Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

रविवार, 8 सितंबर 2019

वर्षा ऋतु में गर्भ की देखभाल कैसे करें

गर्भावस्था का मतलब अतिरिक्त सावधानी और सुरक्षा कहा जाता हैं. दोस्तों वर्षा ऋतु में एक गर्भवती महिलाओं को क्या क्या ध्यान रखना चाहिए ताकि उसे असहज महसूस ना हो . दोस्तों इसी विषय पर आज हम अपने इस POST में बात करने वाले हैं

baby care during rainy season, monsoon baby care tips, Monsoon Care Pregnancy Tips

You May Also Like : स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने के लिए ट्राई करें ये 3 घरेलू नुस्खे

आप ढीले ढाले कपड़े पहन रहे हैं यह सुनिश्चित करें. हमेशा आपको जो फिट हो रहा है, उसकी तुलना में एक आकार बड़े कपडे पहने. क्योंकि बारिश के पानी से कपड़े आपके शरीर को चिपकते हैं. यह भ्रूण और माँ दोनो के लिए जोखिम भरा है. भ्रूण की अवस्था  माँ के शरीर में तापमान के उतार - चढ़ाव के लिए अत्यंत संवेदनशील होती हैं. इसके अलावा, हमेशा सूती कपड़े पहने. पॉलिएस्टर और सिंथेटिक कपड़ों से बचे, क्योंकि इन कपडों से रॅशेस और पसीने का संचय हो सकता हैं. अपने आप को पुरा सूखा करे और बाद में अपने आप को गर्म रखना याद रखे.

You May Also Like : समय पर पीरियड्स ना होना है बहुत नुकसानदायक

नंगे पैर बाहर ना जाए. आरामदायक जूते पहने और रबरी तलवों के जूते से बचे, क्योंकि वे पानी में अधिक फिसलते हैं.
You May Also Like : गर्मियों में कैसे रखें गर्भावस्था का ख्याल

अगर जरूरत हो तो अपने हाथों और पैरों को और अधिक बार धोए. वर्षा जल में आमतौर पर गटर का पानी और गंदगी मिश्रित हो सकती है और अगर ठीक से धोया ना जाये तो उससे संक्रमण हो सकता हैं. सबसे अधिक होने वाले संक्रमण में नेत्रश्लेष्मलाशोथ, बुखार या वायरल बुखार हैं.
You May Also Like : ये चीज़े प्रेग्नेंट महिला के घर या कमरे में नहीं होनी चाहिए

बहुत पानी पीना चाहिए और सड़क के किनारे मिलने वाले खाद्यपदार्थो को नहीं खाना चाहिए. इसके कारण मतली, सिर दर्द, और डायरिया होता हैं. इसके बजाय, नारियल पानी या  घर का बना नींबू पानी पीने की कोशिश करे. और दही भी एक अच्छा विकल्प है जो कि खट्टी नहीं होनी चाहिए ताजी होनी चाहिए.
You May Also Like : प्रेग्नेंसी के समय महिला का कमरा कैसा हो जानिए - 7 #2

बरसात में बहुत मच्छर होते हैं आप को मच्छरों से सावधान रहना इसके लिए आपके घर के दरवाजों और खिड़कियों पर जालियां होनी चाहिए कोशिश करें मॉस्किटो रिपेलंट न  लगाए. यह आपके और आपके गर्भस्थ बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है
You May Also Like : प्रेग्नेंट न हो पाना एक कारण आप का भोजन


baby care tips, pregnant women care tips in rainy season


गर्भवती महिलाओं के लिए नीम के पानी में नहाना वर्षाऋतू में सबसे अच्छी देखभाल साबित हो सकती है. इसको घर पर तैयार किया जा सकता है . एक बर्तन में एक मुट्ठी भर नीम की पत्तियों को 15-20 मिनट के लिए उबाल लें. इसको एक घंटे तक थंडा होने दें. इस पानी से दिन में एक बार दैनिक स्नान कीटाणुओं और जीवाणुओं से लड़ने में बडी मदद करता हैं.
You May Also Like : गर्भावस्था में मुंहासों के क्या कारण है और प्राकृतिक तरीकों से कैसे मुहांसों से बचा जाए


बाहर जाते वक्त हमेशा अपना रेनकोट और छाता साथ ले और घर से निकलते वक्त अपने साथ कुछ एक्स्ट्रा पैसा भी रखे ताकि विषम परिस्थितियों में आप सुरक्षित घर आ सके.
You May Also Like : प्रेगनेंसी में आयरन और कैल्शियम की गोलियां साथ न लें

खुले तारों और बिजली के उपकरण जो आपको जोखिमदायक लगते हैं, के निकट कभी ना जाए.

बाहर निकलने से पहले हमेशा अपने परिवार को सूचित करना याद रखे!

देखभाल के हर पल के साथ वर्षाऋतु का आनंद लें!

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें