नाभि में तेल के फायदे – 5 Benefits

0
399

गर्भवती महिलाओं को नाभि में तेल के फायदे कौन-कौन से होते हैं.

असल में प्रेगनेंसी के समय महिलाओं का इम्यून सिस्टम थोड़ा सा कमजोर हो जाता है, तो छोटी-मोटी समस्याएं काफी ज्यादा नजर आने लगती है, साथ ही साथ महिलाओं के शरीर में प्रेगनेंसी के लिए बहुत सारे हार्मोन का उत्पादन होने लगता है.

इन हारमोंस के कारण भी, इनके साइड इफेक्ट की वजह से काफी सारी स्वास्थ्य संबंधी छोटी-छोटी समस्याएं महिलाओं को नजर आने लगती है.

ऐसे में वह कौन-कौन सी समस्याएं हैं, जिनका समाधान महिला मात्र नाभि में तेल लगाकर प्राप्त कर सकती है.

क्योंकि प्रेगनेंसी में मेडिसन बहुत सोच समझकर लेनी पड़ती है, क्योंकि अधिकतर दवाइयां गर्भस्थ शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है. तो आइए चर्चा करते हैं, प्रेगनेंसी में नाभि में तेल लगाने से कौन-कौन से फायदे होते हैं.

मनुष्य की नाभि ऊर्जा का एक केंद्र मानी जाती है. अगर इस पर तेल थेरेपी की जाए तो काफी सारी समस्याओं में राहत मिलती है. प्रेग्नेंसी के समय कई बार ऐसा भी देखने में आता है, कि महिला को नाभि के आसपास के क्षेत्र में हल्का फुल्का दर्द भी महसूस होता है, लेकिन यह प्रेगनेंसी के दौरान होना सामान्य ही माना जाता है.

नाभि में तेल के फायदे

नाभि में तेल के फायदे मात्र गर्भवती महिला ही नहीं मिलते हैं बल्कि हर एक व्यक्ति को इसके फायदे मिलते हैं. लेकिन हम प्रेगनेंसी से संबंधित फायदों पर चर्चा करेंगे.

नाभि में तेल के फायदे

इंफेक्शन से बचाव

हमारी नाभि का जुड़ाव हमारे पेट से होता है. इसके माध्यम से हमारे शरीर में बैक्टीरिया प्रवेश कर सकते हैं . अगर आप लगातार नाभि में तेल लगाते हैं, तो यहां गंदगी जमा नहीं हो पाती है, गर्भवती महिला और गर्भस्थ शिशु कई प्रकार के इंफेक्शन से बच जाते हैं.

दर्द में राहत

नाभि में तेल लगाने से प्रेग्नेंसी के समय होने वाले कई प्रकार के दर्द जैसे कि पेट दर्द, जोड़ों में दर्द, पैरों में दर्द आदि की समस्या में बहुत हद तक सफलता मिलती है. महिला को रोजाना अपनी नाभि में तीन से चार बूंद सरसों का तेल लगाना चाहिए. इससे दर्द यही समस्या में बिना दवाई खाए राहत मिलती है.

पाचन संबंधी समस्याओं में लाभ

प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला की पाचन क्रिया धीमी पड़ जाती है. जिसके कारण कब्ज़, एसिडिटी, अपच जैसी परेशानियां महिला को हो सकती है.
ऐसे में नाभि में तेल डालना प्रेग्नेंट महिला के लिए बहुत फायदेमंद होता है. क्योंकि नाभि में तेल डालने से प्रेग्नेंट महिला की पाचन क्रिया को बेहतर तरीके से काम करने में मदद मिलती है. जिससे प्रेग्नेंट महिला को इन सभी परेशानियों से निजात पाने में मदद मिलती है.

ऊर्जा का संचार

नाभि को हमारी ऊर्जा का एक केंद्र माना जाता है नाभि शरीर की बहुत सी प्रक्रियाओं को बेहतर ढंग से करने में हमारी काफी मदद करती है इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को नाभि में तेल लगाने की सलाह दी जाती है.
इससे नाभि को भी पोषण मिलता है. गर्भवती महिला को भरपूर ऊर्जा प्राप्त करने में यह मदद करती है. और शरीर की सभी प्रकार की गतिविधियों में मदद होती है.

त्वचा संबंधी फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को लगभग 12 प्रकार की त्वचा संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. ऐसे में अगर महिला अपनी नाभि में रोजाना तेल लगाती है, तो इससे महिला की स्किन को भी पोषण मिलता है. स्किन की कोमलता बरकरार रखने में काफी मदद मिलती है. साथ ही साथ जैसे की —
होंठ फट गए हैं मदद मिलती है
बाल झड़ने की समस्या में भी मदद मिलती है

इसलिए महिलाओं को अपनी नाभि में तेल अवश्य लगाना चाहिए. क्योंकि यह एक ऐसा कार्य है जो प्राकृतिक है किसी भी प्रकार की मेडिसन की आवश्यकता नहीं पड़ती है.

नाभि में तेल लगाने का तरीका

किसी भी प्रकार का परहेज रखने की आवश्यकता नहीं है. बस आपको 24 घंटे में एक, दो बार दो से तीन बूंद अपनी नाभि में तेल लगाना है, और कई प्रकार के समस्याओं से आपको राहत नजर आएगी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें