प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण | प्रेग्नेंट होने के लक्षण फर्स्ट वीक – 10 लक्षण

0
277
प्रेगनेंसी की इच्छा रखने वाली हर महिला को प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण के विषय में अच्छी जानकारी होना अत्यधिक आवश्यक होता है. प्रेग्नेंट होने के लक्षण फर्स्ट वीक की जानकारी होने से महिला समय से अपनी प्रेगनेंसी को पहचान कर गर्भस्थ शिशु का ध्यान समय से रख पाने में सक्षम रहेगी.
जब कोई महिला पहली बार मां बनने जा रही होती है, तो उसे यह जानने में बड़ी ही परेशानी होती है कि वह प्रेग्नेंट हो गई है कि नहीं हुई है. यह पता करना अपने आप में बड़ा ही मुश्किल होता है.क्योंकि हर महिला को प्रेग्नेंसी के समय अलग अलग प्रकार के लक्षण प्रकट होते हैं.

प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण | प्रेग्नेंट होने के लक्षण फर्स्ट वीक

तो हम पहली बार मां बनने वाली महिलाओं की इस परेशानी को समझते हुए, आज यहां हम प्रेग्नेंट होने के लक्षण पर बात कर रहे हैं. आपको प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण के बारे में बताएंगे.

 प्रेगनेंसी के लक्षण इन फर्स्ट वीक कहलाते हैं. और इनमें से कुछ लक्षण लंबे समय तक नजर आते भी हैं. अगर इनमें से कुछ लक्षण आप के अंदर है, तो आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं.आइए चर्चा करते हैं एक महीने की प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण कौन-कौन से होते हैं.

इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के शुरुआती 11 लक्षण – Part #2
इन्हें भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के दौरान इन 17 बातों का ध्यान रखें – Part #1
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंट होने पर आने वाले लक्षण
इन्हें भी पढ़ें : प्रेग्नेंट होने में कितना समय लगता है
इन्हें भी पढ़ें : ये चीज़े प्रेग्नेंट महिला के घर या कमरे में नहीं होनी चाहिए

प्रेगनेंसी में यह सबसे विचित्र बात होती है, कि महिला को शुरू के 20 से 25 दिन तक इस बात का पता ही नहीं होता है कि वह प्रेग्नेंट हो गई है. जब पहली बार महिला के पीरियड मिस हो जाते हैं, तो उन्हें इस बात का एहसास होता है, कि कहीं वह प्रेगनेंट तो नहीं.

प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण महिला के शरीर में नजर आने लगते हैं. अगर महिला और लक्षणों को ध्यान से अनुभव करें, तो वह इस बात का पता लगा सकती है, कि वह प्रेग्नेंट है कि नहीं.

प्रेग्नेंट होने के लक्षण फर्स्ट वीक

पीरियड का मिस होना

पीरियड का लेट होना या पीरियड मिस हो जाना प्रेग्नेंसी के सबसे सामान्य लक्षणों में से एक है। मगर पीरियड मिस हो जाने का मतलब यह नहीं है कि आप प्रेंग्नेंट हो। यह सिर्फ एक लक्षण है, आप प्रेग्नेंट हो भी सकती हो। यह प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षणों में से 1 लक्षण है। इसे प्रेगनेंसी के लक्षण इन फर्स्ट वीक भी माना जा सकता है।

मूड बदलना

प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में महिला के शरीर में हारमोंस के अंदर काफी उथल-पुथल होती है। जिसकी वजह से महिला के मूड में परिवर्तन आ जाता है।  महिला काफी चिड़चिड़ी हो सकती है। शरीर में हारमोन्स के बढ़ने से मूड उखड़ा रहता है। कभी बहुत अच्छा और कभी बहुत बुरा लगता है। ऐसे में महिला को परिवार का सहारा लेना आवश्यक होता है।

