बेबी हेयर केयर के 9 टिप्स

0
16

 जब आपका बच्चा पैदा होता है तो उसके सिर पर या तो बहुत सारे बाल होते हैं, या वह बहुत कम बालों के साथ पैदा हो सकता है, अगर आपके बच्चे के बाल कम है तो घबराने की आवश्यकता नहीं है. समय के साथ-साथ बच्चे के सिर पर बाल उग आते हैं.

बस आपको छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना है, ताकि बच्चे के सिर के बाल उगने में अच्छा वातावरण उपलब्ध हो सके.

छोटे बच्चों की सिर की स्किन और बालों की देखभाल से संबंधित कुछ आवश्यक टिप्स …

  • छोटे बच्चों के सिर में हमेशा मुलायम हाथों से और धीरे-धीरे कंघी अवश्य करनी चाहिए. इससे सिर के अंदर उपस्थित रोम छिद्रों में नई जान आती है, और सिर की त्वचा पर जमी गंदगी को भी साफ करने में मदद मिलती है. दिन में बार-बार कंघी करने की आवश्यकता नहीं है. एक से दो बार तक कंघी करना ही आवश्यक होता है.
  • अगर आपके बच्चे की के सिर पर बाल नहीं है, वह गंजा है या आपने उसे गंजा कराया हुआ है तो उसके सिर पर मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल जरूर करें. इससे सिर की त्वचा को नमी मिलती रहेगी.  वह नरम और मुलायम बना रहेगा और सूखा पर नहीं रहेगा. क्योंकि सूखापन रहने से खुश्की अर्थात रूसी होने की संभावना रहती है.
  • बच्चे के बालों का कमजोर होना और टूटना इसका मुख्य कारण बालों में गंदगी और पसीने का होना होता है. इसके लिए आप दो-तीन दिन छोड़कर बच्चे के सिर पर बेबी शैंपू कर सकती है. रोजाना शैंपू करने की आवश्यकता नहीं है, और साथ ही साथ बेबी आयल से बच्चे की सिर की मालिश करें.
  • बच्चे की सिर की मालिश करने के काफी सारे फायदे होते हैं. इससे बच्चे के बालों की जड़ों में ब्लड सरकुलेशन को बढ़ावा मिलता है. इस वजह से बच्चे को नींद भी अच्छी आती है. साथी साथ स्कैल्प को नमी भी मिलती है, और जैसा हमने अभी पहले बताया है कि डैंड्रफ से भी राहत मिलती है. खुश्की नहीं होती है. इसके लिए आप प्राकृतिक तेलों का इस्तेमाल करें तो यह सही रहता है.
  • यह समस्या सभी बच्चों में देखने में नहीं आती है. इसमें क्या होता है कि सिर की त्वचा को नमी देने वाला एक तत्व होता है. जिसे हम सीबम कहते हैं. यह तैलीय पदार्थ है. जब यह बच्चे के शरीर में थोड़ा अधिक मात्रा में बनने लगता है. तो यह सर पर एक सफेद या पीले रंग की परत के रूप में नजर आने लगता है.  आमतौर पर यह 8 से 12 महीने की उम्र के बीच ठीक हो जाता है. सिर की त्वचा को नियमित रूप से साफ करना और कंघी करना, इसका सबसे अच्छा इलाज है. इस दौरान सिर की त्वचा पर टेलकम पाउडर के इस्तेमाल से बचें.
  • बच्चों के बालों के विकास के लिए बालों को ट्रिम करना अत्यधिक आवश्यक है. इससे दो मुंह बाल समाप्त हो जाता है, और बच्चों के बाल अच्छे ढंग से विरोध करते हैं.
  • बच्चे के बालों की देखभाल करने का एक शॉर्टकट तरीका होता है, बालों पूरी तरह से काट देना. अगर आप एक वर्किंग मदर है, और आपके लिए हर एक पल मायने रखता है, तो यह आपके लिए समय बचाने का एक अच्छा तरीका हो सकता है.
  • बच्चों के लिए बाजार का प्रोडक्ट चुनते समय विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होती है. कभी भी वयस्क व्यक्तियों की त्वचा वाले प्रोडक्ट बच्चों के लिए प्रयोग में नहीं लाने चाहिए क्योंकि बच्चे की त्वचा अत्यधिक सेंसिटिव होती है उसके लिए अलग से प्रोडक्ट आते हैं इस बात का विशेष ध्यान रखें.
  • बच्चों के बाल जितने अधिक लंबे होंगे उनकी उतनी ही अधिक देखभाल करने की आवश्यकता होती है. ऐसे में बच्चे के बालों को लगातार काटते रहना चाहिए. जिससे कि बाल छोटे रहे और उनकी देखभाल करने में भी आसानी हो.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें