Header Ads


Pregnancy Care items

अगर बुद्धिमान बच्चा चाहिए | 14 टिप्स | Pregnancy tips for intelligent child

जहां प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सारे खाद्य वस्तुएं बच्चे के बौद्धिक विकास और समग्र विकास के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होती हैं. वही बहुत सी लाइफस्टाइल से जुड़ी चीजें और खाद्य वस्तुएं प्रेगनेंसी के दौरान खाने से बचना चाहिए, जो बच्चे के बौद्धिक विकास को रोकने में सक्षम होती हैं.

अगर महिला चाहती है, कि का बच्चा स्वस्थ और तेज दिमाग हो उसके लिए महिलाओं को प्रेगनेंसी काल के दौरान खुश रहना चाहिए. 

अगर बुद्धिमान बच्चा चाहिए तो कुछ कामों से बचें और कुछ भोज्य पदार्थ नहीं खाएं | Pregnancy tips for intelligent child

अधिक मेहनत से बचें

अपनी शारीरिक क्षमताओं से अधिक कार्य करने से बचना चाहिए. महिला को अपनी एनर्जी बचाकर रखनी चाहिए. थकान होने पर तुरंत आराम करना चाहिए. क्योंकि एनर्जी बच्चे के विकास के लिए भी चाहिए होती है. मस्तिष्क कमजोर रह सकता है.

प्रदूषित वातावरण में नहीं जाए

हो सके तो गर्भवती महिलाओं को ऐसे वातावरण में नहीं रहना चाहिए जहां पर पोलूशन बहुत ज्यादा होता है. महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान शांत और स्वच्छ वातावरण में रहना चाहिए . हानिकारक तत्वों महिला के शरीर में पहुंचकर बच्चे के विकास को रोकते हैं. मस्तिष्क का समुचित विकास नहीं हो पाता.

ऊंचे स्थान पर नहीं जाए, चढ़ने से बचें

ऐसा कोई भी कार्य नहीं करें जिससे महिला का शारीरिक बैलेंस खराब हो सकता है. जैसे कि ऊंचे स्थानों पर चढ़ना ऊंची एड़ी वाली सैंडल पहनना इत्यादि. अगर गलती से महिला को कोई आघात की लग जाता है, तो बच्चे के लिए यह बहुत हानिकारक हो सकता है.

मांसपेशियों पर प्रेशर नहीं दे

महिला को ऐसा कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए जिससे कि पेट की मांसपेशियों में तनाव आएं , यह तनाव गर्भस्थ शिशु को शारीरिक चोट पहुंचाता है. सिर पर चोट लगने से मस्तिष्क का विकास रुक सकता है.

व्यायाम प्रशिक्षक के देखरेख में ही करें

प्रेगनेंसी के दौरान आवश्यक व्यायाम किसी ट्रेनर के सानिध्य में ही करें. अपने आप एक्सपर्ट बनने की कोशिश नुकसानदायक हो सकती है.

अपने आप कोई दवाई नहीं ले

किसी भी प्रकार की छोटी मोटी बीमारी में जिसमें आज तक आप अपने आप दवाइयां ले लेती थी, बिल्कुल भी नहीं लेनी.  कौन सी दवाई बच्चे के दिमाग को नुकसान पहुंचा दें नहीं पता है.

हर वस्तु संयमित मात्रा में खाएं

जो भी खाद्य पदार्थ बच्चे के मस्तिष्क विकास के लिए जाने जाते हैं प्रेगनेंसी के दौरान का अत्यधिक सेवन नहीं करता हर चीज संयमित मात्रा में और आवश्यक मात्रा में ही लेनी अन्यथा किसी भी खाद्य पदार्थ की अधिकता या पोषक तत्व की अधिकता नुकसानदायक भी होती है.

अंडा सुपर फूड है

प्रेगनेंसी के दौरान भोजन में भी बहुत सावधानी रखने की आवश्यकता होती है. जहां बहुत सारे खाद्य पदार्थ मस्तिष्क के विकास में सहायता करते हैं. वही कुछ गलत तरीके से खाद्य पदार्थ लेने से नुकसान भी हो सकता है.

अंडा बच्चे के मस्तिष्क विकास में बहुत ज्यादा सहायक होता है, लेकिन अगर अंडा कच्चा खाया जाए, तो उसके अंदर बैक्टीरिया होने का खतरा होता है, तो नुकसान हो जाता है. इसलिए अच्छी तरह से उबालकर ही अंडा खाए.

सब्जियों को बहुत अच्छी तरह से धोएं

सब्जियों को बनाने से पहले उन्हें अच्छी तरह से साफ करना आवश्यक है. क्योंकि सब्जियों को उगाने में बहुत सारे केमिकल्स का प्रयोग किया जाता है. यह केमिकल गर्भस्थ शिशु के मस्तिष्क विकास में बाधक हो सकते हैं.

दूध को भोजन में शामिल करें

दूध भी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो मस्तिष्क विकास में काफी मददगार होता है. दूध से बनी दूसरी चीजें जैसे कि सही चीज पनीर यह भी खाना आवश्यक बताया जाता है, लेकिन यह सब चीजें दूध को पहले एक बार अच्छी तरह उबाल कर ठंडा करने के बाद ही बनानी चाहिए इससे दूध के अंदर किसी भी प्रकार के बैक्टीरिया होने की संभावना समाप्त हो जाती है.

मछली सुपर फूड है

मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो मस्तिष्क विकास के लिए जरूरी तत्व है, लेकिन कुछ मछलियों में मरकरी भी पाया जाता है, जो बच्चे के मस्तिष्क के लिए जहर का काम करता है. इसलिए मछलियों को खाने में भी सावधानी रखने की आवश्यकता है.

कैफ़ीन भोजन में नहीं ले

कैफ़ीन मस्तिष्क के लिए नुकसानदायक होता है. इसलिए महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान चाय नहीं पीनी चाहिए, कॉफी नहीं पीनी चाहिए और चॉकलेट का भी प्रयोग नहीं करना चाहिए.

धूम्रपान, शराब से बचें

गर्भवती महिलाओं को धूम्रपान से बचना चाहिए. शराब का सेवन भी काफी नुकसानदायक होता है. यह बच्चे के मस्तिष्क में बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाती है.
घर पर ही फलों का जूस निकालने और उसका प्रयोग करें.

भोजन चुनते समय सावधानी

बाजार में मिलने वाले कोल्ड ड्रिंक, सोडा ड्रिंक्स का प्रयोग प्रेगनेंसी के दौरान बिलकुल छोड़ दें. महिलाओं को फास्ट फूड का सेवन बिलकुल नहीं करना है. महिलाओं को चटपटा चाट, पकोड़े, समोसे, पास्ता, चौमिन जैसे स्ट्रीट फूड खाने से बचना है. आइसक्रीम का प्रयोग ना के बराबर ही करें.

पपीता खाना बताया जाता है लेकिन कच्चापपीता खाना बहुत नुकसानदायक है बहुत गर्म होता है इसलिए अच्छी तरह से पका हुआ पपीता ही खाए और डाल का पका पपीता खाएं.

आपको कोई सा ऐसा फल प्रेगनेंसी के दौरान खाने से बचना है जिसको कृत्रिम रूप से पकाया जाता है.

No comments

Powered by Blogger.