Header Ads

स्वस्थ गर्भावस्था के 6 उपाय | Part 2

हम आपसे चर्चा करने वाले हैं , प्रेगनेंसी को किस प्रकार से स्वस्थ बनाया जाए. हमें कौन-कौन से उपाय करने चाहिए जिससे कि हमारी गर्भावस्था, हमारा गर्भ शिशु दोनों ही स्वस्थ रहें. आज हम आपको 5 उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप एक स्वस्थ प्रेगनेंसी को आगे बढ़ा सकती हैं.

किसी भी गर्भवती स्त्री को अपना खयाल शारीरिक तौर पर और मानसिक तौर पर दोनों तरह से रखना बहुत ज्यादा जरूरी होता है. इसके लिए हम कुछ आपको दिशा निर्देशन दे देने जा रहे हैं हमें उम्मीद है कि आप उनका पालन करेंगे तो आपको एक स्वस्थ शिशु प्राप्त होगा.

स्वस्थ गर्भावस्था के 6 उपाय | Part 1 | Part 2

प्रसव पूर्व सप्लीमेंट - Pregnancy me Jaroori Supplement

जब कोई भी गर्भवती स्त्री डॉक्टर से मिलती है, तो वह उसके कुछ चेकअप करके उसके शरीर में आवश्यक तत्व की जांच करते हैं, और उसके बाद में उसको कुछ सप्लीमेंट जिसे हम अनुपूरक भी कहते हैं, खाने के लिए सजेस्ट करते हैं. महिलाओं को उन अनुपूरक को डॉक्टर के बताए अनुसार जरूर लेना चाहिए. इससे उनके शरीर में बच्चे के लिए आवश्यक पौष्टिकता बनी रहती है, और गर्भावस्था भी स्वस्थ रहती है. क्योंकि आज के समय में हमारा भोजन इस कदर खराब हो चुका है कि हमें अपने भोजन से जिसे हम अच्छा भोजन समझते हैं, उससे भी पूर्ण रूप से पोस्टिक तत्व प्राप्त नहीं होते हैं. इसी कारण से डॉक्टर हमें अनुपूरक लेने की सलाह देते हैं. इसमें मुख्यतः आयरन कैल्शियम फॉलिक एसिड विटामिन D3 और दूसरे आवश्यक पोषक तत्व हो सकते हैं.

कैफीन का सेवन कम करें - Caffeine Avoid Kare

कैफीन कई प्रकार के भोज पदार्थों में पाई जाती है. जिनका सेवन हम रोज करते हैं, जैसे कि चाय, कॉफी कोला, चॉकलेट और दूसरे एनर्जी पेय पदार्थ. गर्भावस्था में 200 मिलीग्राम से ज्यादा कैफीन लेना गर्भ शिशु को नुकसान पहुंचाएगा और दो बड़े कप कॉफी में इतनी कठिन होती है तो इसलिए आपको चाय, कॉफी, cold drinks पीना प्रेगनेंसी में छोड़ना होगा क्योंकि इतनी कैफीन तो दूसरे खाद्य पदार्थों से भी मिल जाती है जितनी आवश्यक होती है.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में सांस फूलने की समस्या - Breathlessness in pregnancy
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में एनीमिया के लक्षण - आयरन की कमी
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में फोलिक एसिड कब ले कितना ले और क्यों ले
इन्हें भी पढ़ें : फोलिक एसिड की कमी से नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : क्या प्रेगनेंसी में दूध पीना चाहिए

शराब का सेवन - Pregnancy me Shrab ka Seven Nahi kare

डॉक्टर प्रेग्नेंसी के समय शराब के सेवन को बिल्कुल मना करते हैं खासकर दूसरी और तीसरी तिमाही में तो शराब बिल्कुल भी नहीं पीनी चाहिए इससे शिशु के मस्तिष्क पर विपरीत प्रभाव पड़ता है.

धूम्रपान नहीं करें - Pregnancy me Smoking se Bache

आपकी तरह ही धूम्रपान भी गर्भस्थ शिशु को काफी नुकसान पहुंचाता है इसके कारण से --
बच्चा समय से पहले पैदा हो सकता है.
बच्चे का वजन कम हो सकता है.
मृत शिशु जन्म की संभावना बढ़ती है.
और भी दूसरी कई प्रकार की बीमारियां होती हैं.
साथ ही साथ गर्भवती महिला को भी काफी नुकसान पहुंचाता है. इसलिए धूम्रपान प्रेग्नेंसी के समय नहीं करना चाहिए.

आराम करना चाहिए - Pregnancy Aaram Jaroori

महिला को जितना हो सके गर्भावस्था के दौरान आराम करना चाहिए आराम करते वक्त और सोते वक्त बच्चे का विकास बहुत तेज गति से होता है और साथ ही साथ अतिरिक्त ऊर्जा जो खर्च हो रही है वह भी बचती है.

इन्हें भी पढ़ें : दूध पीने के फायदे और दूध के प्रकार
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में 1 दिन में कितना कीवी खा सकते है
इन्हें भी पढ़ें : कीवी खाने के फायदे और नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : क्या अनार का जूस या अनार प्रेगनेंसी में लेना सुरक्षित है

शारीरिक सफाई का ध्यान रखें - Pregnancy me Physical Cleanliness

जब कभी भी आप बाहर से आते हैं जैसे कि --
आप अपनी जॉब से आ रहे हैं
आप अपने जानवर के साथ खेल कर आ रहे हैं.
या आप अपने पशुओं की सेवा करके आ रहे हैं.
या आप अपने खेतों में काम करके आ रहे हैं.
या कीटनाशक खेतों में लगाकर आ रहे हैं.
तो आपको अपने हाथ पैर और शरीर को अच्छे से साफ करना चाहिए.

No comments

Powered by Blogger.