Header Ads


Pregnancy Care items

Baby teething and problems

 अगर बच्चे के दांत निकल रहे हैं तो माता-पिता को काफी ज्यादा टेंशन हो जाती है, और बच्चों को कई प्रकार की समस्याएं भी उस वक्त आने लगती है. असल में चीजें कैसे हो रही होती है, और हमें जैसे लगती हैं, वह चीजें वैसे नहीं होती हैं. हमें काफी कुछ कंफ्यूजन रहता है, तो हम उसी कंफ्यूजन को दूर करने की कोशिश करेंगे. ताकि आप चीजों को सही तरीके से समझें और बच्चे का स्वास्थ्य भी अच्छा रहे.
आज हम चर्चा करेंगे
बच्चे के दांत कब निकलते हैं
दांत निकलते समय किस प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं बच्चे को आती है, लक्षण क्या होते हैं.
माता पिता किस प्रकार से अपने बच्चे की सहायता कर सकते हैं.
दांत निकलने से संबंधित मिथक पर बात करेंगे.



जब बच्चे के दांत निकलते हैं, तो वह दौर थोड़ा सा बच्चे के स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से ठीक नहीं रहता है, तो माता-पिता काफी चिंतित भी रहते हैं, और स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी नजर आती है.

असल में जब बच्चों के दांत निकलते हैं, तो बच्चों को थोड़ा सा पेन भी मसूड़ों में होता है, खुजलाहट भी होती है.

इस वजह से बच्चा थोड़ा ज्यादा परेशान भी रहता है. बच्चा बता नहीं सकता है, लेकिन थोड़ी सी तकलीफ तो होती है.

Baby teething and problems

बच्चे के दांत कब निकलते हैं

बच्चे के दांत निकलने का कोई एकदम से फिक्स समय नहीं होता है, कि इतनी उम्र में बच्चे के दांत निकल जाएंगे. कई बार ऐसा होता है कि बच्चा अपने दांतो के साथ ही जन्म लेता है, ऐसा कम ही होता है लेकिन ऐसा देखने में आता है.

बच्चे के दांत 3 महीने से लेकर 1 साल के बीच में कभी भी निकलना शुरू हो जाते हैं, चौथे से छठे महीने के बीच में इसकी शुरुआत अधिकतर बच्चों के साथ होती है.

1 वर्ष की उम्र होते होते बच्चे के 2 से 3 दांत निकल आते हैं और बच्चे के दांत ऊपर के या नीचे के कोई से भी दांत पहले आ सकते हैं. अक्सर नीचे के दांत पहले आते हैं.

दांत निकलने पर लक्षण

बच्चों का दांत निकलना थोड़ा सा कष्टकारी होता है. इसलिए कुछ स्वास्थ्य संबंधी लक्षण नजर आएंगे.

  • जब बच्चे के दांत निकलते हैं, तो बच्चे के मसूड़े फूल जाते हैं. और लाल हो जाते हैं. उनमें सूजन आ सकती है. जिसके कारण बच्चे दर्द की समस्या नजर आ सकती है. ऐसा होने पर बच्चा काफी चिड़चिड़ा हो जाता है.

 

  • अक्सर बच्चे के मुंह से लार तो निकलती ही रहती है. लेकिन आप देखेंगे कि जब आपके बच्चे के मुख से थोड़ी सी ज्यादा लार निकलने लगती है, तो आप समझ जाइए कि बच्चे के दांत निकल रहे हैं.

 

  • एक और विशेष लक्षण होता है. जब बच्चे के दांत निकल रहे होते हैं, मसूड़े फुले हुए होते हैं. तो बच्चे के कान में हल्का हल्का दर्द रहने लगता है. इसके लिए बच्चा बार-बार अपने कान खींचता है, और आप देखेंगे कि अक्सर उसका हाथ अपने कान की तरफ जाता है, जो मसूड़े फूलने के कारण कान में हल्का-हल्का दर्द है.

 

  • मसूड़ों में बार-बार खुजलाहट और हल्के हल्के दर्द की समस्या के कारण बच्चा बार-बार अपने मुंह में उंगली डालता है. समझ जाइए आपके बच्चे के दांत निकल रहे हैं.

 

  • सामान्यता यह देखा गया है कि दांत निकलते समय बच्चे के को दस्त की समस्या कभी-कभी नजर आती है. यह अक्सर तभी होता है जब बच्चा ज्यादा लार निगल जाता है. हम समझते हैं कि यह दस्त दांत निकलने की वजह से आ रहे हैं. पर ऐसा नहीं होता. इस पर चर्चा बाद में करेंगे.


  • जब बच्चे के दांत निकलते हैं तो कुछ हल्की शारीरिक समस्याएं बच्चे को नजर आ सकती हैं,  जैसे कि हल्की सर्दी,खांसी ,बुखार यह सब दांत निकलने के दौरान अक्सर हो जाते हैं. बच्चे को दस्त और उल्टी आ भी नजर आती हैं. ऐसी अवस्था में आप बच्चे को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाएं.


बच्चे की मदद कैसे करें

कुछ घरेलू तरीके हैं ,  जिनकी सहायता से आप बच्चे की सहायता कर सकती हैं.

  • आप शुद्ध शहद से बच्चे के मसूड़ों पर अपनी अंगुली से हल्की-हल्की मालिश कीजिए. शहद के अपने औषधीय गुण होते हैं. इसके कारण बच्चे को दांत निकलने के समय कम तकलीफ होती है. आप दिन में दो बार तो जरूर मालिश करें. 

 

  • अगर आपके पास शहद नहीं है, तब भी आप अपने साफ हाथ से बच्चे के मसूड़ों पर अंगुली डालकर मालिश कर सकती हैं.

 

  • इसके लिए मार्केट में टीथर आते हैं. जो स्पेशली इस प्रकार के खिलौने हैं जो बच्चों को दांत निकलने के समय चबाने के उद्देश्य से दिए जाते हैं, ताकि उनके मसूड़ों की खुजलाहट में उन्हें मदद मिल सके. आप बच्चे को वह उपलब्ध करवा सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे उसकी सफाई का विशेष ध्यान रखें.

 

  • बच्चों को आप ऐसी कोई ठंडी वस्तु दे सकते हैं, जिसे वह जब आए लेकिन वह वस्तु इतनी बड़ी होनी चाहिए कि वह उसे निगल नहीं सके, जिससे उसे मसूड़ों में आने वाली खुजलाहट से कुछ राहत प्राप्त हो.

 

  • बच्चे की सेहत पर बारीकी से नजर बनाकर रखें. ध्यान रहे बच्चा गंदे हाथ अपने मुंह के अंदर ना ले जाए. तकलीफ ज्यादा होने पर आप तुरंत डॉक्टर से भी संपर्क करने के लिए तैयार रहें.


दांत निकलने पर मिथक

हमने भी काफी सुना है, और समाज में एक मिथक प्रचलित है कि जब बच्चे के दांत निकलते हैं तो बच्चे को दस्त लग जाते हैं, तो हम आपको बता दें ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, कि दांत निकलने के कारण बच्चे को दस्त की समस्या होती है.

असल में जब बच्चे के दांतो में खुजलाहट होती है, तो वह अपने हाथ मुंह के अंदर ले जाता है, और बच्चे के हाथ अक्सर गंदे रह जाते हैं. जिसके कारण उसके मुंह में बैक्टीरिया चला जाता है. इंफेक्शन हो जाता है.

और इस वजह से बच्चे को दस्त की समस्या होती है. शरीर में गंदगी जाने के कारण दस्त लगते हैं ना कि दांत निकलने की वजह से.

No comments

Powered by Blogger.