बच्चे के शरीर पर बाल क्यों होते हैं | कब तक रहते हैं

नवजात शिशु को लेकर जैसा कि माता बहनों ने देखा ही होगा कि नवजात शिशु के शरीर पर काफी सारे बाल ऐसी जगह पर होते हैं जहां पर बाल नहीं होने चाहिए. चर्चा करने वाले हैं.



प्रसव के बाद गर्भस्थ शिशु  आपके हाथों में होता है.नवजात शिशु के शरीर पर मौजूद छोटे छोटे बालों को लानुगो कहा जाता है. यह एक प्रकार की टिश्यू आप मान सकते हैं, जो कि किसी भी गर्भस्थ शिशु के विकास में काफी अहम भूमिका निभाते हैं. यह बहुत छोटे-छोटे कोमल बाल होते हैं काफी पतले भी होते हैं. और यह शिशु के शरीर पर स्पष्ट दिखाई पड़ते हैं यह बाल शिशु के स्कैल्प, माथे पर, गाल पर , कंधे पर, पीठ पर पाए जाते हैं.

बच्चे के शरीर पर बाल होना कितनी आम बात है बच्चों के शरीर पर बाल होते क्यों हैं नवजात शिशु के शरीर पर बाल कब तक रह सकते हैं नवजात शिशु के शरीर पर बालों से जुड़ी हुई कुछ समस्याएं


बच्चे के शरीर पर बाल होना कितनी आम बात है - Kya Baby ki Body per Baal hona Normal hai

शिशु के शरीर पर बाल होना एक आम बात है , लेकिन यह बाल उन शिशुओं के शरीर पर ज्यादा पाए जाते हैं. जिनका प्रसव समय से पहले हो जाता है. अक्सर यह बाल तो सबसे पहले ही झड़ जाते हैं. और अचानक जन्म हो जाने की वजह से यह बाल रह जाते हैं.

इन्हें भी पढ़ें : बच्चे के लिए जैतून के तेल की मालिश के फायदे
इन्हें भी पढ़ें : नवजात शिशु के शरीर से बाल हटाने के 7 तरीके
इन्हें भी पढ़ें : कौन से मशरूम प्रेगनेंसी में खाने लायक हैं कौन से नहीं खाने चाहिए
इन्हें भी पढ़ें : बच्चों में लार क्यों टपकती है, इसके क्या कारण और उपाय
इन्हें भी पढ़ें : अपने आप, प्रेगनेंसी में सिर दर्द का इलाज नहीं करें

बच्चों के शरीर पर बाल होते क्यों हैं - Baby ki Body Per Baal Kyo Hote hai

गर्भस्थ शिशु पर एक पतली सी सफेद रंग की परत होती है. यह बाल उस परत को त्वचा से जोड़ने का कार्य करते हैं . यह परत बच्चे की स्किन पर इन्हीं बालों की वजह से मजबूती से टिकी रहती है. यह परत त्वचा में नमी बनाए रखती है. बाहरी संक्रमण से बचाने का कार्य करती है, और तापमान को भी नियंत्रित करती है, और भी बहुत सारे कार्य इस परत के होते हैं, तो आप इन बालों की महत्ता को समझ सके सकते हैं.


Books For : प्रेगनेंसी के बाद बच्चे की देखभाल कैसे करें

यह बाल कब तक रहते हैं - Baby ki Body Per Baal kab Tak Rahate hai

डॉक्टर्स के अनुसार लगभग 70% बच्चों के यह बाल जन्म से पहले ही झड़ जाते हैं, और 30% बच्चों में यह बाल जन्म के समय रह जाते हैं. जोकि 3 महीने से लेकर 10 महीने के अंदर यह बाल स्वयं ही अपने आप धीरे-धीरे गायब होने लगते हैं.
जैसे-जैसे शिशु बड़ा होता जाता है, वैसे वैसे इनकी जगह पतले, मजबूत बाल आने लगते हैं. यह बाल शरीर के कुछ विशेष अंगों पर ही आते हैं, जैसे की खोपड़ी पर, सीने पर, गुप्तांगों पर, तथा बगल में भी घने बाल हो सकते हैं .

नवजात शिशु के शरीर पर बालों से जुड़ी हुई कुछ समस्याएं - New Born Baby ke Body Per Baal ki Problems

वैसे तो यह बाल समय के साथ झड़ जाते हैं लेकिन कुछ दुर्लभ रोगों की वजह से यह बाल बड़े बच्चों या वयस्कों के शरीर पर वापस आ सकते हैं.

  • यह बाल एनोरेक्सिया नर्वोसा एक विकार है.  
  • कैंसर की वजह से भी है वह वापस आ सकते हैं
  • सीलिएक  नाम के रोग के कारण भी यह बाल दोबारा से शरीर पर वापस आ सकते हैं.


Post a Comment

Previous Post Next Post

India's Best Deal