इन 5 लक्षणों से पता चलता है डिलीवरी होने वाली है | 5 Sign about delivery

 जैसे-जैसे 40 weeks का समय नजदीक आता जाता है, बच्चे की डिलीवरी का समय आने लगता है, वैसे वैसे महिलाओं की चिंता भी बढ़ने लगती है. आने वाले डिलीवरी पेन को लेकर महिलाओं के दिल में अजीब सी घबराहट होने लगती है. 

खैर महिलाओं को इस दर्द से तो गुजर ना ही होगा, लेकिन उससे भी ज्यादा जरूरी बात यह है, कि वह समय पर यह कैसे पता लगा पाई की बच्चेदानी का मुंह खुल रहा है. 

उन्हें अब डॉक्टर से कंसल्ट करने की आवश्यकता है, या अब डिलीवरी का समय नजदीक आ गया है. अगर वह इस बात का पता लगा लेती है, तो डिलीवरी की तैयारी समय रहते बड़ी आसानी से हो जाती है.


प्रेगनेंसी के अंतिम महीने में महिलाओं को डॉक्टर कुछ जल्दी-जल्दी बुलाते हैं. उसका रीजन यही है कि साढे 7 महीने से लेकर आगे कभी भी महिला की डिलीवरी का समय आ सकता है. 

हालांकि कभी-कभी यह 40 हफ्तों से ऊपर का समय भी हो जाता है. फिर उसके बाद डिलीवरी कराने के उपाय करने होते हैं, लेकिन यह बहुत कम, कुछ ही महिलाओं के साथ होता है. 


अगर आप डॉक्टर से यह जानना चाहे, की उनके बच्चेदानी का मुंह खुल रहा है, या कब खुलेगा तो वह आप से ही कुछ प्रश्न करते हैं, और उसी के आधार पर आपसे आपको इस बात का जवाब देते हैं. 

अगर इन बातों का ज्ञान आपको भी हो तो आप भी बड़ी आसानी से घर पर ही इस बात का पता लगा सकती हैं, कि आपके बच्चेदानी का मुंह खुल रहा है, और डिलीवरी का समय नजदीक आ रहा है. 


डॉक्टर आपके पेट की माप लेकर या फिर मशीनों के द्वारा इस इस बात की जानकारी आपको दे सकते हैं कि आपकी बच्चेदानी का मुंह खुल रहा है, या खुलने वाला है, या कब तक खुलेगा. इसका आईडिया दे सकते हैं.  

अगर आप इस बात की जानकारी के लिए बार-बार डॉक्टर के पास जाते हैं तो आपका समय और पैसा दोनों खराब होते हैं. 


कुछ लक्षण होते हैं जिन्हें जानकर आप बड़ी आसानी से पता लगा सकते हैं कि आपके बच्चेदानी का मुंह खुलने वाला है.


दोस्तों हम आपको बता दें कि आपको कई जगह इस प्रकार की जानकारी मिलेगी कि 38 से 40 हफ्ते के बीच में बच्चेदानी का मुंह खुलने लगता है, तो अधिकतर मामलों में ऐसा हो सकता है. लेकिन सभी के साथ ऐसा नहीं होता है बच्चे 7 महीने से लेकर 9 महीने के बाद तक पैदा होते रहते हैं, तो ऐसे में यह बात अपने आप गलत सिद्ध हो जाती हैं. 


यह महिला के अपने शरीर पर पूर्ण रूप से निर्भर करता है, और बच्चे के विकास पर ही निर्भर करता है.


फ्रेंड्स डिलीवरी के चार-पांच दिन पहले से बच्चेदानी का मुंह धीरे-धीरे खुलने लगता है.. इसके लिए आपको कुछ लक्षण नजर आ सकते हैं. जिन्हें आप को ध्यान रखना होगा.

जब महिला की बॉडी तैयार हो जाती है, तो वह अपने आप काफी सारे संकेत देने लगती है. बस आपको उन संकेतों को समझना आना चाहिए.

जल्दी जल्दी पेशाब जाने की इच्छा

प्रेगनेंसी के अंतिम समय में जब बच्चा धीरे-धीरे नीचे आने लगता है, और बच्चेदानी का मुंह खुलने लगता है. वह मूत्राशय पर दबाव देने लगता है.

इस कारण से महिला को अचानक से बार बार पेशाब जाने की इच्छा होने लगती है. बार बार पेशाब जाने की इच्छा थोड़ा जल्दी जल्दी होने लगती है. आप इस बात को समझ जाएंगे तो समझ लीजिए कि अब बच्चे दानी का मुंह खुलने लगा.

इन 5 लक्षणों से पता चलता है डिलीवरी होने वाली है | 5 Sign about delivery

 

बच्चा जमीन पर गिरने का एहसास

आपको अचानक से यह लगने लगेगा कि आप अगर तेज तेज चलती है, तो तो कहीं ऐसा ना हो कि आपका बच्चा गिर जाए, क्योंकि बच्चा काफी नीचे आ जाता है, आपको इस प्रकार का एहसास अपने आप हो सकता है. इसे ध्यान में रखें. आप अपने आप काफी संभलकर चलने लगेंगे.

पेट के निचले हिस्से में दर्द या ऐठन

जैसे-जैसे बच्चेदानी का मुंह खुलना शुरू होता है. वैसे वैसे शिशु धीरे-धीरे नीचे की ओर से रखने लगता है.  पेट के निचले हिस्से में आपको ऐठन याद दर्द की समस्या होने लगती है. इस पर ध्यान दें. 

 


वाइट डिस्चार्ज ज्यादा

अगर आपको लगे कि वाइट डिस्चार्ज ज्यादा हो रहा है, तो समझ जाइए कि डिलीवरी का समय आ गया है, और आपको उसके तैयारी शुरू कर देनी चाहिए.

थैली का फट जाना

इसका सबसे अंतिम लक्षण यही है कि बच्चा जिस थैली में होता है वह फट जाती है, और एक पेशाब जैसी धार आपको महसूस होगी समझ जाइए कि डिलीवरी होने वाली है.


 लेकिन हम आपको यहां एक बात बता दें कि इस स्थिति के आने से पहले ही अगर आप डॉक्टर के यहां पहुंच जाए तो ज्यादा अच्छा है. ऊपर बताए गए लक्ष्यों पर गौर करें तो यह स्थिति आने से पहले आप डॉक्टर के पास पहुंच जाएंगे. 

अगर आपको कुछ भी लक्षण महसूस नहीं हो रहा है, जैसा कि किसी महिला को नहीं भी होता है, या वह नहीं समझ पाते हैं, तो ऐसी स्थिति में उन्हें डॉक्टर के संपर्क में रहना चाहिए.

Post a Comment

Previous Post Next Post

India's Best Deal