Header Ads


Pregnancy Care items

प्रेगनेंसी के बाद शरीर दर्द को दूर करने के 6 तरीके | 6 Tips to avoid backache after Delivery

 प्रेगनेंसी के बाद अक्सर महिलाओं के शरीर में दर्द की समस्या रहती है. यह दर्द की समस्या मुख्यता पीठ में अधिक रहती है. इसके काफी सारे कारण हैं. जिस पर हमने चर्चा पहले की है. आज हम आपको कुछ टिप्स देने जा रहे हैं, जिन्हें आजमाकर आप डिलीवरी के बाद अपने कमर दर्द को काफी हद तक कम कर पाएंगे.

 

6 Tips to avoid backache after Delivery
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए - Pregnancy Tips Part #12
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए - Pregnancy Tips Part #13
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के समय नींबू पानी पीने के फायदे और नुकसान
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में कैल्शियम की आवश्यकता
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में फोलिक एसिड कब ले कितना ले और क्यों ले

अगर प्रसव के बाद महिला को अपनी पीठ में दर्द का अनुभव हो रहा है तो उसे कुछ विशेष बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता है ताकि वह इस दर्द को जल्दी से जल्दी ठीक कर सके और कम से कम दर्द हो.

भारी वजन ना उठाएं

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को भारी चीज उठाने की मनाही होती है. लगभग 40 से 50 दिन तक डिलीवरी के बाद भी महिलाओं को भारी सामान उठाने से बचना चाहिए. प्रसव के बाद भारी वजन उठाने से कमर दर्द और पीठ दर्द की समस्या हो सकती है. शिशु को भी गोद लेते समय बाहों को ज्यादा फैलाने से बचें और शिशु को अपने गोद में लेते वक्त कमर पर जोर बिल्कुल भी ना डालें.

शिशु को पकड़ने का तरीका

शिशु को बाहर ले जाते समय उसे आगे छाती से चिपका कर रखें. पीठ पर बच्चे को रखने से कमर दर्द और बढ़ सकता है.

वजन को घटाएं

गर्भावस्था के दौरान महिला का वजन काफी ज्यादा बढ़ जाता है और प्रेगनेंसी समाप्त होने के बाद महिलाओं को अपने वजन को घटाने का प्रयास करना चाहिए उन्हें चाहिए कि वह 2 से 3 महीने में अपनी पुरानी वजन पर लौट सकें.

सही तरीके से बैठे

आपके बैठने के तरीके से भी आपको कमर दर्द की समस्या में बढ़ोतरी हो सकती है इसलिए आपको सही तरीके से बैठना है. आपके सामने स्क्रीन पर एक पिक्चर डिस्प्ले हो रही है जिसके अंदर बताया गया है कि आप को किस तरह से बैठना है और किस तरह से बैठने से बचना है.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में परेशानियां
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान बुखार आने पर सावधानियां
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी से बुखार में बच्चे पर प्रभाव
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था में खुजली के घरेलू उपाय
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी में खुजली आने के कारण

लेटने उठने बैठने का तरीका

अगर महिलाओं को कमर दर्द की समस्या हो रही है तो उन्हें बिस्तर पर से झटके के साथ नहीं उठना है और ना ही उन्हें झटके के साथ बैठना या लेटना है उन्हें उठते और बेड थे साथ ही साथ चलते समय इस बात का ध्यान रखना है कि उनके कमर पर किसी भी प्रकार का अतिरिक्त प्रेशर ना आए.

झुकते हुए रखें ध्यान

आपको अपने शिशु व किसी अन्य सामान को उठाते वक्त यह ध्यान रखना होगा कि अपने घुटनों को मोड़कर और कमर को सीधा रखकर ही बच्चे को व अन्य सामान हो उठाएं. उसके बाद उठते समय अपने घुटनों को सीधा करें.
पीठ दर्द को लेकर प्रेग्नेंसी के समय काफी सारे व्यायाम होते हैं जिन्हें करने से कमर दर्द की समस्या में काफी लाभ होता है. उन व्यायाम को आप अपने सर्वाधिक अवस्था के अनुसार अपने डॉक्टर से पूछे या किसी योगाचार्य से इस संबंध में संपर्क करें, उनसे सलाह ले. वह आपको आपकी पीठ दर्द के अनुसार आपको कौन-कौन से व्यायाम करने हैं. उसके संबंध में सबसे सही सलाह देंगे.  
 

उपरोक्त बताए गए अधिकतर उपाय आपके लाइफस्टाइल और दिनचर्या से संबंधित हैं इसके लिए आप किसी एक्सपर्ट की भी सलाह ले सकती हैं

No comments

Powered by Blogger.