गंध क्षमता में वृद्धि

गर्भावस्था के दौरान सूंघने की क्षमता बढ़ जाती है। सामान्य अवस्था में वस्तुओं से जिस प्रकार की गंध महिलाओं को आती है। प्रेगनेंसी के समय उसमें से कुछ अलग प्रकार की गंध महिलाओं को आने लगती है। अर्थात उनके सूंघने की क्षमता बढ़ जाती है।

ऐसे में किसी भी तेज गंध वाली चीजों, सामान व करकट आदि से दूर रहें। हमेशा अच्छी स्मैल वाले डिओ, परफ्यूम आदि का ही यूज करें, वरना आपको अंदर ही अंदर घुटन होगी।
यह प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण में से 1 लक्षण है।

am i pregnant , how know i am pregnant

मुँह का स्वाद 

अजीब होना पहले हफ्ते में गर्भवती महिला के मुँह का स्वाद बहुत कड़वा और कसैला सा हो जाता है। उसे किसी भी प्रकार के खाने में जायका नहीं लगता, सिर्फ खट्टी चीजों को खाने में ही स्वाद आता है। यह प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण में से 1 लक्षण है।

सपने 

वैज्ञानिकों का मानना है, कि प्रेगनेंसी के शुरुआती चरणों में हार्मोनल बदलाव के कारण नींद में महिलाओं को अजीब अजीब तरह के सपने आने लगते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है, तो आप प्रेग्नेंट हो सकती है, ऐसे में उसके शरीर को और अधिक आराम की आवश्यकता पड़ती है।

इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था के दौरान चाट, गोलगप्पे और स्ट्रीट फूड खाना सुरक्षित है
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में सोडायुक्त पेय और सॉफ्ट ड्रिंक्स पीना सुरक्षित है

सेंसेटिव स्किन

प्रेगनेंसी के शुरुआती चरण में महिला की स्किन थोड़ा संवेदनशील हो जाती है। इसका प्रभाव चेहरे पर नजर आता है। त्वचा रूखी सूखी लगने लगती है ।आंखों के नीचे डार्क सर्किल भी आ सकते हैं। सूरज की किरणें भी चेहरे की त्वचा को नुकसान पहुंचाती हैं।

खाने से अरूचि होना 

अचानक आपको खट्टे का ज्यादा मन होने लगा है। और साधारण खाने से अरूचि होने लगी है। तो समझिए कि आपके पेट में कोई नन्ही जान पल रही है। ऐसी अवस्था में भोजन से अरूचि होना और चटपटे भोजन को खाने का मन स्वाभाविक होता है। यह सब हारमोंस परिवर्तन के साइड इफेक्ट के रूप में देखा जाता है। जो प्रेग्नेंसी के समय परिवर्तित होते हैं।

सिरदर्द 

गर्भावस्था के पहले हफ्ते में सिरदर्द होता है। क्योंकि शरीर में रक्त का प्रभाव बढ़ जाता है। इसलिए इस ऐसा होता है । यह प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण में से 1 लक्षण है।

pregnancy care, tricks and tips

सांस लेने में भारीपन

आपको सांस लेने में उतना ही भारीपन लगता है, जैसे आप अभी – अभी सीढि़यां चढ़कर आई हों। ऐसा इसलिए है क्योंकि आप प्रेग्नेंट है। आपके पेट में पल रहे भ्रूण को ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है, जो आपसे ले लेता है।

इन्हें भी पढ़ें : गर्भ में बेटा या बेटी जानने के 6 तरीके
इन्हें भी पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान पिस्ता का सेवन सुरक्षित है या नहीं
इन्हें भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में पास्ता खाना चाहिए

थकान 

महिला के प्रेग्नेंट हो जाने पर शरीर में एनर्जी की खपत बढ़ जाती है। अधिक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। एक तरह से कह सकते हैं, कि शरीर में उथल-पुथल मची रहती है। ऐसे में महिला को शुरुआती दिनों से ही थकान का बहुत ज्यादा अनुभव होता है। यह थकान अंत तक बनी रह सकती है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें