Pregnancy & Care

Everything about Pregnancy and after care.

शनिवार, 18 मई 2019

प्रेगनेंसी में अंगूर फायदेमंद या खतरा



नमस्कार दोस्तो आज केस Post के माध्यम से हम चर्चा करने वाले हैं कि प्रेगनेंसी के समय अंगूर खाने चाहिए दोस्तों यह मौसम अंगूरों का मौसम है इस वक्त बाजार में बहुत बड़ी मात्रा में फलों के रूप में अंगूर उपलब्ध है यह बहुत टेस्टी फल है और स्वास्थ्य की दृष्टि कौन से अच्छा भी माना जाता है.

गर्भावस्था में अंगूर के फायदे
अक्सर देखा गया है कि गर्भवती महिला को कब्ज की समस्या और उनके मुंह का स्वाद खराब रहता है ऐसे में अंगूर का स्वाद उन्हें काफी पसंद आ सकता है.
कई बार सुनने में आता है कि प्रेगनेंसी में अंगूर नहीं खाना चाहिए और कई बार यह भी सुनने में आता है कि प्रेगनेंसी में अंगूर खाना फायदेमंद होता है .
You May Also Like : भ्रूण में धड़कन होते हुए भी कभी-कभी क्यों नहीं सुनाई पड़ती है
You May Also Like : प्रेगनेंसी में गन्ने का जूस पीना लाभदायक या नुकसानदायक

हम चर्चा करने वाले हैं कि ---
अंगूर खाना चाहिए कि नहीं खाना चाहिए
खाना चाहिए तो कितनी मात्रा में खाना चाहिए
कौन सा अंगूर खाना चाहिए
इस पर चर्चा करते हैं


प्रेगनेंसी में अंगूर खाना चाहिए


प्रेगनेंसी एक बड़ा ही नाजुक समय होता है ऐसे समय में जो भी चीज खाने को मना की जाती है तो सबसे पहला फर्स्ट तो यह है कि अगर हम उसके बारे में नहीं जानते हैं तो उसे खाना बंद कर देना चाहिए, फिर उसके बारे में जानिए जब आप संतुष्ट हूं आपसे खा सकते हैं.
ऐसा ही अंगूर भी एक ऐसा फल है जिसके बारे में दोनों बातें कही जाती है.

हम आपको अंगूर के बारे में सभी फैक्ट बताने की कोशिश कर रहे हैं जिसे आप समझ कर इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं की आपको प्रेगनेंसी के दौरान अंगूर खाने चाहिए कि नहीं खाने चाहिए.
pregnancy me angur khane ke nuksan

दोस्तों अंगूर दो प्रकार का आता है खासकर भारतीय बाजार के अंदर एक हरे रंग का और एक ब्लैक कलर में प्रेगनेंसी के दौरान पका हुआ अंगूर ही खाना चाहिए खट्टा अंगूर नहीं खाना चाहिए और जो हरे रंग का अंगूर होता है पका हुआ अंगूर, वह प्रेगनेंसी में ना के बराबर ही नुकसान देता है जहां तक काले अंगूर की बात है तो वह थोड़ा अधिक मात्रा में खाने पर प्रेगनेंसी में नुकसान देता है.

इसलिए आपको दोनों तरह की बातें सुनने को मिल सकती है अंगूर फायदा देता है वह नुकसान देता है.

You May Also Like : गर्मियों में कैसे रखें गर्भावस्था का ख्याल
You May Also Like : बिना प्रेगनेंसी के भी मिस होते हैं पीरियड Part 1

Grapes beneficial or threatened in pregnancy



माना जाता है जो काला अंगूर होता है उसका जो छिलका है वह आसानी से नहीं पचता है उसे पचने में काफी सारी एनर्जी शरीर को लगानी पड़ती है और प्रेग्नेंसी के समय एनर्जी की ज्यादा आवश्यकता महिला को पड़ती है क्योंकि उसकी कुछ ताकत बच्चे के पालन पोषण में भी खर्च होती है तो ऐसे में ऐसी चीज को बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए जो पचने में मुश्किल हो, दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है.

अंगूर के साथ एक परेशानी है अंगूर का गुच्छा जब पकता है, एक साथ नहीं पकता है उसमें से कुछ अंगूर पहले पक जाएंगे और कुछ धीरे धीरे बाद में पकते हैं और अंगूर बाजार से गुच्छे में ही मिलते हैं ऐसी स्थिति में उसके अंदर कुछ अंगूर कच्चे और कुछ अंगूर पके हुए होते हैं.

ऐसा नहीं कि यह केवल अंगूर के साथ ही होता है सभी फल ऐसे ही पकते हैं कुछ पहले कुछ बाद में लेकिन अंगूर गुच्छे में आता है इस वजह से प्रॉब्लम है.

angur khana chaheye ya nahi

अंगूर काफी अम्‍लीय होते हैं और खासकर तब जब वे बहुत ज्‍यादा खट्टे हों। गर्भवती महिलाओं को अक्‍सर हार्टबर्न होने की समस्‍या रहती ही है इसलिये अगर वे ज्‍यादा अंगूर का सेवन करेंगी तो उन्‍हें एसिडिटी बनने के ज्‍यादा चांस बढ जाते हैं। इससे आपको चक्‍कर और उल्‍टी भी हो सकती है.
खट्टे अंगूर खाने की वजह से यह हो सकता है जो कि पके हुए अंगूरों के साथ ही गुच्छे में होते हैं.
You May Also Like : प्रेग्नेंट न हो पाना एक कारण आप का भोजन
अंगूर एक गर्म फल माना जाता है क्योंकि यह अम्लीय नेचर का होता है खासकर जब वह आधा कच्चा या कच्चा हो, परेशानी यह है कि गुच्छे में आपको सभी तरह के अंगूर मिलते हैं, अगर आपने थोड़े से भी ज्यादा अंगूर खा लिए तो इस कारण आपको पेट में गर्माहट हो सकती है डायरिया की शिकायत नजर आ सकती है.
greps is healthy or not

You May Also Like : मनचाही संतान प्राप्ति का सही टाइम ये है
You May Also Like : स्तन के आकार से जाने गर्भ में लड़का है या लड़की

अधिक विकट परिस्थिति में बच्चा समय से पहले भी पैदा हो सकता है क्योंकि यह संकुचन की स्थिति बना देते हैं तो इसलिए कहा जाता है कि अंगूर आखरी 3 महीनों में तो बिल्कुल भी नहीं खाने चाहिए पके हुए अंगूर थोड़ी मात्रा में खा सकते हैं लेकिन कच्चे और पके अंगूर में खास फर्क नहीं पता चलता है इस वजह से नहीं खाओ ज्यादा अच्छा है.

प्रेगनेंसी शुरू के 3 महीनों में भी थोड़ा कमजोर होती है तब भी अंगूर के सेवन से बचना चाहिए खासकर काले अंगूर से और कच्चे अंगूर से.
अंगूर के अंदर एक तत्व पाया जाता है या कह सकते हैं कंपाउंड होता है जिसे रेसर्विट्रॉल कहते हैं, यह कंपाउंड प्रेगनेंसी के लिए रिस्पांसिबल या उसके लिए कार्य करने वाले हारमोंस के साथ रिएक्शन कर उसे एंगेज कर लेता है इससे हार्मोन की कमी शरीर के अंदर हो सकती है जो प्रेगनेंसी में ठीक नहीं.

pregnancy food idea

तो हम निष्कर्ष यह निकालते हैं कि 1 दिन में पके हुए हरे रंग के अंगूर मुंह के स्वाद को बदलने के लिए 8 10 पीस खाए जा सकते हैं कोई नुकसान नहीं होगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें