हैं कि प्रेगनेंसी हो जाने के बाद जब पता चले उसके बाद 3 महीने खाना चाहिए.लेकिन हमारा मानना है, कि ऑन द स्पॉट यह सब ठीक नहीं है. पुत्र प्राप्ति की कोशिश कर रहे हैं. इच्छा रखते हैं, तो आपको यह प्रेगनेंसी से पहले तीन महा लगातार खानी चाहिए. उसके बाद कोशिश करनी चाहिए.

यह आयुर्वेदिक औषधि सिर्फ महिलाओं के लिए ही है पुरुष इसका प्रयोग ना करें.
कुछ बातों का और भी ध्यान रखना है.

जब महिला इस औषधि का प्रयोग करें, तो उसे कुछ दिन पहले से उसे तीखा खट्टा चटपटा मसालेदार खाना छोड़ देना चाहिए.

You May Also Like : मनचाही संतान प्राप्ति का प्राचीन तरीका – part #3
You May Also Like : पुत्र प्राप्ति का ये वैज्ञानिक तरीका एक बार जरूर अपनाये – Putra Prapti Part #2
 यह औषधि सिर्फ शाम के बाद रात में ही लेनी है. वह भी दूध के साथ.

ladka paida kerna, beta kaise paida ho

यह औषधि रात का खाना खाने के कम से कम 1 घंटे बाद और रात को सोने से कम से कम 1 घंटे पहले तो लेनी ही है.

इसके लिए आपको थोड़ी दिनचर्या में परिवर्तन करना पड़ेगा रात का खाना शाम होते ही खा ले.

You May Also Like : इसे खाने से बांझ को भी पुत्र पैदा होता है – Putra Prapti Part #1

औषधि के साथ जो दूध आप ले रहे हैं. वह गाय का दूध होना चाहिए. अगर आप इसके अलावा थोड़ी और सावधानी रख सके, तो यह दूध बछड़े की गाय का होना चाहिए. जिसका बछड़ा जीवित हो.

पुत्र प्राप्ति के लिए पुरुष को क्या खाना चाहिए

पुत्र प्राप्ति के लिए पुरुष को भी मेहनत करने की आवश्यकता होती है. इसके लिए पुरुषों को दूध और दूध से बने फूड आइटम्स या भोज्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए. इन्हें अधिक से अधिक मात्रा में अपने भोजन में शामिल करें.

साथ ही साथ  योगा पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है, ताकि उनका शरीर स्वस्थ बने. पुरुषों को भी चाहिए कि वह यह कोशिश करें कि वह जो भी भोजन ग्रहण करें वह उनके शरीर में बच्चे अच्छे से पच जाए.

पुत्र प्राप्ति के लिए दवा कैसे खाएं

तीन महा इस औषधि को खाने के बाद आप संतान प्राप्ति के लिए कोशिश करें ईश्वर ने चाहा तो आपको पुत्र की प्राप्ति ही होगी.

Q. पुत्र प्राप्ति के लिए पुरुष को क्या खाना चाहिए?

ANS : कई बार प्रश्न आता है पुत्र प्राप्ति के लिए हमें क्या खाना चाहिए. पुत्र प्राप्ति के लिए ही नहीं अपितु संतान प्राप्ति के लिए भी दोष को अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखना चाहिए खासकर पुत्र प्राप्ति हेतु पुरुष को अपने भोजन में दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थों का सेवन प्रचुर मात्रा में करना चाहिए.

सामाजिक मान्यता के अनुसार इसके साथ-साथ महिला को दूध और दूध से बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए.  इससे पुत्र प्राप्ति की संभावना बलवती होती है.

हालांकि इसका विज्ञान के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण नहीं है. आपका प्रश्न पुत्र प्राप्ति के लिए पुरुष को क्या खाना चाहिए, ऐसा कुछ निश्चित नहीं है.

अपनी डाइट में पौष्टिकता को बनाए रखना चाहिए, यह अत्यधिक आवश्यक है.  साथ ही साथ फास्ट फूड, प्रोसैस्ड फूड और अनियमित लाइफस्टाइल से दूर रहना चाहिए.  नशा करने वाली वस्तुओं को भी हाथ नहीं लगाना चाहिए.

 
 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें